Live News »

SC में गुर्जर आरक्षण पर सोमवार को दायर होगी SLP, हाईकोर्ट में भी होगी सुनवाई

 SC में गुर्जर आरक्षण पर सोमवार को दायर होगी SLP, हाईकोर्ट में भी होगी सुनवाई

जयपुर। गुर्जर सहित पाच जातियों को आरक्षण प्रदान करने वाले एमबीसी आरक्षण विधेयक के मामले में सोमवार का दिन अहम साबित हो सकता है। आरक्षण विधेयक पर रोक को लेकर दायर कि गयी प्रार्थना पत्र पर हाईकोर्ट में सोमवार को सुनवाई होगी। अरविन्द शर्मा और बादल वर्मा की ओर से दायर कि गयी याचिका पर जस्टिस आलोक शर्मा और जस्टिस गोवर्धन बारधार की खण्डपीठ सुनवाई करेगी। 

गौरतबल है कि राजस्थान हाईकोर्ट ने पूर्व में इस याचिका पर सुनवाई करते हुए आरक्षण विधेयक पर रोक लगाने से इंकार कर दिया था। इसके साथ ही याचिका में राज्य सरकार को जवाब पेश करने और याचिकाकर्ता को रिजॉइन्डर पेश करने के आदेश दिये थे। जिसे याचिकाकर्ताओं के अधिवक्ता डॉ अभिनव शर्मा ने हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट मे चुनौति दी। 

सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट में स्टे एप्लीकेशन पेडिंग रहने के चलते हस्तक्षेप से इंकार कर दिया था। साथ ही याचिकाकर्ताओं को राजस्थान हाईकोर्ट में पेडिंग स्टे एप्लीकेशन पर कोई आदेश होने तक पुन हाईकोर्ट में ही जाने के निर्देश भी दिये थे। ऐसे में गुर्जर आरक्षण को लेकर हाईकोर्ट में सोमवार का दिन अहम साबित हो सकता है। हाईकोर्ट आरक्षण पर रोक के प्रार्थना पत्र पर सुनवाई कर सकता है। 

  निजाम कण्टालिया की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान हाईकोर्ट के 11 अगस्त के फैसले से तय होगा सरकार का भविष्य 

Rajasthan Political Crisis:  राजस्थान हाईकोर्ट के 11 अगस्त के फैसले से तय होगा सरकार का भविष्य 

जयपुर: राजस्थान हाईकोर्ट ने बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले को एक बार फिर से एकलपीठ को भेज दिया है.मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खण्डपीठ ने बसपा और भाजपा विधायक मदन दिलावर की अपील पर सुनवाई करते हुए 8 अगस्त तक बसपा के सभी 6 विधायकों को नोटिस सर्व कराने की व्यवस्था की है.लेकिन साथ ही एकलपीठ को निर्देश दिये है कि वो 11 अगस्त का सुनवाई करते हुए उसी दिन बसपा और मदन दिलावर की याचिकाओं पर फैसला भी दे.खण्डपीठ के इस फैसले के बाद फिलहाल तो मुख्यमंत्री खेमे को राहत मिल गई है लेकिन अब 11 अगस्त को एकलपीठ का फैसला ही सरकार का भाग्य तय कर सकता है.बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय को लेकर स्टे एप्लीकेशन पर एकलपीठ उसी दिन फैसला सुनाएगी.

नोटिस सर्व के लिए मैसेजेर, जैसलमेर डीजे और एसपी की मदद से होंगे तामिल:
मुख्य न्यायाधीश की खण्डपीठ ने बसपा के 6 विधायको को एकलपीठ द्वारा जारी किये गये नोटिस की तामिल के लिए अपीलांट की ओर से विशेष मैसेंजर नियुक्त करने के निर्देश दिये है.मैसेजर 8 अगस्त या उससे पूर्व हाईकोर्ट की एकलपीठ द्वारा जारी नोटिस कर तामिल करायेंगा.हाईकोर्ट ने जैसलमेर जिला एवं सत्र न्यायाधीश को भी निर्देश दिये है कि वो नोटिस तामिल कराने के लिए करने के लिए आवश्यक सहायता उपलब्ध कराएंगे. जरूरत होने पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश नोटिस तामिल कराने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक की भी सहायता ले सकेंगे.जिससे की सभी 6 विधायको को नोटिस तामिल कराने की बेहतर प्रयास किया जा सके.जिनके बारे में कहा जा रहा है कि वे जैसलमेर में रह रहे है.

