निकिता मर्डर केसः हरियाणा के गृह मंत्री ने कहा- मुख्य आरोपी के कांग्रेस नेताओं से संबंध

निकिता मर्डर केसः हरियाणा के गृह मंत्री ने कहा- मुख्य आरोपी के कांग्रेस नेताओं से संबंध

निकिता मर्डर केसः हरियाणा के गृह मंत्री ने कहा- मुख्य आरोपी के कांग्रेस नेताओं से संबंध

चंडीगढ़: हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने बुधवार को दावा किया कि बल्लभगढ़ में कॉलेज छात्रा की हत्या के मामले के मुख्य आरोपी के राज्य में कांग्रेस के कुछ नेताओं से संबंध हैं और उनकी ओर से दबाव के चलते ही पीड़ित परिवार ने व्यक्ति के खिलाफ पूर्व में एक शिकायत वापस ले ली थी. इससे संबंधित घटनाक्रम में छात्रा निकिता (21) की हत्या के सिलसिले में गठित तीन सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) ने बुधवार को अपनी जांच शुरू की और फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में पीड़ित परिवार के सदस्यों से मुलाकात की.

एसआईटी टीम ने पीड़िता के घर का किया दौराः
सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध) अनिल कुमार के नेतृत्व वाली एसआईटी ने बल्लभगढ़ में सोहना रोड स्थित पीड़िता के घर का दौरा किया और उसके अभिभावकों से कुछ मिनट बात की. यह जानकारी छात्रा के पिता ने संवाददाताओं को दी. पुलिस ने दो व्यक्तियों- मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान- को छात्रा की बल्लभगढ़ स्थित उसके कॉलेज के बाहर कथित रूप से हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. इस घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किये गए थे तथा छात्रों एवं स्थानीय लोगों ने सोहना रोड को बाधित कर दिया था.

मुख्य आरोपी के हरियाणा के कुछ कांग्रेसी नेताओं से संबंधः
विज ने अंबाला में संवाददाताओं को बताया कि एसआईटी 2018 से घटनाक्रमों की भी जांच करेगी जिनके बाद यह हत्या की गई. उन्होंने कहा कि बल्लभगढ़ में 21 वर्षीय कॉलेज छात्रा की हत्या के मुख्य आरोपी के हरियाणा के कुछ कांग्रेसी नेताओं से संबंध हैं और उन्हीं के दबाव में पीड़ित परिवार ने 2018 में उस व्यक्ति के खिलाफ दर्ज की गई पहले की शिकायत वापस ले ली थी.

धर्मपरिवर्तन के लिए दबाव बनाने की भी जांच करेगी एसआईटीः
विज ने कहा कि एसआईटी 2018 से लेकर घटनाओं की जांच करेगी. यह जांच की जाएगी कि लड़की के माता-पिता को किन परिस्थितियों में अपनी शिकायत वापस लेने के लिए एक हलफनामा देने को मजबूर होना पड़ा. मंत्री ने कहा कि इस बात की भी जांच की जाएगी कि निकिता पर धर्मपरिवर्तन के लिए दबाव क्यों बनाया जा रहा था, बावजूद इसके कि उसने इनकार किया था. 

विज ने कहा- राज्य में इस तरह की दादागिरी नहीं होने दूंगाः 
आरोपी ने जिस तरह से छात्रा को उसके कॉलेज के बाहर दिन-दहाड़े गोली मारी उस पर टिप्पणी करते हुए विज ने कहा कि मैं राज्य में इस तरह की ‘दादागिरी’ नहीं होने दूंगा. आरोपियों को कानून के अनुसार दंडित किया जाएगा. बी.कॉम अंतिम वर्ष की छात्रा निकिता, सोमवार दोपहर में एक परीक्षा में शामिल होने के बाद अपने कॉलेज से बाहर निकली थी, तभी यह घटना हुई थी.

पीड़ित परिवार ने दो साल पहले भी की थी आरोपी की शिकायतः
छात्रा की मां ने बुधवार को अपने निवास पर संवाददाताओं को बताया कि मुख्य आरोपी ने दो साल पहले उसकी बेटियों को परेशान किया था और उससे शादी करने के वास्ते इस्लाम अपनाने के लिए दबाव डाला था जिससे उसने इनकार कर दिया था. छात्रा के परिवार ने दो साल पहले मुख्य आरोपी के खिलाफ कथित रूप से उसे परेशान करने के लिए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. हालांकि, शिकायत वापस ले ली गई थी क्योंकि आरोपी के रिश्तेदारों ने छात्रा के परिवार के सदस्यों को आश्वासन दिया था कि तौसीफ सुधर जाएगा और छात्रा को परेशान नहीं करेगा.

पीड़ित परिवार ने की मुख्य आरोपी के लिए मृत्युदंड की मांगः
छात्रा की मां ने अपने आंसू किसी तरह रोकते हुए कहा कि उसके बाद, हमारे और आरोपी या उसके परिवार के बीच कोई संपर्क नहीं था. निकिता नियमित रूप से अपने कॉलेज जा रही थी. वह एक होनहार छात्रा थी, उसने अपने कॉलेज में अच्छे अंक प्राप्त किए थे. उसने कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं में बहुत अच्छे अंक प्राप्त किए थे. उसे इस तरह से खोने से हमें झटका लगा है. पीड़ित परिवार ने मुख्य आरोपी के लिए मृत्युदंड की मांग की है. इस बीच, हरियाणा राज्य महिला आयोग की सदस्य रेणु भाटिया ने बुधवार को बल्लभगढ़ में पीड़ित परिवार से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि मैंने उन्हें आश्वासन दिया है कि उन्हें हमसे जो भी सहायता की आवश्यकता होगी, हम वह देने के लिए तैयार हैं.
सोर्स भाषा

और पढ़ें