फेसबुक अकाउंट हैक कर ठगी करने वाला गिरोह सक्रिय

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/08/03 01:03

किशनगढ़(अजमेर): किशनगढ़ में ठगी की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है. शातिर ठगों ने ठगी का अनोखा तरीका ढूंढ निकाला है. शातिर ठग फेसबुक अकाउंट हैक कर रिश्तेदारों और परिचितों को संदेश भेजकर ठगी करने वाले फिर सक्रिय हो गए हैं. पिछले दो दिनों में शहर के कई लोगो की आईडी हैक कर फर्जी मैसेज भेजे जा रहे हैं. मैसेज के जरिये दोस्त का एक्सीडेंट होने की वजह से तत्काल पांच हजार रुपए की मांग की जा रही है. हकीकत का पता तब चला जब संदेश प्राप्त करने वाली आईडी संचालक को कॉल कर दिया. जिनकी आईडी हैक हुई उन्हें इस तरह के संदेशों की जानकारी ही नहीं थी. शहर में एक नहीं बल्कि कई लोगों की आईडी हैक कर इस तरह के संदेश भेजे गए हैं. इनमें से दो लोगों ने तुरंत ठग के खाते में पांच-पांच हजार रुपए डलवा दिए. वहीं अधिकांश लोग ठगी का शिकार होने ही वाले थे लेकिन उन्होंने पैसे डालने से पहले आईडी संचालक से फोन पर बात कर ली तब हकीकत सामने आ गई.  

अकाउंट को हैक कर ठगी का प्रयास:
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हैकर ने शहर के करीब 10 से ज्यादा फेसबुक यूजर्स के अकाउंट को हैक कर ठगी का प्रयास किया. दिलचस्प पहलू यह है कि हैकर ने जिसका भी अकाउंट हैक किया उन्हें एक जैसा मैसेज ही भेजा गया. मैसेज आते ही परिचितों ने आईडी यूजर्स को कॉल लगाया तो सच्चाई सुनकर हैरत में रह गए. एक साथ शहर में इस तरह के कई केस सामने आने से हलचल मच गई. किशनगढ़ निवासी मनीष राठी ने शनिवार को मदनगंज थाने में आईटी एक्ट में शिकायत दर्ज कराई है.  

मुंबई का निकला अकाउंट:  
पीड़ित की रिपोर्ट पर पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो तीन चार दिन पहले ही इस नाम से अकाउंट खुलना सामने आया. अकाउंट भी मुंबई में खुला है. पुलिस पता लगाने में जुटी है. 

इन संदेशों ने उड़ाई नींद:  
हैकर्स ने सभी की आईडी हैक कर सात संदेश भेजे. पहला संदेश- हाई कहां हो आप, दूसरा संदेश- एक काम हैं अर्जेंट, तीसरा संदेश- थोड़ा पेटीएम में मनी सेंड कर सकते हो क्या, एक दोस्त का एक्सीडेंट हो गया एडमिट कराया है, चौथा संदेश- कल शाम 5 बजे तक वापस डाल दूंगा आपका, छठा संदेश- पांच हजार रुपए दो कल शाम तक वापस डाल दूंगा और सातवां संदेश- बैंक अकाउंट में डाल दो. 

1st इंडिया अलर्ट, यूं बरतें सावधानी:  
अपने फेसबुक अकाउंट का समय-समय पर पासवर्ड बदलते रहें. पासवर्ड ऐसा ना रखें जो आपके मोबाइल नंबर या डिजिट हो. पासवर्ड में न्यूमेरिक की, नंबर की और स्पेशल की का उपयोग करें. उदाहरण के तौर पर- As##@123. साथ ही फेसबुक पर प्राइवेसी सिस्टम पर जाकर अपनी जानकारियों को हाइड कर दें. मोबाइल नंबर, फ्रेंड्स लिस्ट और पर्सनल जानकारी को हिडन करें. ताकि कोई भी व्यक्ति आपकी निजी जानकारी का पता नहीं लगा सके. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in