Live News »

Coronavirus Updates: हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन राज्यसभा में बोले- अब तक 29 मामलों की पुष्टि, WHO के संपर्क में सरकार

Coronavirus Updates: हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन राज्यसभा में बोले- अब तक 29 मामलों की पुष्टि, WHO के संपर्क में सरकार

नई दिल्ली: भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 29 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने राज्यसभा में कोरोना वायरस पर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि 4 मार्च तक भारत में कोरोना वायरस के 29 सकारात्मक मामले सामने आए हैं. केरल के 3 मरीज ठीक हो चुके हैं. दिल्ली से एक मरीज पॉजिटिव पाया गया, जो इटली से आया था.  उन्होंने कहा कि 4 मार्च तक 6,11,176 यात्रियों की अलग-अलग जगह पर स्क्रीनिंग हो चुकी है.

पहली बार T20 विश्व कप के फाइनल में पहुंची भारतीय महिलाएं, रचा इतिहास 

चीन के वुहान से भारतीयों को बचाया गया: 
उन्होंने कहा कि चीन के वुहान से भारतीयों को बचाया गया है. वहां से आए लोगों के टेस्ट नेगेटिव पाए गए हैं. चीन, जापान, इटली जाने वाले लोगों का वीजा रद्द कर दिया गया है. इसके साथ ही राज्यों की मदद के लिए मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है. कोरोना वायरस के मामलों की जांच के लिए 19 और लैब बनाई जा रही है. कोरोना को लेकर सरकार WHO के संपर्क में है. 

कोरोनावायरस से इटली में मरने वालों का आंकड़ा 100 के पार, तबाही बनकर उभरा 

देश में 18 जनवरी से स्क्रीनिंग की जा रही:
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि देश में 18 जनवरी से स्क्रीनिंग की जा रही है. चीन, जापान, हॉन्ग कॉन्ग, नेपाल, वियतनाम, सिंगापुर, थाइलैंड आदि देशों के यात्रियों की स्क्रीनिंग पहले से की जा रही थी, अब विदेश से आने वाले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है. N95 मास्क और अन्य उपकरणों के एक्सपोर्ट को नियंत्रित किया गया है. वहीं ईरान के तेहरान में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए भारत सरकार ईरान के संपर्क में है.

और पढ़ें

Most Related Stories

VIDEO: कोरोना के प्रति ग्रामीण इलाकों में लोग ज्यादा जागरूक ! एसीएस वीनू गुप्ता की First india से खास बातचीत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रयास के चलते कोरोना की रोकथाम में राजस्थान देशभर में हर मोर्चे पर आगे है. फिर चाहे मौतों का गणित हो या फिर कोरोना मरीजों के ठीक होने का प्रतिशत, कमोबेश हर पायदान पर राजस्थान अग्रणीय भूमिका में है. ये सबकुछ संभव हो पाया है कोरोना की रोकथाम के लिए बनाई गई एग्रेसिव क्वारेंटाइन स्टेट्जी से. प्रवासी राजस्थानियों के मूमेंट के साथ ही गहलोत सरकार ने क्वारेंटाइन फैसेलिटी पर मुख्य फोकस किया और पूरे प्रदेशभर में छह हजार से अधिक क्वारेंटाइन सेंटर विकसित किए.

इस पूरे काम की जिम्मेदारी सौंपी गई अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू गुप्ता को. नतीजन, लाखों की तादात में प्रवासियों के मूमेंट के बावजूद राजस्थान में हालात नियंत्रण में है. आखिर राजस्थान में क्वारेंटाइन की मौजूदा स्थिति क्या है और प्रवासियों के मूमेंट के चलते पिछले एक माह के दौरान क्या-क्या चुनौतियां क्वारेंटाइन सुविधा में सामने आई. इन तमात बिन्दुओं पर एसीएस वीनू गुप्ता से खास बातचीत की हमारे संवाददाता विकास शर्मा ने.....
 

