स्वर्णनगरी में होली का धमाल दिखाना हुआ शुरू

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/03/16 03:50

जैसलमेर। स्वर्णनगरी में होली का धमाल दिखाना शुरू हो गया है। होलिकाष्टक से होली की धूम भी शुरू हो चुकी है। इन दिनों दुर्ग स्थित नगर अराध्य लक्ष्मीनाथ मंदिर में फाग की धूम है। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं सहित जैसलमेर की होली के रसिया मंदिर में चल रहे फागोत्सव में हिस्सा लेने पहुंच रहे है। मंदिर परिसर फाग के दौरान श्रद्धालुओं से खचाखच भरा नजर आता है। ब्रजभाषा सहित विभिन्न छंदों पर ठाकुरजी के साथ फाग के गीतों की धूम है।

लक्ष्मीनाथजी के मंदिर में अष्टमी से शुरू हुई फाग की धूम होली तक जारी रहेगी। इस दौरान विभिन्न फाग के गीतों के पर तबले झांझ के साथ समा बांधा जाता है। बड़ी संख्या में होली के रसिया फागोत्सव में हिस्सा लेने पहुंचते है। फाग के दौरान मंदिर में फाग खेलते है। माना जाता है कि फाग के दौरान खुद लक्ष्मीनाथ जी श्रद्धालुओं के साथ फाग खेलते है।  हिंदू कैलेंडर के हिसाब से ग्यारस तिथि को जैसलमेर के राजपरिवार द्वारा लक्ष्मीनाथ जी मंदिर में फाग खेली जाएगी। इसके बाद से ही परंपरागत गैरें निकलेंगी। होली के रसियों द्वारा लक्ष्मीनाथ जी के मंदिर पहुंचकर परंपरागत रूप से होली का श्रीगणेश किया जाता है। इसके बाद धुलंडी तक मंदिर में होली की धूम रहती है। 

मरूप्रदेश के लोक जीवन में भिन्न भिन्न पर्वो, त्योहारों और मेले मगरियों में गीतों का महत्व है, ठीक उसी तरह होली के पर्व पर भी यहां के लोग अपने कठोर जीवन को सरल बनाकर फाग के गीतों में रम जाते हैं। लक्ष्मीनाथ मंदिर में सदियों से सूरदास, मीरा, चन्द्रसखी आदि कवियों के ब्रज और राजस्थानी में रचे हुए गीत गाए जाते हैं। ऐसा ही नजारा यहां मन्दिरों में भी देखने को मिलता है। होये होली खेले-खेले खेले हे लक्ष्मोरो नाथ खेलत फाग सुहावरणो, शिव के मन मायं बसे रे काशी आधी काशी मे ब्राह्मण.., रंग होली रे महाराज रंग होली रे महाराज, घडियाले रो रे गढ़ भलो रे कोय तखनत भलो.., होंये होली खेले, खेलिये महाराज, घडियालो, ब्रजमण्डल, थांरी बोली प्यारी लागे हो...मन वाला हो म्हारा राज, थांसु म्हारे हेत थांरी मजलस घणी ऎ सोहावें...। स्वर्णनगरी मे को तबले की थाप पर अबीर गुलाल, कैसू फूलो का रंग, पिचकारी से सराबोर होली के फागगीत गाते लोगो की टोलियां हर किसी के लिए आकर्षण का केन्द्र बनी रही। जैसलमेर एकादशी से शुरू होकर निकाली गई गेरो के साथ ही पहली बार होली का अहसास होने लगना शुरू हो जाता है।  

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in