टीवी अभिनेता समीर शर्मा ने की आत्महत्या, पंखे से लटका मिला शव, जांच में जुटी मुंबई पुलिस

अखबार में नोटिस प्रकाशित करने के भी निर्देश:
मुख्य न्यायाधीश की खण्डपीठ ने बसपा और भाजपा विधायक मदन दिलावर को आदेश दिये है कि वो एकलपीठ के नोटिस को अखबार में प्रसारित करे.खण्डपीठ ने अपने फैसले में खासतौर से राजस्थान पत्रिका अखबार का जिक्र करते हुए उसके जैसलमेंर और बाड़मेर एडीशन में नोटिस प्रकाशित करने के निर्देश दिये है.नोटिस में हाईकोर्ट की एकलपीठ के 30 जुलाई के आदेश की जानकारी लिये हुए होंगे.खण्डपीठ ने अपने फैसले में कहा कि हम साफ कहना चाहते है कि हमारे समक्ष अपीलार्थी के अधिवक्ताओं द्वारा किय गयी प्रार्थना पर हमारे निर्देश एकलपीठ द्वारा दिये गये निर्देश के साथ जोड़कर देखे जाये.खण्डपीठ ने कहा कि उन्हे भरोसा है कि एकलपीठ इस मामले को उचित रूप से डील करेगी.

अब सबकी नजर एकलपीठ के 11 अगस्त के फैसले पर:
मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति की खण्डपीठ ने एकलपीठ को निर्देश दिये है कि बसपा के 6 विधायको के कांग्रेस में विलय पर स्टे को लेकर दायर एप्लीकेशन पर सुनवाई करते हुए उसी दिन उसे निस्तारित भी करे.खण्डपीठ ने कहा कि एकलपीठ अपने विवेक से कानून के अनुसार अपीलार्थियो की ओर से दायर एप्लीकेशन को  खण्डपीठ के आदेशो से प्रभावित हुए बिना निस्तारित करे. हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद ये तय हो गया है कि जस्टिस महेन्द्र गोयल की एकलपीठ अब बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में 11 अगस्त को ही सुनवाई करते हुए उसी दिन फैसला भी सुनायेगी.एकलपीठ के फैसले पर अब सबकी नजर रहेगी.एकलपीठ अगर बसपा विधायको के कॉग्रेस में विलय को अमान्य घोषित करता है या स्टे एप्लीकेशन मंजूद करते हुए स्टे देता है तो वर्तमान कांग्रेस सरकार के पास 100 से भी कम विधायक हो जाएंगे.ऐसे में सरकार के लिए काफी मुश्किलें खड़ी होगी.

अब क्या होगा:
बसपा और भाजपा विधायक मदन दिलावर की ओर से हाईकोर्ट के एकलपीठ के नोटिस बसपा के सभी 6 विधायको को सर्व कराने की कवायद होगी.हाईकोर्ट की खण्डपीठ के आदेश के साथ ही विशेष मैसेंजर एकलपीठ के नोटिस लेकर कल सुबह तक जैसलमेर जिला एवं सत्र न्यायाधीश के समक्ष पहुंच सकता है.एकलपीठ के नोटिस सर्व कराने के लिए विशेष मैसेंजर कल ही नोटिस सर्व कराने के प्रयास करेंगे.नोटिस सर्व नही होने की स्थिती में फिर से कोर्ट का रूख किया जा सकता है.बसपा और भाजपा विधायक की ओर से पुरे प्रयास किये जायेंगे कि शुक्रवार को ही नोटिस सर्व करायें जाये.शुक्रवार को नोटिस सर्व नही होने की स्थिती में दोनो ही पार्टी फिर से कोर्ट आ सकते है.नोटिस सर्व होने की स्थिती में 11 अगस्त को एकलपीठ में सुनवाई होगी और कोर्ट उसी दिन फैसला भी सुनायेंगी.