VIDEO: Jaipur Airport पर होंगे अहम बदलाव, नया डिपार्चर हॉल किया जा सकता है शुरू

जयपुर: विदेशों में फंसे प्रवासी राजस्थानियों को वापस लाने के लिए चल रहा मिशन वंदे भारत कल समाप्त हो जाएगा. इसके बाद घरेलू फ्लाइट्स का संचालन अधिक संख्या में होने की संभावना है. अब घरेलू फ्लाइट्स में यात्रीभार में बढ़ोतरी होने लगी है, ऐसे में यात्रियों के लिए कई अहम बदलाव किए जाएंगे. 

VIDEO: हाउसिंग बोर्ड का एक और बड़ा धमाका, 11 शहरों में लॉन्च होंगी 17 नई आवासीय योजनाएं 

जयपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से वर्तमान में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स दोनों का ही संचालन हो रहा है. लेकिन आज से वंदे भारत मिशन की अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स का संचालन बंद हो जाएगा. दरअसल वंदे भारत मिशन की फ्लाइट्स जयपुर एयरपोर्ट से 22 मई से शुरू हुई थीं. अब तक मिशन के तहत कुल 21 फ्लाइट्स जयपुर आ चुकी हैं. आज दुबई से शाम सवा पांच बजे अंतिम फ्लाइट जयपुर पहुंचेगी. वंदे भारत मिशन के तहत 22 फ्लाइट्स से करीब 3000 यात्रियों का आगमन हुआ है. अभी तक वंदे भारत मिशन की अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स को पुराने अराइवल हॉल से संचालित किया जा सकता था. ऐसे में घरेलू यात्रियों के आगमन के लिए केवल नए अराइवल हॉल को रखा गया था. लेकिन अब जैसे-जैसे यात्रीभार में बढ़ोतरी हो रही है, पुराने अराइवल हॉल से भी यात्रियों का आवागमन शुरू किया जा सकता है. वहीं अब पहली बार नए डिपार्चर हॉल को भी शुरू किया जाएगा. दरअसल डिपार्चर के लिए एक ही गेट को रखा गया है. सुबह 10 से दोपहर 1 बजे के बीच में आधा दर्जन फ्लाइट्स का संचालन होता है, ऐसे में एयरपोर्ट पर यात्रियों की भीड़ लग जाती है. जयपुर एयरपोर्ट निदेशक जयदीप सिंह बलहारा ने बताया कि यात्रीभार बढ़ने पर अतिरिक्त डिपार्चर गेट खोले जाने की जरूरत है, इसे जल्द ही शुरू किया जाएगा. डिपार्चर गेट पर भीड़ बढ़ने से सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने में परेशानी होगी, इसलिए नए डिपार्चर हॉल को शुरू किया जाएगा. 

जयपुर एयरपोर्ट से 20 में से बुधवार को 9 फ्लाइट रद्द:
- स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:10 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-839 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:40 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट 6E-218 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 9:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट I5-1721 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 11:15 बजे अमृतसर जाने वाली फ्लाइट SG-3522 हुई रद्द
- इंडिगो की दोपहर 12:45 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-498 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की दोपहर 2:55 बजे वाराणसी जाने वाली फ्लाइट SG-2752 हुई रद्द

Rajyasabha Election: व्हिप जारी करेगी कांग्रेस, अनुशासन बिगड़ते ही सदस्यता समाप्त का खतरा!  

आपको बता दें कि पिछले सप्ताह जब फ्लाइट्स का संचालन शुरू हुआ था, उसके मुकाबले अब यात्रीभार में बढ़ोतरी होने लगी है. पहले सप्ताह में जहां फ्लाइट्स में औसतन मात्र 30 से 35 प्रतिशत यात्री ही सफर कर रहे थे, वहीं अब यात्रीभार 40 से 50 प्रतिशत तक पहुंचने लगा है. इसे देखते हुए एयरलाइंस ने इस सप्ताह पिछले सप्ताह के मुकाबले फ्लाइट्स भी बढ़ाई हैं. अब आगरा, कोलकाता, गुवाहाटी के लिए फ्लाइट संचालित होने लगी हैं. वहीं 15 जून से गो एयर की फ्लाइट संचालित होने की भी संभावनाएं बढ़ने लगी हैं. ऐसे में अब यात्रीभार बढ़ने के साथ ही एयरपोर्ट पर सुविधाओं में बढ़ोतरी करना भी जरूरी हो गया है. हालांकि एयरपोर्ट प्रशासन के साथ-साथ इसमें चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के लिए भी मशक्कत बढ़ जाएगी. चूंकि अभी डिपार्चर गेट पर मेडिकल स्क्रीनिंग के लिए एक ही काउंटर है. नया डिपार्चर हॉल खोलने पर अतिरिक्त चिकित्सा टीमें भी लगानी होंगी. कुलमिलाकर हवाई सेवाओं के लिहाज से यह अच्छा संकेत है कि आगामी दिनों में हवाई यात्रीभार में बढ़ोतरी होगी और हवाई सेवा पुराने दिनों की ओर लौट सकेगी. 

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

VIDEO: हाउसिंग बोर्ड का एक और बड़ा धमाका, 11 शहरों में लॉन्च होंगी 17 नई आवासीय योजनाएं

जयपुर: आमजन को आवास उपलब्ध कराने के लिए कमिटेट हाउसिंग बोर्ड ने बुधवार को 11 शहरों में 17 आवासीय योजनाएं लांच करने का बड़ा ऐलान किया है. बोर्ड के कर्मचारियों को बड़ी सौगात देते हुए मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना लांच करने का भी फ़ैसला लिया है. हाउसिंग बोर्ड के इतिहास में पहली बार एक साथ इतनी योजनाएं लांच होंगी. 

Rajyasabha Election: व्हिप जारी करेगी कांग्रेस, अनुशासन बिगड़ते ही सदस्यता समाप्त का खतरा!  

बोर्ड अब 11 शहरों में 17 आवासीय योजनाएं लांच करने जा रहा: 
पिछले करीब 1 साल से हर वर्ग के लोगों को मकान उपलब्ध कराने में कई रिकॉर्ड स्थापित कर चुके हाउसिंग बोर्ड ने अब एक बार फिर बड़ा धमाका किया है. हाउसिंग बोर्ड अब 11 शहरों में 17 आवासीय योजनाएं लांच करने जा रहा है. अगले 1 महीने में बोर्ड इन योजनाओं की लांचिंग कर देगा. बोर्ड के 50 वर्ष के इतिहास में पहली बार होगा जब एक साथ बोर्ड इतनी योजनाओं को लांच करेगा. बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि इन योजनाओं में हर वर्ग के लोगों के लिए 11250 आवास उपलब्ध कराए जाएंगे. 

यह योजनाएं जयपुर के सिरोली, महला, वाटिका, शाहपुरा, उदयपुर के दक्षिण विस्तार और देवरी, श्रीगंगानगर के सूरतगढ़, टोंक के निवाई, सिरोही के आबूरोड़, अजमेर के नसीराबाद, किशनगढ़ और डूंगरपुर, बांसवाड़ा में यह आवासीय योजनाएं लांच की जाएंगी. 

हाउसिंग बोर्ड का एक और बड़ा धमाका: 
- बोर्ड के 50 साल के इतिहास में पहली बार लांच होंगी एक साथ इतनी योजनाएं
- जयपुर समेत कई शहरों में अच्छी लोकेशन पर लांच होंगी आवासीय योजनाएं
- आवसों की कीमत भी आमजन की सुविधा के लिहाज से होगी तय
- आर्थिक दृष्टि से कमजोर लोगों को भी मिलेंगे आवास
- योजनाओं में पीएम आवास और सीएम जन आवास योजना का भी मिलेगा लाभ

हाउसिंग बोर्ड ने आज कर्मचारियों को भी बड़ी सौगात दी है. बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि बोर्ड जयपुर के प्रतापनगर में मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवसीय योजना भी लांच करने जा रहा है. इस योजना में हर स्तर के कर्मचारी की सुविधा के 674 फ्लैट बनाएं जाएंगे. कर्मचारियों के लिए यह बड़ी सौगात इसलिए भी है क्योंकि कर्मचारियों के संग़ठन ने 27 मई को ही सरकार और बोर्ड को ज्ञापन दे कर योजना लांच करने की मांग की थी. बोर्ड ने एक सप्ताह के अंदर ही उनकी मांग को मानते हुए योजना लांच करने का एलान कर दिया है. 

