Shravan Maas 2020: सोमवार से शुरू होगा श्रावण मास, हरियाणा में कांवड़िये नहीं सरकार लाएगी हरिद्वार से गंगा जल

Shravan Maas 2020: सोमवार से शुरू होगा श्रावण मास, हरियाणा में कांवड़िये नहीं सरकार लाएगी हरिद्वार से गंगा जल

चंडीगढ़: श्रावण मास का पवित्र माह सोमवार से शुरू हो जाएगा. ये भगवान शिव की आराधना का माह है. लेकिन इस बार कोरोना संकट की वजह से धार्मिक आयोजनों पर रोक है. वहीं कांवड़ यात्रा पर भी रोक है. वहीं हरियाणा सरकार ने लोगों की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए इस साल श्रावण मास के दौरान महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर हरिद्वार से पवित्र गंगा नदी के जल को प्रदेश में लाने की व्यवस्था करने का फैसला किया है. हालांकि प्रदेश सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर श्रावण मास के दौरान कांवडिय़ों को कांवड़ यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं दी गई है. 

Nasbandi Case: सूरतगढ़ सीएचसी में नसबंदी करवाना पड़ा भारी, ऑपरेशन के दौरान दो महिलाओं की हुई मौत

कांवड़ यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं:
गृह विभाग के प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि इस साल श्रावण मास के दौरान महा शिवरात्रि की पूर्व संध्या पर पंचकूला, फरीदाबाद और गुरुग्राम के  मंडलायुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों, पुलिस रेंजरों, उपायुक्तों, जिला मजिस्ट्रेटों, और पुलिस आयुक्तों को कांवडिय़ों को कांवड़ यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं देने के निर्देश दिए गए है.

ठहरने की व्यवस्था करने में जताई थी असमर्थता:
उन्होंने बताया कि यह निर्णय उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश की सरकारों द्वारा कांवडिय़ों के रहने एवं ठहरने की व्यवस्था करने में असमर्थता जताने पर लिया गया है. उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने सभी उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिया है कि वे कोविड-17 के मद्देनजर अपने-अपने जिलों की कांवड समितियों, भक्त-मंडलियों, धार्मिक नेताओं आदि से तालमेल स्थापित कर तुरंत यह सुनिश्चित करें कि वे कांवड़ यात्रा पर न जायें.

Sawai Madhopur: कलयुगी चाचा की शर्मनाक करतूत, 6 साल की मासूम से की दरिंदगी, आरोपी की तलाश जारी 

और पढ़ें