मुंबई में आफत की बारिश, जन जीवन बेहाल, ठाणे और पालघर में रेड अलर्ट जारी

कांग्रेस-बसपा विधायक विलय प्रकरण, हाईकोर्ट के आज के फैसले से गहलोत खेमे में चिंता !

जयपुर: बसपा विधायकों का कांग्रेस में विलय प्रकरण में हाईकोर्ट के आज के फैसले से गहलोत खेमे में चिंता है. अब हर सूरत में कांग्रेस को ये केस जीतना होगा और यदि किसी भी परिस्थिति में बसपा विधायकों की वोटिंग पर स्टे आ गया तो फिर कांग्रेस के लिए विश्वास मत जीतना एक बड़ी चुनौती होगी. 

देश की अर्थव्यवस्था अब सुधर रही, रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं  

कई अंदाज में हाईकोर्ट का फैसला है अनूठा: 
वैसे कई अंदाज में हाईकोर्ट का फैसला अनूठा है. कोर्ट ने सिंगल बैंच को केवल एक ही दिन में 11 अगस्त को सुनवाई कर के स्टे एप्लीकेशन पर फैसला करने के क्लीयर आदेश दिए. इसी के साथ 8 अगस्त तक बसपा विधायकों को नोटिस की तालीम होगी. पुलिस की सहायता से जिला जज तामील करवाएंगे. इसके साथ ही जैसलमेर और बाड़मेर के अखबारों में भी नोटिस प्रकाशित होगा. 

Coronavirus in India: 24 घंटे में मिले कोरोना के 56 हजार से ज्यादा नए मरीज, मृतकों का आंकड़ा 40 हजार के पार 

14 अगस्त से पहले हाईकोर्ट तय कर सकता बसपा विधायकों का भविष्य: 
ऐसे में राजस्थान न्यायपालिका के इतिहास में संभवत: पहली बार इतना निर्णायक फैसला है. ऐसे में हर सूरत में 14 अगस्त से पहले हाईकोर्ट बसपा विधायकों का भविष्य तय कर सकता है. ...और फिर हारने वाला पक्ष अगले दिन ही सुप्रीम कोर्ट पहुंचेगा? ...और फिर सुप्रीम कोर्ट या तो 14 अगस्त के विधानसभा सत्र से पहले अपना फैसला सुना देगा?.. या फिर क्या सत्र शुरू होने की तारीख कुछ दिन आगे बढ़ सकती है? ऐसे में अब सभी को 11 अगस्त को होने वाली सुनवाई का इंतजार है. 


 

Rajasthan Political Crisis: सभी 6 बसपा विधायकों को जारी होंगे नोटिस, जैसलमेर डीजे को 8 अगस्त तक तामील करवाने की जिम्मेदारी

जयपुर: बसपा विधायकों का कांग्रेस में विलय प्रकरण में हाईकोर्ट से दोनों याचिकाओं के निस्तारण के आदेश दिए हैं. इसके साथ ही एकलपीठ को स्टे एप्लीकेशन के निस्तारण के आदेश दिए है. वहीं कोर्ट ने सभी 6 बसपा विधायकों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं. 

देश की अर्थव्यवस्था अब सुधर रही, रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं  

8 अगस्त तक सभी बसपा विधायकों को नोटिस तामील कराने के निर्देश:
कोर्ट ने जैसलमेर डीजे को 8 अगस्त तक सभी बसपा विधायकों को आदेश नोटिस तामील कराने के निर्देश दिए हैं. जरूरत पड़ने पर कोर्ट ने एसपी की मदद लेने के भी निर्देश दिए है. नोटिस अखबारों के बाड़मेर-जैसलमेर के एडिशन में प्रकाशित होंगे. CJ इंद्रजीत महांति व जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खंडपीठ ने फैसला सुनाया है. अब स्टे एप्लीकेशन पर एकलपीठ 11 अगस्त को सुनवाई करेगी. 

Coronavirus in India: 24 घंटे में मिले कोरोना के 56 हजार से ज्यादा नए मरीज, मृतकों का आंकड़ा 40 हजार के पार 

सिंगल बेंच में 11 अगस्त को फिर बहस होगी:
दिलावर और बसपा ने बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने और इसके लिए स्पीकर की मंजूरी के आदेश को सिंगल बेंच में भी चुनौती दे रखी है. इस पर 11 अगस्त को सुनवाई होगी. पिछली सुनवाई में कोर्ट ने विधानसभा स्पीकर, सचिव और बसपा के 6 विधायकों से जवाब मांगा था. बसपा ने अपील की है कि जब तक मामला कोर्ट में रहे तब तक 6 विधायकों को फ्लोर टेस्ट में किसी के पक्ष में वोट नहीं डालने दिया जाए. 
 

जल्द ही प्रदेश की प्रत्येक ग्राम पंचायत में नंदी गौशाला शुरू की जाएंगी- मंत्री प्रमोद जैन भाया

जयपुर: प्रदेश के खान एवं गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया का कहना है कि जल्द ही प्रदेश की प्रत्येक ग्राम पंचायत में नंदी गौशाला शुरू की जाएंगी. भाया ने कहा कि पहले जिला मुख्यालय उसके बाद पंचायत मुख्यालय और सबसे अंत में प्रत्येक ग्राम पंचायत में नंदी गौशाला शुरू करने को लेकर राज्य सरकार की ओर से प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. गौशालाओं का अनुदान बढ़ाने को लेकर भी सरकार के स्तर पर विचार किया जा रहा है. 

6 बसपा विधायकों का कांग्रेस में विलय प्रकरण में बहस पूरी, अब दोपहर दो बजे हाईकोर्ट सुनाएगा अपना फैसला

प्रमोद जैन भाया का गोवंश के प्रति प्रेम किसी से छुपा नहीं: 
राम मंदिर निर्माण को लेकर भाया ने कहा कि प्रभु श्री राम का भव्य मंदिर निर्माण हो इसका वे स्वागत करते हैं लेकिन मंदिर निर्माण को राजनीति से पृथक रखना चाहिए. ध्यान रहे प्रदेश के खान एवं गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया का गोवंश के प्रति प्रेम किसी से छुपा नहीं है. जैसलमेर प्रवास के दौरान भी प्रमोद जैन भाया की गौ भक्ति देखने को मिली. भाया जैसलमेर स्थित गौशाला गए और गौ माता की विधिवत पूजा अर्चना की इस दौरान उन्होंने गौशाला प्रबंधन के साथ व्यवस्थाओं का जायजा लिया और गोधन को समुचित चारा पानी उपलब्ध हो सके इसके लिए दिशानिर्देश भी दिए. 

BSP मामले पर विधायक संयम लोढ़ा का बड़ा बयान, कहा- किसी को वोट से वंछित करने का अधिकार माननीय न्यायालय को नहीं 

6 बसपा विधायकों का कांग्रेस में विलय प्रकरण में बहस पूरी, अब दोपहर दो बजे हाईकोर्ट सुनाएगा अपना फैसला

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी संकट के बीच आज 6 बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय प्रकरण पर बसपा और मदन दिलावर की अपील पर राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. CJ इंद्रजीत महांति व जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खंडपीठ में दोनों पक्षों की ओर से हाईकोर्ट में बहस पूरी हो गई है. 

