भुवनेश्वर Odisha Weather: प्रदेश में बेकाबू बारिश से बिगड़े हालात, भूस्खलन से मुख्य सड़कों पर जलभराव

Odisha Weather: प्रदेश में बेकाबू बारिश से बिगड़े हालात, भूस्खलन से मुख्य सड़कों पर जलभराव

Odisha Weather: प्रदेश में बेकाबू बारिश से बिगड़े हालात, भूस्खलन से मुख्य सड़कों पर जलभराव

भुवनेश्वर: ओडिशा में रातभर बारिश होने के कारण गजपति जिले में हुए भूस्खलन से कम से कम 10 घर क्षतिग्रस्त हो गए तथा मलकानगिरी और कालाहांडी जिले में मुख्य सड़कें जलमग्न हो गई. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने अगले 48 घंटे में राज्य के नौ जिलों में भारी से बेहद भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया है.

मौसम विभाग ने मंगलवार को कहा कि ओडिशा के कई इलाकों में भारी से बेहद भारी बारिश हुई जिससे कई स्थानों पर जलजमाव हो गया है. विभाग ने कहा कि सोमवार को कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण इतनी बारिश हुई. मौसम विभाग के वैज्ञानिक यू. एस. दास ने कहा कि राज्य के दक्षिणी हिस्से के नौ जिलों में भारी से बेहद भारी बारिश का पूर्वानुमान है जिससे पहाड़ी इलाकों में और भूस्खलन हो सकता है, सड़कें तथा खेतों में पानी भर सकता है. नौ जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

कम से कम 10 घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए:
बुधवार के लिए कोरापुट, मलकानगिरी, नवरंगपुर, नौपाड़ा, कालाहांडी, कंधमाल, बोलांगीर, गंजाम और नयागढ़ जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. इसी प्रकार रायगढ़ा, गजपति, खुर्दा, पुरी, कटक, जगतसिंहपुर, बौध, सोनपुर, बारगढ़, अंगुल, ढेंकानाल और क्योंझर जिले में ‘येलो अलर्ट’ जारी किया गया है. आईएमडी ने कहा कि इसके अलावा ओडिशा के ज्यादातर इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. गंजाम जिले से प्राप्त सूचना के अनुसार नौगड़ा ब्लॉक के नौपाली गांव में हुए भूस्खलन से कम से कम 10 घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए.

मुख्य सड़कों पर भी जलजमाव देखा गया:
जिला स्तर के एक अधिकारी ने कहा कि भूस्खलन होता देख लोग तत्काल अपने घरों से निकल गए इसलिए किसी की मौत नहीं हुई लेकिन उनकी संपत्ति नष्ट हो गई. एक अधिकारी ने बताया कि आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे मलकानगिरी जिले के मोटू क्षेत्र में भारी बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. उन्होंने कहा कि सड़कों पर छह से आठ फुट तक पानी जमा होने से मलकानगिरी से तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ तक का संपर्क बाधित हुआ है. कालाहांडी जिले की मुख्य सड़कों पर भी जलजमाव देखा गया. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें