हर घर दस्तक अभियान पर चर्चा के लिए स्वास्थय मंत्री मनसुख मांडविया ने की बैठक, अभियान को देश के कोने-कोने तक ले जाने पर दिया जोर

हर घर दस्तक अभियान पर चर्चा के लिए स्वास्थय मंत्री मनसुख मांडविया ने की बैठक, अभियान को देश के कोने-कोने तक ले जाने पर दिया जोर

हर घर दस्तक अभियान पर चर्चा के लिए स्वास्थय मंत्री मनसुख मांडविया ने की बैठक, अभियान को देश के कोने-कोने तक ले जाने पर दिया जोर

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने देश के कोने-कोने तक कोविड टीकाकरण अभियान को ले जाने के तरीकों पर चर्चा के लिए मंगलवार को गैर-सरकारी संगठनों (NGO)  नागरिक समाज समूहों (CSO)  और विकास साझेदारों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की. 

मांडविया ने किया ट्वीट:
सरकार ने हाल में महीनेभर चलने वाले ‘‘हर घर दस्तक’’ अभियान की शुरुआत की थी जिसमें घर-घर जाकर उन लोगों को टीका लगाया जा रहा है जिन्होंने अभी तक टीके की एक भी खुराक नहीं लगवाई है या जिनकी दूसरी खुराक लगनी शेष है. मांडविया ने बैठक के बाद ट्वीट किया कि देश के एनजीओ, सीएसओ के साथ विचार-विमर्श किया. इस बारे में चर्चा की कि सरकार और इन संगठनों के बीच साझेदारी बढ़ने से हमारा ‘हर घर दस्तक’ टीकाकरण अभियान किस तरह मजबूत होगा.  हमारी सरकार हमारे इस अभियान को देश के कोने-कोने तक ले जाने के लिए संगठनों का सहयोग चाहती है. 

उन्होंने हाल में कहा था कि देश में 12 करोड़ से अधिक लाभार्थियों ने कोविड-19 रोधी टीके की दूसरी खुराक अभी नहीं लगवाई है, उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया था कि उक्त अभियान में पूरी वयस्क आबादी को पहली खुराक लगाई जाये, वहीं जिनकी दूसरी खुराक लगनी बाकी है, उन्हें भी इसके लिए प्रोत्साहित किया जाए. देश में करीब 80 प्रतिशत पात्र आबादी ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक लगवा ली है, वहीं लगभग 39 प्रतिशत लोग अब तक दोनों खुराक ले चुके हैं. सोर्स-भाषा
 

और पढ़ें