- सीएम शिक्षक और प्रहरी आवासीय योजना की लोकप्रियता के बाद बोर्ड की एक और बड़ी घोषणा. 
- जयपुर के प्रताप नगर में लांच होगी सीएम राज्य कर्मचारी आवसीय योजना
- 10 लाख 90 हजार रुपये में मिलेगा 632 वर्गफीट में निर्मित 2 बीएचके साइज का फ्लैट
- 15 लाख 70 हजार रुपये में मिलेगा 882 वर्गफीट में निर्मित 2 बीएचके साइज का फ्लैट
- 21 लाख रुपये में मिलेगा 1097 वर्गफीट में बना 3 बीएचके साइज का फ्लैट
- पूर्व में लांच सीएम राज्य सहायक कर्मचारी योजना के आवेदकों को भी किया जाएगा इस योजना में शामिल
- योजना के पास में अच्छे  स्कूल और अस्पताल जैसी सुविधाएं हैं पहले से ही विकसित

10 फीसदी दीजिए और गृह प्रवेश कीजिए योजना को लेकर भी हाउसिंग बोर्ड से अच्छी खबर आई है. बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि योजना में आवास लेने पर किश्तों और ईएमडी पर जीएसटी नहीं देना होगा. वित्त एक्सपर्ट से हुई बातचीत के बाद क्योंकि यह मकान पूर्ण निर्मित हैं इसलिए जीएसटी नहीं देनी होगी. अब इस योजना में लोगों को और भी सस्ती दरों पर आवास उपलब्ध हो सकेंगे. आपको बता दें कि बोर्ड को इस योजना में कुछ ही समय में बहुत भारी रिस्पॉन्स मिला है. 

दाल आयातकों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, देश के विभिन्न हाईकोर्ट में दर्ज याचिकाओं की सुनवाई पर लगायी रोक 

कोरोना के प्रभाव के बाद भी बोर्ड की यह ऐतिहासिक घोषणाएं इस बात का प्रमाण हैं कि बोर्ड ने हर वर्ग के लोगों को आवास उपलब्ध कराने की सीएम की मंशा को लेकर तैयारियां पूरी की हुईं हैं. जिस तरीक़े से सीएम शिक्षक और प्रहरी आवसीय योजना का समय पर शिलान्यास कर काम शुरू करा दिया है उस तरह ही इन योजनाओं को भी बोर्ड जल्द ही अमलीजामा पहना देगा. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट

Rajyasabha Election: व्हिप जारी करेगी कांग्रेस, अनुशासन बिगड़ते ही सदस्यता समाप्त का खतरा!

जयपुर: राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी अपने विधायकों के लिये व्हीप जारी करेगी. व्हीप में साफ होगा कि अगर उल्लघंन किया तो सदस्यता रद्द हो जाएगी. अनुशासन बनाये रखना ही व्हीप का असली मकसद होता है. इतिहास गवाह है कि गुजरात में बीते राज्यसभा चुनावों में अहमद पटेल तभी जीते थे जब उन्हीं के पार्टी के 2 विधायकों को जनप्रतिनिधि कानून के दायरे में लाया गया. 

चिकित्सा मंत्री से सेंट्रल टीम की मुलाकात, कोरोना रोकथाम कार्यो की सराहना

चुनाव बेहद दिलचस्प: 
राज्यसभा चुनाव में राजस्थान में 3 सीटों पर चुनाव होने है, चुनावी समर में उम्मीदवार उतरे है 4, दो कांग्रेस के और दो बीजेपी के.. लिहाजा चुनाव बेहद दिलचस्प है. सत्ताधारी दल कांग्रेस जीत के प्रति आश्वस्त है लेकिन कोई जोखिम मोल नहीं लेना चाहती. लिहाजा कांग्रेस विधायक दल की ओर से अपने सभी 107 विधायकों के लिये व्हिप जारी किया जाएगा, इसे मानना विधायकों के लिये अनिवार्य होगा. वैसे तो कांग्रेस विधायक दल के अंदर क्रास वोटिंग की संभावना नजर नहीं आ रही लेकिन राजनीति में कु़छ कहा नहीं जा सकता है. आइये पहले आपको बता देते है व्हिप क्या होता है..

