नेता प्रतिपक्ष कटारिया ने कहा- राज्य में कोरोना कुप्रबंधन के लिए कांग्रेस सरकार जिम्मेदार, बार-बार केंद्र पर दोषारोपण ना करे

नेता प्रतिपक्ष कटारिया ने कहा- राज्य में कोरोना कुप्रबंधन के लिए कांग्रेस सरकार जिम्मेदार, बार-बार केंद्र पर दोषारोपण ना करे

जयपुर: राजस्‍थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्‍द कटारिया ने अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि राज्य में कोरोना कुप्रबंधन के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार है. उन्होंने साथ ही ये भी कहा है कि अपनी कमियों के लिए राज्य सरकार द्वारा बात-बात पर लगातार केन्द्र सरकार पर दोषारोपण कर रही है जाे उचित नहीं है.

राज्य की व्यवस्था संभाले गहलोत सरकारः
जानकारी के अनुसार नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्‍द कटारिया ने कहा कि राज्य में कोरोना की जो स्थिति है और गांवों में जिस तरह से कोविड पैर पसार रहा है मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उनकी सरकार को पहले यहां की व्यवस्था संभालनी चाहिए. उन्होने कहा कि गांवों में पीएचसी और सीएचसी को आइसोलेशन सेंटर बनाए जाए. उन्होंने कांग्रेस सरकार से कहा कि बात-बात पर केंद्र पर आरोप लगाना ठीक नहीं है.

टीकाकरण के लिए पहले लिया पूरा क्रेडिट, जब बात 18 प्लस वालों की आई तो केन्द्र पर दोषारोपणः
गुलाबचन्‍द कटारिया ने कोविड वैक्सीनेशन को लेकर भी कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जब केंद्र ने 45 साल से ज्यादा के लिए टीकाकरण की व्यवस्था करवाई और उनकी ही वजह से प्रदेश में सर्वाधिक टीकाकरण हुए तो राज्य सरकार ने इसका पूरा क्रेडिट अपने ऊपर ले लिया, लेकिर जब 18 प्लस वालों की टीकाकरण की बारी आई तो वह केंद्र पर दोषारोपण कर रहे हैं. वहीं उन्होंने कहा कि राज्य ने पहले ही अपनी व्यवस्था नहीं की तो अब सरकार के मंत्री कानून व्यवस्था बिगड़ने की बात कर रहे हैं. 

भाजपा के तमाम लोग लगे हुए लोगों की मदद मेंः
गुलाबचन्‍द कटारिया ने कहा कि भाजपा के तमाम विधायक कोविड सेवा कार्यों में जुटे हुए हैं. उन्होंने कहा कि 90 प्रतिशत विधायक लोगों के बीच में जाकर व्यवस्थाएं संभाल रहे और मैं भी सुबह से शाम तक टेलीफोन के जरिये लोगों से जुड़ा हुआ हूं. उन्होंने कहा कि सभी लोग महामारी के इस समय लोगों के लिए यथासंभव मदद कार्यों में जुटे हुए हैं यहां तक की विधायकों ने अपनी एक महीने के तनख्वाह भी कोविड सेवा कार्यों के लिए दे दी है.

और पढ़ें