देहरादून देहरादून के लिए 'इकोलॉजी' और 'इकोनॉमी' में बनाना होगा सामंजस्य- CM धामी

देहरादून के लिए 'इकोलॉजी' और 'इकोनॉमी' में बनाना होगा सामंजस्य- CM धामी

देहरादून के लिए 'इकोलॉजी' और 'इकोनॉमी' में बनाना होगा सामंजस्य- CM धामी

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को कहा कि आने वाले समय में दिल्ली से दूरी कम होने के कारण देहरादून पर दवाब बढेगा जिसके लिए 'इकोलॉजी' और 'इकोनॉमी' में सामंजस्य बनाकर तैयारी करनी होगी . यहां एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में इस शहर का महत्व और बढने वाला है .  सडकों का जाल बिछ रहा है और दिल्ली से दून आने में मात्र दो घंटे का समय लगेगा . 

जब ऐसा होगा तो दिल्ली, गाजियाबाद, मेरठ, गुरूग्राम के ​हजारों लोग अपने सप्ताहांत के लिए देहरादून ही आना पसंद करेंगे .' लेकिन उन्होंने कहा कि इसके लिए इकोलॉजी और इकोनॉमी दोनों का सामंजस्य रखना होगा और दोनों के बीच संतुलन के लिए 'क्लीन सिटी और ग्रीन सिटी' पर फोकस रखना होगा. इस संबंध में उन्होंने कहा कि आज भी सप्ताहांत में जब बाहर से लोग आते हैं तो सडकों पर गाडियां ही गाडियां दिखाई देती हैं और राजपुर रोड पर तो कदम रखने की भी जगह नहीं होती जिसके लिए हमें तैयार रहना है . मुख्यमंत्री 'दून डिफेंस ड्रीमर्स' और देहरादून नगर निगम द्वारा आयोजित 'क्लीन सिटी, ग्रीन सिटी, यही है मेरा ड्रीम सिटी' की थीम पर आधारित स्वच्छता कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे . स्वच्छता को महज औपचारिक कार्यक्रम तक सीमित न रखकर दिनचर्या में शामिल करने पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने लोगों से, खासतौर पर युवाओं का आहवान किया कि देहरादून को ऐसा आदर्श शहर बनाएं कि बाहर से आने वाले लोग उसे याद रखें . इस संबंध में उन्होंने कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी द्वारा शुरू किए गए कार्यक्रमों में से एक 'स्वच्छ भारत अभियान' था जिसमें उन्होंने स्वयं हाथ में झाडू उठाकर सडकों पर सफाई कर यह संदेश दिया कि इसके लिए सभी को आगे आना है .

उन्होंने कहा कि आज दुनिया के अंदर जितने देशों ने भी तरक्की की है, वहां के सब लोग अपना काम स्वयं करते हैं . धामी ने कहा कि युवाओं के उत्साह और उर्जा के दम पर उत्तराखंड देश के श्रेष्ठ राज्यों में शामिल होगा . उन्होंने कहा कि 2025 में राज्य की स्थापना के रजत जयंती वर्ष तक हमने देश के श्रेष्ठ राज्यों में आने का संकल्प लिया है और इसके लिए सभी सरकारी विभागों को रोड मैप बनाने को कहा गया है . मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद करते हुए कहा कि उन्होंने अगले डेढ़ साल के अंदर देश में दस लाख से अधिक नौकरियों के सृजन की बात कही है . उन्होंने कहा कि देश में 10 लाख से भी अधिक लोगों को अलग-अलग क्षेत्रों में नौकरी मिलने जा रही है . कार्यक्रम के दौरान उन्होंने छात्रों के साथ सड़क पर स्वयं सफाई कर स्वच्छता का संदेश दिया तथा उपस्थित लोगों को स्वच्छता की शपथ दिलवाई . सोर्स-भाषा

और पढ़ें