---व्हिप के मायने---
--व्हिप का उल्लंघन दल बदल विरोधी अधिनियम के तहत माना जा सकता है.
--उल्लंघन पर सदस्यता रद्द कर दी जा सकती है. 
--व्हिप 3 तरह के होते हैं.
- एक लाइन का व्हिप
 - 2 लाइन का व्हिप और 3 लाइन का व्हिप.
- इन तीनों व्हिप में 3 लाइन का व्हिप अहम माना जाता है, इसे कठोर कहा जाता है.
- इसका इस्तेमाल सदन में अविश्वास प्रस्ताव जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर बहस या वोटिंग में किया जाता है.
- यदि किसी सदस्य ने इसका उल्लंघन किया तो उसकी सदस्यता खत्म होने का भी प्रावधान है. 
- व्हिप के मुताबिक राज्यसभा चुनाव में ओपन बैलेट के तहत मतदान प्रक्रिया होती है.  
- किसी भी दल के विधायक को उसकी पार्टी के एंजेट को दिखाकर ही मत देना होता है ऐसा नहीं होने पर वोट अमान्य हो सकता है. 

चीन में हड़कंप मचाने वाले Remove China Apps और Mitron app को गूगल प्‍लेस्‍टोर ने हटाया

अदालत के महत्वपूर्ण निर्णय के अनुसार संसदीय परम्पराओं को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये व्हिप का प्रावधान है जिसके तहत क्रास वोटिंग को रोका जा सके और पार्टी के आदेश का विधायक अनुशासित होकर पालन करे, हार्स ट्रैडिंग को प्रोत्साहन नहीं मिले. राजस्थान में कांग्रेस पार्टी ने दो उम्मीदवारों को चुनावी समर में उतारा है के सी वेणुगोपाल और नीरज डांगी. इन्हें 13 निर्दलीय, 2 सीपीएम, 2 बीटीपी, 1 आरएलडी के वोटों की उम्मीद है. इस गणित के लिहाज से तो कांग्रेस को 3 में से 2 सीटें मिलना तय है. फिर भी सियासत आखिर सियासत ही है.

 ...फर्स्ट इंडिया के लिये योगेश शर्मा की रिपोर्ट

Cyclone Nisarga: कमजोर पड़ा तूफान निसर्ग, बड़ा खतरा टला

Cyclone Nisarga: कमजोर पड़ा तूफान निसर्ग, बड़ा खतरा टला

मुंबई: चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से गुजरने के बाद कमजोर पड़ गया है. तूफान अब उत्तर महाराष्ट्र तथा गुजरात की ओर बढ़ गया है. मौसम विभाग के अनुसार इस समय तूफान की तीव्रता भी कुछ कम हुई है. ऐसे में तूफान का मुंबई के लिए खतरा लगभग खत्म हो चुका है. वहीं मुंबई के ज्यादातर इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश जारी रहेगी. इस दौरान निसर्ग के चलते मुंबई, रत्नागिरी, रायगड, नवी मुंबई में जमकर तेज हवाएं चलीं और जोरदार बारिश हुई. सड़कों पर जगह-जगह पेड़ों के गिरने के दृश्य नजर आ रहे हैं. 

देशी नस्ल के गौवंश की डेयरी स्थापना के लिए मिलेगा 90 प्रतिशत तक ऋण, चुकाने पर 30 प्रतिशत सब्सिडी 

मुंबई में जनजीवन अस्तव्यस्त: 
तूफान निसर्ग की वजह से मुंबई में जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. तूफान का सबसे ज्यादा असर रायगड में देखा जा रहा है और यहां भारी तबाही हुई है. बारिश के साथ तूफानी हवाओं ने पूरे शहर में जगह-जगह पेड़ों को गिरा दिया. वहीं रत्नागिरी में तूफानी हवाओं की चपेट में आकर एक छोटा जहाज रास्ता भटक गया, हालांकि बाद में इसे रेस्क्यू कर लिया गया.

