अलवर गैंगरेप मामले में नेता प्रतिपक्ष ने बोला कांग्रेस सरकार पर बड़ा हमला

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/12 12:39

उदयपुर। अलवर गैंगरेप मामले और प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था के मुद्धे पर नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया आज उदयपुर में मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला और नैतिकता के आधार पर सीएम से इस्तीफा देने की मांग की। 

अलवर गैंगरेप की घटना के बाद विपक्ष अब सरकार को पूरी तरह से घेरने के मूड़ में है और इस मुद्धे पर वो सरकार को बैक फूट पर करने की फिराक में हैं। इस को लेकर नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया आज अपने गृह क्षेत्र उदयपुर में पत्रकारों से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होने अलवर गैंगरेप को प्रदेश में लोकसभा चुनाव तक दबाए रखने पर सरकार पर जमकर निशाना साधा। 

कांग्रेस सरकार पर मामले को दबाने का आरोप
उन्होंने कहा कि इस तरह का कृत्य बिना किसी राजनैतिक दबाव के नहीं किया जा सकता है और कांग्रेस सरकार ने राजनीतिक नुकसान नहीं हो इसके लिए इस मामले को 6 मई तक दबाएं रखा। उन्होंने कहा कि सूबे के मुखिया के पास ही गृह मंत्रालय है। ऐसे में उन्हे नैतिकता के आधार पर अपना इस्तीफा दे देना चाहिए नहीं तो 23 मई को जनता खुद उनसे इस्तीफा ले लेंगी।

कांग्रेस सरकार में आपराधिक मामलों के आंकड़े पेश किए
कटारिया यही नहीं रूके उन्होंने मीडिया के सामने नई सरकार के कार्यकाल के दौरान बढ़े आपराधिक मामलों के आंकडे भी पेश किए। कटारिया ने आंकडे पेश करते हुए कहा कि डकैती, अपहरण, बलात्कार, नकबजनी महिला अत्याचार के मामले में  पिछले चार के मुकाबले बीते पांच महिनों में प्रदेश में 30 से 40 प्रतिशत की वृद्धि हुई जो प्रदेश की खस्ताहाल कानून व्यवस्था को बया कर रही है। 

मामले को दबाने के लिए पुलिस पर दबाव बनाया
कटारिया ने कहा कि इस दौरान सबसे अधिक अपराध तो सूबे के मुखिया के गृह क्षेत्र जोधपुर में बढ़ा है और दूसरे नम्बर पर राजधानी जयपुर है। इस दौरान कटारिया ने कहा कि सीएम ने अलवर मामले पर अपनी चूप्पी तोड़ते हुए जो बयान दिया उसकी वो निंदा करते है। साथ ही उन्होंने कहा कि महज एसपी और थानाधिकारियों को एपीओ करने की कार्रवाई से यह मामला खत्म नहीं हो सकता है और इस मामले को दबाने के लिए पुलिस पर दबाव बनाने वालों की भूमिका को भी चिन्हित किया जाना चाहिए। 

....पंकज शर्मा फर्स्ट इंडिया न्यूज उदयपुर

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in