BSP मामले पर विधायक संयम लोढ़ा का बड़ा बयान, कहा- किसी को वोट से वंछित करने का अधिकार माननीय न्यायालय को नहीं 

बाड़ेबंदी में विधायकों को नोटिस सर्व नहीं किए जा सकते: 
वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे की बहस पर कोर्ट के कहा कि विधायकों को नोटिस तामील नहीं होना अलग बात है और अंतरिम आदेश देना अलग बात है. हम एकलपीठ को अंतरिम आदेश पारित करने का आदेश दे देते हैं. कोर्ट ने कहा कि हम मानते है कि विधायक बाड़ेबंदी में है और उनको नोटिस सर्व नहीं किए जा सकते हैं. अब दोपहर दो बजे हाईकोर्ट अपना फैसला सुनाएगा. 

कोर्ट ने विधानसभा स्पीकर को नोटिस जारी कर मांगा था जवाब:  
बता दें कि प्रदेश में चल रहे सियासी संकट के बीच बुधवार को हाईकोर्ट की खंडपीठ ने बसपा के छह विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में विधानसभा स्पीकर को नोटिस जारी कर एक दिन में जवाब मांगा था. मामले की गुरुवार को फिर सुनवाई हुई. जिसमें दोनों पक्षों की बहस पूरी हो गई है. 

30 जुलाई के आदेश को अब खण्डपीठ में चुनौती दी गयी थी:
गौरतलब है कि बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट की एकलपीठ के 30 जुलाई के आदेश को अब खण्डपीठ में चुनौती दी गयी थी. अपील पेश करने के साथ बसपा और भाजपा विधायक मदन दिलावर के अधिवक्ताओं की ओर से शीघ्र सुनवाई की अर्जी भी पेश की गयी. इसी के चलते हाईकोर्ट ने दोनों ही अपीलों पर शीघ्र सुनवाई की अर्जी मंजूर करते हुए बुधवार को सुनवाई के लिए रखा. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खण्डपीठ बुधवार को इन अपीलों पर सुनवाई हुई. 

विलय को लेकर कोई अंतरिम राहत नहीं: 
बहुजन समाज पार्टी और भाजपा विधायक मदन दिलावर की ओर से अपील पेश कर विलय को रद्द करने की भी गुहार लगायी गयी है. अपील में कहा गया है कि एकलपीठ ने उनकी याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विलय को लेकर कोई अंतरिम राहत नहीं दी है. विधानसभा अध्यक्ष सचिव और बसपा विधायकों को केवल नोटिस ही जारी किये गये है. जबकि वर्तमान हालात में बसपा के सभी 6 विधायक जैसलमेर की एक होटल में है और उन्हे नोटिस सर्व कराना आसान नहीं है. उनके परिजन भी नोटिस प्राप्त कर रहे हैं. गौरतलब है कि 30 जुलाई को जस्टिस महेन्द्र गोयल की एकलपीठ ने मदन दिलावर और बसपा की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विधानसभा अध्यक्ष, सचिव और बसपा के 6 विधायकों को नोटिस जारी कर 11 अगस्त तक जवाब पेश करने के आदेश दिये है. लेकिन एकलपीठ ने बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय पर कोई अंतरिम राहत नहीं दी. 

क्या है मामला:
18 सितंबर 2019 को बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के आदेश जारी हुए थे. जिस पर आपत्ति दर्ज कराते हुए भाजपा विधायक मदन दिलावर ने 16 मार्च 2020 को विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष शिकायत दर्ज कराई. इस शिकायत में बसपा विधायको का कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देते हुए रद्द करने की मांग कि गई. 4 माह तक जब शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं की गई तो 17 जुलाई केा पुन: विधानसभा अध्यक्ष को एक पत्र लिखकर कार्यवाही करने की मांग की. विधानसभा अध्यक्ष द्वारा इस पर भी कोई कार्यवाही नहीं करने पर राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर कि गई. 