Coronavirus Vaccine: रूस ने किया कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, सैनिकों पर हो रहा है ट्रायल 

एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गईं:
चक्रवात से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गईं. इसमें मुंबई में 8 टीमें, रायगढ़ में 5 टीमें, पालघर में 2 टीमें, थाने में 2 टीमें, रत्नागिरी में 2 टीमें और सिंधूदुर्ग में 1 टीम की तैनाती है. वहीं, कुछ टीमों को स्टैंडबाई पर रखा गया था. बता दें कि दो हफ्ते में देश को दूसरे समुद्री तूफान का सामना करना पड़ रहा है. पहले अम्फान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई थी.

चिकित्सा मंत्री से सेंट्रल टीम की मुलाकात, कोरोना रोकथाम कार्यो की सराहना

चिकित्सा मंत्री से सेंट्रल टीम की मुलाकात, कोरोना रोकथाम कार्यो की सराहना

जयपुर: चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा से बुधवार को केंद्रीय संयुक्त सचिव राजीव ठाकुर के नेतृत्व में आयी सेंट्रल टीम ने भेंट की. इस दौरान टीम ने प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए किए गए कार्यों की सराहना की. डॉ शर्मा ने टीम को प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए गए प्रयासों की विस्तार से जानकारी दी. 

देशी नस्ल के गौवंश की डेयरी स्थापना के लिए मिलेगा 90 प्रतिशत तक ऋण, चुकाने पर 30 प्रतिशत सब्सिडी 

विधायक कोष का उपयोग 2 वर्ष के लिए केवल स्वास्थ्य सेवाओं पर व्यय होगा: 
उन्होंने प्रदेश में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, क्वारेंटाइन सुविधाओं, कोरोना टेस्ट सुविधाओं सहित अन्य गतिविधियों के बारे में जानकारी दी. चिकित्सा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में स्वास्थ्य के आधार भूत ढांचे को सुदृढ़ करने के लिए व्यापक कार्यवाही की जा रही है. विधायक कोष का उपयोग 2 वर्ष के लिए केवल स्वास्थ्य सेवाओं पर व्यय होगा. स्वास्थ्य के आधारभूत ढांचे को मजबूत बनाने के संसाधनों की कोई कमी नही आने दी जाएगी. 

Coronavirus Vaccine: रूस ने किया कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, सैनिकों पर हो रहा है ट्रायल 

स्वास्थ्य कर्मियों की नियुक्ति व प्रशिक्षण पर ध्यान दिया गया:
स्वास्थ्य कर्मियों की नियुक्ति व प्रशिक्षण पर ध्यान दिया गया है. प्रदेश में 735 चिकित्सकों की नियुक्ति के बाद आज ही 2 हजार चिकित्सको भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी की गई है. साथ ही 12 हजार से अधिक पैरा मेडिकल स्टाफ की नियुक्ति की गई है. इस अवसर पर टीम सदस्य डॉ तंजिन डिकिड एवं डॉ संजय मट्टू के साथ ही एमडी एनएचएम नरेश ठकराल, अतिरिक्त निदेशक डॉ रवि शर्मा भी मौजूद रहे.  

चीन में हड़कंप मचाने वाले Remove China Apps और Mitron app को गूगल प्‍लेस्‍टोर ने हटाया

चीन में हड़कंप मचाने वाले Remove China Apps और Mitron app को गूगल प्‍लेस्‍टोर ने हटाया

नई दिल्ली: पिछले कुछ दिनों से काफी पॉप्युलर हो रहे Remove China Apps और Mitron app को गूगल प्ले स्टोर ने हटा दिया है. चीनी एप को हटाने के लिए विकसित किए गए 'रिमूव चाइना एप' को व्‍यापक समर्थन मिला और रिकॉर्ड 50 लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया. इस ऐप के जरिए आप अपने स्मार्टफोन में मौजूद सभी चीनी ऐप्स को डिलीट कर पाते थे. 

