जोधपुर लोकसभा सीट पर माना जा रहा कड़ा मुकाबला

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/01 09:09

जोधपुर। राजस्थान की हॉट सीट में शुमार जोधपुर लोकसभा सीट पर इस बार कांग्रेस प्रत्याशी वैभव गहलोत और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के बीच कड़ा मुकाबला माना जा रहा है। शेखावत का भाजपा में सिर्फ 5 साल का रिश्ता माना जा रहा है जबकि वैभव गहलोत पिछले 20 सालों से सक्रिय राजनीति का हिस्सा रहे हैं, पिछले लोकसभा चुनाव से पूर्व शेखावत किसी भी राजनीतिक पद पर नहीं रहे हैं वे आर एस एस की विचारधारा से जुड़कर सीमा जन कल्याण समिति व स्वदेशी जागरण मंच में दायित्व निभा रहे थे।

29 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर एक और जहां भाजपा व कांग्रेस के प्रत्याशी जनसंपर्क और चुनाव प्रचार अभियान में जुट गए हैं तो वहीं दूसरी और हर किसी की नजर जोधपुर की उस सीट पर है जहां मुकाबला भाजपा प्रत्याशी व केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और कांग्रेस के युवा नेता वैभव गहलोत के बीच है। चुनावी रणभेरी बजने के साथ ही राजस्थान की हॉट सीट समझे जाने वाली जोधपुर लोकसभा सीट पर मुकाबला 5 साल बनाम 20 के बीच माना जा रहा है। 

वैभव गहलोत 20 सालों से सक्रिय राजनीति का हिस्सा
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पवन मेहता साफ कह रहे हैं कि भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत 5 साल पूर्व भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता तक नहीं थे लेकिन वैभव गहलोत पिछले 20 सालों से सक्रिय राजनीति का हिस्सा रहे हैं बल्कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी में विभिन्न दायित्व निभाने के अलावा राजस्थान प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में कांग्रेस के कार्यक्रमों में शिरकत करने के साथ ही हर,गांव, ढाणी, कस्बे और अलग-अलग क्षेत्रों की राजनीति तथा वहां की समस्याओं से वाकिफ है जबकि गजेंद्र सिंह शेखावत आर एस एस की पृष्ठभूमि से जुड़े होने के कारण सीमा जन कल्याण समिति तक ही सीमित रहे थे और पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी लहर के चलते ही जीत हासिल की थी। कांग्रेस नेता तो वैभव गहलोत की जीत का दावा कर ही रहे हैं लेकिन प्रदेश की सभी 25 सीटों पर कांग्रेस को समर्थन देने वाली एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह चंपावत ने भी दावा किया है कि वैभव गहलोत भारी मतों से जीत कर लोकसभा पहुंचेगे।

पिता के पद चिन्हों पर चलने की उम्मीद
वहीं दूसरी ओर राजस्थान में पिछले वसुंधरा और केंद्र में मोदी शासन में किसी प्रकार के विकास के काम नहीं होने के आरोप कांग्रेसजन लगाते रहे हैं जिनका जवाब भाजपा आज तक नही दे पाई है। जोधपुर के साथ सौतेला व्यवहार करने के किसी आरोप का जवाब आज तक किसी भाजपा नेता ने नहीं दिया है। ऐसे में जोधपुर की जनता और कांग्रेस जनों को उम्मीद है कि जोधपुर के विकास को आगे बढ़ाने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत अपने पिता के पद चिन्हों पर चलते हुए जोधपुर के विकास में अपनी भागीदारी निभाएंगे, लेकिन देखना दिलचस्प होगा कि जनता का मूड क्या है और जनता किसे चुनती है।

...राजीव गौड़ फर्स्ट इंडिया न्यूज जोधपुर

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in