गुजरात: अहमदाबाद के कोरोना अस्पताल में आग लगने से 8 मरीजों की मौत, PM मोदी ने की मुआवजे की घोषणा 

बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देने की मांग: 
याचिका की सुनवाई के दौरान विधानसभा अध्यक्ष की ओर से जानकारी दी गयी की 24 जुलाई को ही शिकायत खारिज कर दी गयी है. विधानसभा अध्यक्ष के जवाब के आधार पर याचिका को सारहीन मानते हुए हाईकोर्ट ने मदन दिलावर की याचिका को खारिज कर दिया. लेकिन साथ ही मदन दिलावर को मामले में नयी याचिका पेश करने की छूट दी. बाद में सशोधित याचिका पेश कर मदन दिलावर ने बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देने की मांग की. बहुजन समाज पार्टी ने भी इसमें शामिल होते हुए अलग से याचिका दायर की. हाईकोर्ट की एकलपीठ ने 30 जुलाई को दोनों याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विधानसभा अध्यक्ष, सचिव और बसपा के 6 विधायकों को नोटिस जारी किये. लेकिन बसपा विधायकों के विलय को अमान्य घोषित करने के मामले में कोई अंतरिम राहत नहीं दी. 


 

Horoscope Today, 6 August 2020: गुरुवार को चमकेंगे इन पांच राशि वालों के सितारे, करें ये उपाय

Horoscope Today, 6 August 2020: गुरुवार को चमकेंगे इन पांच राशि वालों के सितारे, करें ये उपाय

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं. 

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान 

मेष (Aries): आज अपने दिन को सफ़ल बनाने के लिए कंट्रोल आपके ही हाथ में हो सकता है. सकारात्मक दृष्टिकोण से हर परिस्थिति को अपने अनुकूल करने का प्रयास करें. कारोबार से जुड़े लोगों के लिए समय मिश्रित है. आज के  दिन की सफलता के लिए लाल चन्दन का तिलक लगा कर घर से निकले. 

वृष (Taurus): आज इनकम, खर्चे और पैसों के हर तरह के मामले की बिल्कुल बारीकी से जांच करने  ही कोई फ़ैसला करें. कई दिनों से कार्यों में जो अवरोध आ रहे थे वे आज दूर होंगे. आज के दिन की सफलता के लिए विष्णु मंदिर  मे दूध का दान करें.

मिथुन (Gemini): आज आज किए गए बिजनेस के सौदे फायदेमंद होने के योग बन रहे हैं. कार्यक्षेत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझें. आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे. सेहत का थोड़ा ध्यान रखे आज के दिन की सफलता के लिए प्रातः पितरों के नाम का घी का दीपक जलाये. 

कर्क (Cancer): आज आप खुद को समय के साथ चलने दें. जो जैसा हो रहा है, उसका विरोध न करें. कोई भी फैसला बिना सोचे-समझे न करें. वर्तमान स्थिति को स्वीकार करें क्योंकि वर्तमान में ही भविष्य का निर्माण होता है. आज के  दिन की सफलता के लिए विष्णु मंदिर में कमल पुष्प अर्पण करें. 

सिंह (Leo): आज आप अपना काम चुपचाप करते रहे तो हर कार्य मे सफल हो जाएंगे. जोश के साथ आज होश के संतुलन को बनाये रखें. जो भी परेशानी हो उसका सामना करें. जल्द ही परिस्थिति अनुकूल हो जाएगी. आज के दिन की सफलता के लिए आज के दिन अनाथाश्रम मे फलों का दान करें. 

कन्या (Virgo): आज आपका दिन मिश्रित फल देने वाला रहेगा. आपके कामों में दूसरे लोगों की दखल अंदाजी हो सकती है. कुछ काम अधूरे रह सकते हैं.  जरूरत से ज्यादा खर्च करने से बचें. आज के दिन की सफलता के लिए अपने माता पिता को कुछ मीठा अवश्य खिलाये. 