देशी नस्ल के गौवंश की डेयरी स्थापना के लिए मिलेगा 90 प्रतिशत तक ऋण, चुकाने पर 30 प्रतिशत सब्सिडी 

यह एक दिन में दूसरा पॉप्युलर ऐप: 
जिन यूजर्स के फोन में यह ऐप पहले से डाउनलोडेड है, उनके फोन में यह काम करता रहेगा. यह एक दिन में दूसरा पॉप्युलर ऐप है जिसे गूगल ने रिमूव किया. इससे पहले मंगलवार को ही प्ले स्टोर से टिकटॉक की तरह ही काम करने वाले Mitron ऐप को भी हटाया गया है. मिट्रोन ऐप चीनी ऐप टिक टोके का विकल्प था. दोनों ऐप भारत में हाल ही में बहुत लोकप्रिय हो रहे थे.

Coronavirus Vaccine: रूस ने किया कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, सैनिकों पर हो रहा है ट्रायल 

जयपुर की कंपनी OneTouchAppLabs ने डिवेलप किया:
रिमूव चाइना ऐप को जयपुर की कंपनी OneTouchAppLabs ने डिवेलप किया था. गूगल के रिमूव करने पर कंपनी 'वन टच एपलैब' ने ट्वीट कर कहा है कि एप को प्‍लेस्‍टोर से हटा दिया गया है. हालांकि ऐसा क्‍यों किया गया है कंपनी ने भी कुछ नहीं बताया है. हालांकि गूगल प्‍ले स्‍टोर की ओर से अभी इस बात की पुष्टि नहीं की गई है कि इस एप को क्‍यों हटाया गया है या यह भविष्‍य में गूगल प्‍ले स्‍टोर पर उपलब्‍ध होगा या नहीं. 


 

Coronavirus Vaccine: रूस ने किया कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, सैनिकों पर हो रहा है ट्रायल

Coronavirus Vaccine: रूस ने किया कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, सैनिकों पर हो रहा है ट्रायल

नई दिल्ली: दुनियाभर में लगातार कोरोना का कहर बरकरार है. इसी के चलते शोधकर्ता कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ कारगर दवा और टीका ईजाद करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं. इसी बीच रूस के रक्षा मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण दावा है. रूसी सेना के अनुसार उसने कोविड19 के टीके का अपने सैनिकों के साथ ट्रायल शुरु कर दिया है. ऐसे में यह ट्रायल अगले महीने के अंत तक खत्म हो जाएंगे.

Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र से टकराया चक्रवाती तूफान निसर्ग, 129 साल बाद इतना भयानक तूफान  

इस परीक्षण के लिए 50 सैन्यकर्मियों का चयन किया गया: 
रूसी रक्षा विभाग के मुताबिक इस परीक्षण के लिए 50 सैन्यकर्मियों का चयन किया गया, जिनमें पांच महिलाएं भी हैं. चिकित्सा परीक्षण पूरा होने के बाद सभी को टीके की डोज देने के लिए तैयार किया जाएगा. रूसी वैज्ञानिकों ने 1 जून को नए टीके के प्रायोगिक नमूने का प्रीक्लीनिकल अध्ययन पूरा कर लिया. जानकारी के अनुसार इन सभी सैन्यकर्मियों ने स्वेच्छा से आधुनिक दवा के परीक्षण में भाग लेने की इच्छा व्यक्त की थी. ऐसे में नए टीके के लिए क्लीनिकल ट्रायल जुलाई के अंत तक पूरे हो जाएंगे. 

UP: 69 हजार सहायक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया पर हाईकोर्ट ने लगाई अंतरिम रोक 

रूस तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश:
बता दें कि रूस दुनियाभर में तीसरा ऐसा देश है जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी ज्यादा है. सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में दर्ज किए गए हैं उसके बाद ब्राजील और तीसरे स्थान पर रूस है.  

Open Covid-19