नई दिल्ली 2 मई का इतिहास- आज का दिन बना कला और फिल्म से जुड़ी दो बड़ी घटनाओं का गवाह

2 मई का इतिहास- आज का दिन बना कला और फिल्म से जुड़ी दो बड़ी घटनाओं का गवाह

2 मई का इतिहास- आज का दिन बना कला और फिल्म से जुड़ी दो बड़ी घटनाओं का गवाह

नई दिल्ली: इतिहास में दो मई का दिन कला और फिल्म से जुड़ी दो बड़ी घटनाओं के लिए दर्ज है. भारतीय सिने जगत के निर्माता, निर्देशक और लेखक सत्यजीत रे का जन्म दो मई को ही हुआ था. महान चित्रकार लिआनार्दो द विंची आज ही के दिन इस दुनिया को अलविदा कह गए थे.

देश-दुनिया के इतिहास में दो मई की तारीख पर दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है:-

1519: महान चित्रकार लिओनार्दो दा विंची का निधन.

1921: पद्म भूषण, पद्म विभूषण, भारत रत्न और ऑस्कर अवॉर्ड से अलंकृत फ़िल्म निर्माता, निर्देशक और लेखक सत्यजीत रे का जन्म.

1924: नीदरलैंड ने सोवियत संघ को मान्यता देने से इनकार कर दिया. 

1933: जर्मनी में हिटलर ने मजदूर संघों पर प्रतिबंध लगा दिया.

1945: इटली में मौजूद जर्मन सैनिकों ने आत्मसमर्पण किया.

1949: महात्मा गांधी की हत्या के मामले में सुनवाई शुरू.

1950: फ्रांस ने कोलकाता के पास स्थित अपने उपनिवेश चंद्रनगर को भारत सरकार को सौंपा.

1952: दुनिया के पहले जेट विमान ‘डी हैविलैंड’ ने लंदन से जोहानिसबर्ग के बीच पहली उड़ान भरी.

1986: अमेरिका की 30 वर्षीय एन. बैन्क्राफ़ उत्तरी ध्रुव पर पहुंचने वाली प्रथम महिला बनीं.

1997: ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता टोनी ब्लेयर ने प्रधानमंत्री का पद संभाला. 

2003: भारत ने पाकिस्तान के साथ राजनयिक संबंधों को फिर बहाल करने की घोषणा की, जो दिसंबर 2001 में संसद पर आतंकवादी हमले के बाद तोड़ दिए गए थे. सोर्स-भाषा   

और पढ़ें