VIDEO: हाड़ौती में सीएम गहलोत ने बीजेपी पर जमकर साधा निशाना

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/19 08:02

कोटा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी के गढ़ हाड़ौती में हुंकार भरते हुए कहा कि कोटा से लेकर देश-प्रदेश तक के विकास की असली तस्वीर तभी साकार होगी..जब आप दिल्ली में अपना प्रतिनिधि भेजकर कांग्रेस को कामयाब करोगे। गहलोत ने कोटा-झालावाड़ की सभा में मोदी सरकार पर करारे हमले तो बोले ही बल्कि साथ ही साथ कोटा अंचल में बिते सालों में हुयी किसानों की आत्महत्याओं और कर्जमाफी जैसे मुद्दे पर भी जमकर निशाना साधा।  

प्रदेश में ताबड़तोड़ अंदाज में प्रचार पर निकले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज हाड़ौती में हुंकार भरी और कोटा के सिमलिया में कांग्रेस प्रत्याशी रामनारायण मीणा के समर्थन में सभा की। गहलोत ने इस दौरान कहा कि किसानों-युवाओं से किये हर वादे पर सरकार कायम हैं लेकिन बीजेपी सिर्फ झूठ फैलाकर देश को और युवाओं को गुमराह कर रही हैं। गहलोत ने इस दौरान खासकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को निशाने पर लिया और साथ ही अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाने की भी कोशिश की। उन्होंने कहा कि हमने सरकार में आते ही किडनी-हॉर्ट और कैंसर जैसी बीमारियों में काम में ली जाने वाली कई महंगी दवाईयों को मुफ्त दवा के पैकेज में लेकर गरीब मरीज की सुध लेने की कोशिश शुरु कर दी हैं और आचार संहिता हटते ही जनहित में इस तरह के कई अन्य पैसले हमारी सरकार लेने वाली हैं।

गहलोत की सभा के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी रामनारायण मीणा,चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा,यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और सांगोद विधायक भरतसिंह भी जमकर गरजे। इस दौरान धारीवाल ने खेती किसानी वाले इस अंचल में बिते सालों में हुयी किसानों की सदमे से मौतों और आत्महत्याओं का मामला सीएम के सामने उठाते हुये कहा कि गहलोत सरकार ने ऐसे 75 किसानों का सभी तरह का कर्जा माफ करके किसानों के घाव भरने की कोशिश की हैं,जबकि बीजेपी तब भी और अब भी लूटे-पिटे किसान की भावनाओं से खिलवाड़ कर रही हैं।

सिमलिया की सभा में पूर्ववर्ती वसुंधरा राजे सरकार भी गहलोत के निशाने पर रही और उन्होंने आरोप लगाया कि 2008 में हमने सत्ता छोड़ी तो राजस्थान के खजाने में 11 हजार करोड़ रुपये थे लेकिन राजे सरकार खजाना खाली कर गयी और ऊपर से 9000 करोड़ के ऐसे कामों को प्रक्रियाधीन छोड़कर सड़कें खुदवा गयी..जिसके पर्याप्त वित्तीय प्रावधान ही नहीं हैं। 

अब देखना यह होगा कि पूर्व मुख्यमंत्री राजे के गढ़ माने जाने वाले हाड़ौती अंचल के कोटा और झालावाड़ जिलों में मुख्यमंत्री का ये ताबड़तोड़ प्रचार अंचल की कांग्रेस को कितना रिचॉर्ज कर पाता हैं।

संवाददाता भंवर एस. चारण की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in