ऐतिहासिक गड़ीसर झील को किया गया पॉलीथिन मुक्त

Suryaveer Singh Tanwar Published Date 2019/08/21 11:36

जैसलमेर: कला संस्कृति धोरों की धरती जैसलमेर में पर्यटन सीजन शुरू होने वाला है. जैसलमेर विश्व के पर्यटन मानचित्र पर अपनी एक विशेष पहचान रखता है. प्रतिवर्ष यहां लाखों की संख्या में आने वाले सैलानियों के कारण जहां जिले की अर्थव्यवस्था को एक बड़ा संबल मिल रहा है. पर्यटन सीजन शुरू होने से पहले आज विश्वविख्यात ऐतिहासिक गड़ीसर झील को पॉलीथिन मुक्त करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन जैसलमेर ग्रुप फॉर पीपल के साथ पॉलीथिन मुक्त गड़ीसर अभियान चलाया गया.  

गड़ीसर सरोवर पर विशाल श्रमदान का आयोजन: 
आज ऐतिहासिक गड़ीसर सरोवर पर विशाल श्रमदान का आयोजन किया गया. जिसमे जिला कलक्टर नमित मेहता, प्रशासनिक अधिकारी ,जनप्रतिनिधि, जैसलमेर वासियो ने गड़ीसर सरोवर को पॉलीथिन मुक्त बनाने के लिए श्रमदान किया. सड़कों के किनारे बिखरे कचरे व पॉलीथिन को संग्रहित कर कचरा पात्र मे डाला गया. गड़ीसर तालाब के आगोर में स्वच्छता अभियान चलाकर बिखरी हुई कंटीली झाड़ियों व कांच के टुकड़ों को संग्रहीत कर काफी दूर डाला गया. इस स्वच्छता अभियान ने जैसलमेर भ्रमण पर आए विदेशी मेहमानों को भी आकर्षित किया.

पॉलीथिन से मुक्त करने के लिए सतत प्रयासों की आवश्यकता:  
जिला कलेक्टर नमित मेहता ने बताया की जैसलमेर के खास पर्यटन केन्द्रों में गड़ीसर सुमार हैं, गड़ीसर झील को प्रदूषण से खासकर पॉलीथिन से मुक्त करने के लिए सतत प्रयासों की आवश्यकता हैं जिसके लिए जिला प्रशासन ग्रुप फॉर पीपल के साथ मिल कर आम जन की भागीदारी में वृहद् स्तर पर श्रमदान का आयोजन किया गया. उन्होंने कहा की सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहरों का सरंक्षण करने की जिम्मेदारी हमारी हैं हमे इस और प्रयास करने होंगे. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in