तुला (Libra): आज अपने कार्य में तेजी लाएं. आज की जिम्मेदारी कल पर न छोड़ें. आय और व्यय का संतुलन बनाकर चलें. सोच-विचार में समय खराब करने से बचें. आज के दिन की सफलता के लिए छत पर या घर के बाहर पशु-पक्षियों के लिए पीने का पानी रखें. 

वृश्चिक (Scorpio): आज गंभीरता से की गई चर्चा से कुछ खास मामले सुलझने के योग हैं. कार्यक्षेत्र में आप बहुत हद तक सफल हो सकते हैं. किसी काम में संकोच न करें. आप बोलचाल में संयम रखने की कोशिश करें. आज के दिन की सफलता के लिए बंदरो को केले खिलायें.

धनु (Sagittarius): आज व्यापार-व्यवसाय में श्रेष्ठ योग बनेंगे. नए रास्ते खोजने, नए विकल्पों पर विचार करने में संकोच न करें. अपने आत्मसम्मान के साथ कोई समझौता न करें. आज के दिन की सफलता के लिए भगवान शिव की आरधना करके दिन की शुरुआत करें. 

मकर (Capricorn): आज अपने सोचने का तरीका थोड़ा बदल ले तो दिन अच्छा बीत सकता है. कुछ नया और कुछ अलग करने की कोशिश कर सकते हैं. साझेदारी में काम करना आपको फायदेमन्द रहेगा. आज दिन की सफलता के लिए छोटी कन्या को बिस्कुट का पैकेट का दान करें. 

कुंभ (Aquarius): आज अपने मन की आवाज़ अवश्य सुनें. अपनी विचारधारों को अत्यधिक त्यागना ज़रूरी नहीं जब तक की वह आपके और आपके अपनों के लिए हानिकारक न हो. दिन की सफलता के लिए श्री हनुमान जी मंदिर मे एक मीठा पान चढ़ाये. 

मीन (Pisces): आज जो भी काम सामने आए, उसमें आप अपनी पूरी शक्ति लगा दें. इसके अच्छे नतीजे मिलेंगे. फैसले लेने के लिए और योजनाओं पर काम शुरू करने के लिए बहुत अच्छा दिन है. आज आप अपने आपको डिस्टर्ब न होने दें. आज के  दिन की सफलता के लिए किसी भूखे आदमी को भोजन करवाएं. 

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान

6 अगस्त 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त, आज के दिन जन्मे जातक होते हैं बुद्धिवान और भाग्यवान

जयपुर: पंचांग का हिंदू धर्म में शुभ व अशुभ देखने के लिए विशेष महत्व होता है. पंचाम के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना की जाती है. यहां हम दैनिक पंचांग में आपको शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि, नक्षत्र, व्रतोत्सव, राहुकाल, दिशाशूल और आज शुभ चौघड़िये आदि की जानकारी देते हैं. तो ऐसे में आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल... 

शुभ मास- भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष:-  
शुभ तिथि तृतीया जया संज्ञक तिथि रात्रि 12 बजकर 15 मिनट तक तत्पश्चात चतुर्थी रिक्ता संज्ञक तिथि आरम्भ. तृतीया तिथि मे सभी प्रकार के शुभ और मांगलिक कार्य, विवाह, प्रतिष्ठा, अन्नप्राशन, यज्ञोपवीत, उत्सव, यज्ञादि कार्य विशेष शुभ माने जाते हैं.  तृतीया तिथि मे जन्मे जातक प्रमादी, धनवान, बुद्धिवान, भाग्यवान, पराक्रमी होते हैं.

शुभ नक्षत्र शतभिषा नक्षत्र दोपहर 11 बजकर 18 मिनट तक तत्पश्चात पूर्वा भाद्रपद नक्षत रहेगा. शतभिषा नक्षत्र मे मुंडन, जनेऊ, देव प्रतिष्ठा, वास्तु, वाहन क्रय करना, विवाह ,व्यापर आरम्भ, बोरिंग, शिल्प , विद्या आरम्भ इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते हैं.

