आबूरोड VIDEO: आबूरोड में घूसखोर हेड कांस्टेबल ट्रैप, 8500 रुपए की रिश्वत की राशि बरामद

VIDEO: आबूरोड में घूसखोर हेड कांस्टेबल ट्रैप, 8500 रुपए की रिश्वत की राशि बरामद

आबूरोड: उदयपुर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की टीम ने सदर थाने के रिश्वतखोर  हैड कांस्टेबल को रंगे हाथों गिरफ्तार किया. रिश्वत में ली गई चार हजार और शिकायत के सत्यापन के दौरान ली गई चार हजार पांच सौ रुपए की राशि समेत आठ हजार पांच सौ रुपए बरामद किए गए. एसीबी की कार्रवाई से सदर थाने समेत समूचे पुलिस महकमे में हडक़ंप मच गया.

 भैंस चोरी के मामले में मांगी थी रिश्वत :

आपको बता दें कि सदर थाने में तैनात हैड कांस्टेबल मोतीलाल की ओर से भैंस चोरी के मामले में रिश्वत की मांग की गई. शिकायत का सत्यापन करवाया गया. इसके बाद उदयपुर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की ओर से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश ओझा के नेतृत्व में कार्रवाई को टीम गठित की गई. जिसके चलते पुलिस उप अधीक्षक राजेंद्र मीणा, हैड कांस्टेबल रमेश चंद्र, मुनीर मोहम्मद, कांस्टेबल राजेश, कनिष्ठ सहायक दलपत सिंह और लक्ष्मण सिंह की टीम गुरुवार को आबूरोड सदर थाने पहुंची. जहां परिवादी से बकाया रिश्वत की राशि लेते हुए हैड कांस्टेबल पाली जिले के बाली तहसील के माताजी का वारा पोस्ट दादई निवासी हाल सदर थाना हैड कांस्टेबल मोतीलाल पिता लच्छाराम को रिश्वत की बकाया राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया. एसीबी की टीम की ओर से आवश्यक कार्रवाई को अंजाम दिया गया. आरोपी हैड कांस्टेबल से रिश्वत की राशि बरामद कर ली गई. एसीबी की ओर से की गई कार्रवाई के चलते सदर थाने समेत समूचे खाकी महकमे में हडक़ंप मच गया. 

जानिए क्या था मामला: 
मुदरला गांव की वेलांगरी फली निवासी नैनमल पुत्र मोहनलाल गरासिया के भाई और पिता की चार भैंसे गांव में चोरी हो गई थी. परिवादी के भाई दिनेश गरासिया द्वारा सदर थाने में परिवाद दर्ज कराया गया था. जिसकी जांच सदर थाने के हैड कांस्टेबल मोतीलाल द्वारा की जा रही थी. उक्त वैसे गांव में ही चोरी होने से हैड कांस्टेबल मोतीलाल द्वारा आपसी समझौता करवा दिया गया था. समझौता कराने के लिए दस हजार रुपए की रिश्वत की मांग की गई थी. एसीबी की टीम की ओर से शिकायत मिलने पर शिकायत का सत्यापन करवाया गया, जिसके तहत 9 जून को 4 हजार 500 रुपए हैड कांस्टेबल को दे दिए गए. इस पर उसने चार हजार रुपए और देने की मांग की. जिस पर हैड कांस्टेबल की मांग के अनुसार आज उसे चार हजार की रिश्वत राशि लेते हुए उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया. साथ ही 9 जून को ली गई रिश्वत राशि भी बरामद कर ली गई. इस तरह कुल 8 हजार 500 रुपए की रिश्वत राशि बरामद कर ली गई. साथ ही हैड कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया गया. 

और पढ़ें