गुजरात: भूपेंद्र पटेल की नितिन पटेल से मुलाकात, नितिन ने कहा वह पार्टी के निर्णय से नाखुश नहीं

गुजरात: भूपेंद्र पटेल की नितिन पटेल से मुलाकात, नितिन ने कहा वह पार्टी के निर्णय से नाखुश नहीं

गुजरात: भूपेंद्र पटेल की नितिन पटेल से मुलाकात, नितिन ने कहा वह पार्टी के निर्णय से नाखुश नहीं

अहमदाबाद: गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने सोमवार को कहा कि वह भूपेंद्र पटेल को राज्य के अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुनने के भाजपा के फैसले से नाखुश नहीं हैं. भूपेंद्र पटेल ने उनसे यहां उनके आवास पर सुबह मुलाकात की. एक अधिकारी ने बताया कि पहली बार विधायक निर्वाचित हुए भूपेंद्र पटेल (59) सोमवार अपराह्न 2.20 बजे राज्य के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे.

भूपेंद्र पटेल के अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुने जाने से नाखुश होने की अटकलों के बीच, नितिन पटेल ने रविवार को अपने गृह क्षेत्र मेहसाणा में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं और कोई भी उन्हें बाहर नहीं निकाल सकता क्योंकि वह लोगों के दिल में रहते हैं. नितिन पटेल को 2016 में भी मुख्यमंत्री पद की पहली पसंद के तौर पर देखा जा रहा था लेकिन बाद में उन्हें उप मुख्यमंत्री पद की पेशकश की गई थी. इस बार भी पार्टी द्वारा भूपेंद्र पटेल को मौका दिये जाने से पहले नितिन पटेल को इस पद के लिए एक शीर्ष दावेदार के रूप में देखा जा रहा था.

सोमवार को जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि क्या वह भूपेंद्र पटेल को अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुनने के पार्टी के फैसले से नाराज हैं, तो पटेल ने कहा कि बिल्कुल नहीं. यह सब आपकी (मीडिया की) अटकलें हैं. आप (मीडिया) यह (कहते रहते हैं) क्योंकि यह आपका पेशा है. भाजपा नेता ने कहा कि वह 18 साल की उम्र से जनसंघ के दिनों से पार्टी से जुड़े हैं और उन्होंने कहा कि वह पार्टी के साथ बने रहेंगे.

नितिन पटेल ने कहा कि मुझे कोई पद मिले या न मिले, यह मेरे लिए कोई बड़ी बात नहीं है. लोगों का प्यार और सम्मान मायने रखता है. हम सभी भाई-बहन हैं. अगले मुख्यमंत्री के रूप में जो भी चुना गया है, वह हमारा अपना है और हम साथ काम करना जारी रखेंगे. भूपेंद्र पटेल ने सोमवार सुबह उपमुख्यमंत्री से उनके आवास पर मुलाकात की. बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए नितिन पटेल ने कहा कि भूपेंद्र पटेल और वह दोस्त हैं और उनके बीच पारिवारिक संबंध हैं. उन्होंने कहा कि वह भूपेंद्र पटेल को लंबे समय से जानते हैं और उन्होंने उनके विधानसभा क्षेत्र से जीतने के बाद घाटलोडिया (अहमदाबाद) में उनके विधायक कार्यालय का उद्घाटन भी किया था.

नितिन पटेल ने कहा कि पार्टी ने मुझे बड़े पद दिए हैं. पार्टी, अपने समुदाय, पार्टी कार्यकर्ताओं या गुजरात में किसी के लिए भी मुझसे जो कुछ भी आवश्यक है, मैं वह करने के लिए तैयार हूं. रविवार को, सत्तारूढ़ भाजपा द्वारा भूपेंद्र पटेल को गुजरात का नया मुख्यमंत्री चुने जाने के कुछ घंटे बाद, नितिन पटेल ने मेहसाणा शहर में एक समारोह के दौरान हल्के-फुल्के अंदाज में कहा था कि वह अकेले नहीं हैं जिसकी बस छूट गई, क्योंकि उसके जैसे "कई अन्य" भी हैं.

यह पूछे जाने पर कि क्या रविवार को दिए गए उनके बयान का मतलब है कि वह मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने से नाखुश हैं, उपमुख्यमंत्री ने सोमवार को कहा कि नेताओं को पहले लोगों के दिलों में जगह बनाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि कोई आदमी छोटे गांव का सरपंच हो या बड़ी शख्सियत हो, उसे समर्थन तभी मिलता है जब वह लोगों के दिलों में जगह पाता है. हम (चुनाव के लिए) विधायकों के लिए 182 टिकट और नगर पालिका में हजारों टिकट देते हैं। लेकिन सभी चुनाव नहीं जीतते. एक आदमी को महानता हासिल करने के लिए, पार्टी, पार्टी कार्यकर्ताओं और अपने क्षेत्र के लोगों के साथ संबंध की आवश्यकता होती है. मैंने जो कहा वह यह है कि एक आदमी तब तक बड़ा रहता है जब तक उसे लोगों के दिलों में जगह मिलती है.

मेहसाणा के विधायक ने कहा कि उन्होंने लोगों और पार्टी कार्यकर्ताओं के आशीर्वाद के कारण छह बार एक विधायक के तौर पर सेवा की. उन्होंने कहा कि उन सभी का कर्ज चुकाना हमारी संस्कृति है जो हमारा समर्थन करते हैं। मैंने यही कहा है. भाजपा की सराहना करते हुए नितिन पटेल ने कहा कि पार्टी ने उनके लिए जो किया है, वह शब्दों में बयां नहीं कर सकते हैं और मेरे दिल में ऐसा कोई दर्द नहीं है जैसा मीडिया ने अनुमान लगाया है. उन्होंने कहा कि हमने कई सांसदों, विधायकों को टिकट से वंचित किया है, हमने ऐसे फैसले लिए हैं, क्योंकि हर किसी को पद नहीं मिल सकता है. पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता के रूप में, पार्टी ने भविष्य के लिए जो फैसला किया है, मैं उसे स्वीकार करता हूं. मेरे कृत्य हजारों को (पार्टी के लिए समर्पण के बारे में) सिखाएंगे.

उन्होंने कहा कि पार्टी ने मुझे कई बार कैबिनेट में पद दिया है, मुझे उपमुख्यमंत्री बनाया है, मुझे वित्त और नर्मदा (विभागों) की महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां दी हैं. मुझे खुशी है कि मैंने केशुभाई पटेल, नरेंद्र मोदी, आनंदीबेन पटेल जैसे वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व वाली सरकारों में कैबिनेट मंत्री के रूप में काम किया है और मैं पार्टी के संसदीय बोर्ड का हिस्सा हूं. मुझे पार्टी से बहुत कुछ मिला है और मुझे टिप्पणी करने की कोई जरूरत नहीं है. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भूपेंद्र पटेल को शीर्ष पद के लिए उनके नाम की घोषणा के तुरंत बाद रविवार को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि उन्हें एक कार्यक्रम के लिए मेहसाणा जाना था, जहां सभा में लगभग 2,000 लोगों ने भूपेंद्र पटेल को बधाई दी. (भाषा) 

और पढ़ें