चन्द्रमा - सम्पूर्ण दिन कुम्भ राशि में संचार करेगा

व्रतोत्सव -  सातुड़ी तीज, कजली तीज, चंद्रोदय समय -रात्रि 9-12 पर 

राहुकाल - दोपहर 1.30 बजे से 3 बजे तक                              

दिशाशूल - गुरुवार को दक्षिण दिशा मे दिशाशूल रहता है. यात्रा को सफल बनाने लिए घर से दही खा कर निकले.

आज के शुभ चौघड़िये - सूर्योदय से प्रातः 7.36 मिनट तक शुभ का, प्रातः 10.54 से दोपहर 3.50 मिनट तक चर, लाभ , अमृत का और सायं 5.29 से सूर्यास्त तक शुभ का चौघड़िया. 

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री 

CM का 151 कर्मचारी संगठनों से संवाद, कहा- कोरोना की जंग में कर्मचारियों का अहम योगदान

CM का 151 कर्मचारी संगठनों से संवाद, कहा- कोरोना की जंग में कर्मचारियों का अहम योगदान

जयपुर: प्रदेश में कोरोना की लड़ाई में राज्य सरकार के कर्मचारी भी कंधे से कंधा मिलाकर लड़ रहे हैं. सरकार के आह्वान पर कर्मचारियों ने हर संभव मदद की है और इसी कारण आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेशभर से जुड़े करीब 151 कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों से संवाद किया. मुख्यमंत्री आवास से हुई वीसी में गहलोत ने कहा कि कोविड-19 की विकट चुनौती से निपटने में सरकारी और गैर-सरकारी कार्मिकों का तन-मन-धन से जो सहयोग सरकार को मिला है उसी का परिणाम है कि राजस्थान कोरोना की जंग में देश में सबसे आगे खड़ा है. 

बसपा का कांग्रेस में विलय पर हाईकोर्ट का रोक लगाने से इनकार, विधानसभा अध्यक्ष से मांगा जवाब 

बैठक में कई बड़े अधिकारी रहे मौजूद: 
मुख्यमंत्री आवास पर हुई बैठक में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा, मुख्य सचिव राजीव स्वरूप, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह रोहित कुमार सिंह, महानिदेशक पुलिस भूपेन्द्र यादव, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्य, अतिरिक्त मुख्य सचिव खान एवं पेट्रोलियम सुबोध अग्रवाल, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अखिल अरोरा, प्रमुख शासन सचिव कार्मिक रोली सिंह, शासन सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति हेमन्त गेरा तथा सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त महेन्द्र सोनी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे. 

Ram Mandir Bhoomi Pujan: राम मंदिर आने वाली पीढ़ियों को संकल्प की प्रेरणा देता रहेगा- पीएम मोदी 

सभी अधिकारी और कर्मचारी समर्पण भाव से कार्य करें:
कर्मचारी नेताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से लड़ाई अभी लंबी चलेगी, लेकिन आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाना जरूरी है. इसके लिए सभी अधिकारी और कर्मचारी समर्पण भाव से कार्य करें. करीब 6 माह से हमने जनप्रतिनिधियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, उद्यमियों, धर्मगुरूओं सहित समाज के सभी वर्गों से लगातार संवाद कर जो फैसले लिए उससे कोरोना से लड़ने में बड़ी सहायता मिली है। वीसी में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कार्यस्थलों पर कोरोना संक्रमण रोकना जरूरी है, वहीं मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने कहा कि कर्मचारी पूरे सुरक्षात्मक उपायों के साथ जिम्मेदारी निभाएं. सरकार कर्मचारियों की वाजिब समस्याओं को हल करेगी. इस बैठक में कर्मचारी नेता आयुदान कविया, गजेंद्र सिंह राठौड़, राजसिंह चौधरी, विजय सिंह धाकड़, मेघराज पंवार व कुलदीप यादव मौजूद थे. 

Open Covid-19