हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने किया फेसबुक लाइव, 38 मिनट तक आमजन के सवालों के जवाब दिए, सुझाव पूछे

जयपुर: हाउसिंग बोर्ड की आवासीय योजनाओं से जुड़ी आमजन की जिज्ञासाओं को लेकर कमिश्नर पवन अरोड़ा आज उनसे सीधे जुड़े. पवन अरोड़ा ने हाउसिंग बोर्ड के ऑफिशियल पेज पर फेसबुक लाइव किया. लोगों ने उनसे हाउसिंग बोर्ड की योजनाओं को लेकर कई तरह के सवाल पूछे, अरोड़ा ने एक-एक कर अधिकांश लाेगों के सवालों के जवाब दिए, साथ ही हाउसिंग बोर्ड की आगामी योजनाओं के बारे में भी बताया. पिछले एक साल से आवासों की बिक्री के मामले मे 2 बार वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुके राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के कमिश्नर पवन अरोड़ा ने आज आमजन से सीधी बातचीत की. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा 38 मिनट तक फेसबुक पर लाइव रहे. उद्देश्य यही था कि लोगों के हाउसिंग बोर्ड के आवासों और व्यावसायिक सम्पत्तियों को लेकर सवालों के सीधे जवाब दिए जाएं. उनके मन में कोई शंका हो तो उसका समाधान किया जाए और कमिश्नर पवन अरोड़ा की यह पहल पहली बार में ही जबरदस्त हिट हुई.

धैर्यपूर्वक एक-एक सवाल का दिया जवाब:
मात्र 38 मिनट में 268 लोग उनसे फेसबुक पर जुड़े और अपने सवाल उनके सामने रखे. अरोड़ा ने धैर्यपूर्वक एक-एक सवाल का जवाब दिया, लोगों की जिज्ञासाओं को शांत किया और उनके सुझावों को नोट कर अमल में लाने का आश्वासन भी दिया. पवन अरोड़ा ने बताया कि आज सोशल मीडिया आमजन से जुड़ने का सशक्त माध्यम है, इसलिए उन्होंने इसकी पहल की. आपको बता दें कि हाउसिंग बोर्ड सम्पत्तियों की नीलामी के मामले में 2 बार वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुका है. हाल ही हाउसिंग बोर्ड ने अपने नवंबर 2019 के बनाए पुराने रिकॉर्ड को तोड़ा है, जिसके तहत मात्र 12 दिन में 1213 सम्पत्तियों की बिक्री कर 178 करोड़ का राजस्व अर्जित किया है.

बारां में ACB की बड़ी कार्रवाई, ग्राम विकास अधिकारी सतपाल सिंह और सरपंच पंकज मित्तल ट्रैप 

हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा के फेसबुक लाइव की बड़ी बातें
- 3 दिन बाद शुरू होने जा रहे ई-ऑक्शन को लेकर लोगों ने सवाल पूछे
- 13 से 30 जुलाई तक व्यावसायिक सम्पत्तियों का ई-ऑक्शन करेगा हाउसिंग बोर्ड
- ई-ऑक्शन के लिए अभी से दो दर्जन से ज्यादा पंजीयन हो चुके हैं
- भुगतान की शर्तें आसान की गई, इसलिए लोगों के लिए सम्पत्ति खरीदना सहज हुआ
- अब कुल राशि की 50 प्रतिशत जमा करने के लिए 1 साल तक का समय मिलता है
- मात्र 10 प्रतिशत राशि देकर अपना आवास खरीद सकते हैं
- मानसरोवर सिटी पार्क में वृहद स्तर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम होगा
- यहां कोचिंग हब बनाने को लेकर लोगों ने जिज्ञासा दिखाई है
- टेक्नोलॉजी पार्क में इंदिरा महिला शक्ति केन्द्र बनाए जाने की पहल की जा रही

हाउसिंग बोर्ड की योजनाओं में अब बढ़ रही है जनभागीदारी:
हाउसिंग बोर्ड के पिछले 1 साल में उत्थान का राज क्या है, इस तरह के सवाल जब हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर से पूछे गए तो उन्होंने सहजता से कहा कि इसके पीछे हाउसिंग बोर्ड की टीम का जोश है. हाउसिंग बोर्ड में पिछले 10 वर्षों से अधिकारियों-कर्मचारियों की पदोन्नतियां नहीं हो सकी थी. हमने उन्हें प्राथमिकता के आधार पर किया है. बाबू से लेकर चीफ इंजीनियर तक की पदोन्नतियां की गई हैं. लिहाजा पूरे हाउसिंग बोर्ड में अधिकारियों-कर्मचारियों में खुशी है और वो दुगुने जोश के साथ काम कर रहे हैं. अरोड़ा बोले कि हाउसिंग बोर्ड की योजनाओं में अब जनभागीदारी बढ़ रही है.

अब यह नहीं होगा कि मकान बनाएं और बिकें नहीं
- हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि अब यह समस्या नहीं होगी
- अब जनता की मांग के आधार पर मकान बनाए जा रहे हैं
- शिक्षकों के लिए उनकी मांग के आधार पर योजना लॉन्च की गई
- अब उन्हीं लोगों से किश्तों में पैसा लेकर मकान बनाकर हम दे रहे हैं
- शिक्षक आवास योजना के मकान बनाकर जल्द उनको सुपुर्द कर देंगे
- हाउसिंग बोर्ड अब कर्मचारियों के लिए नई आवासीय योजना लॉन्च करेगा
- इसकी लॉन्चिंग मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के हाथों कराई जाएगी

जयपुर एयरपोर्ट में चलने वाली बसों पर टैक्स वसूली पर रोक, इंडोथाई कंपनी की 8 बसों पर लगाया था 2.5 करोड़ का टैक्स

हाउसिंग बोर्ड बना रहा है नए रिकॉर्ड:
एक तरफ जहां बुधवार नीलामी उत्सव, किश्तों में आवास योजना के जरिए हाउसिंग बोर्ड नए रिकॉर्ड बना रहा है, वहीं अब 13 जुलाई से शुरू होने जा रहे व्यावसायिक सम्पत्तियों के ई-ऑक्शन में हाउसिंग बोर्ड को बड़े स्तर पर बिक्री और राजस्व संग्रहण की उम्मीद है. इसी दिशा में कमिश्नर पवन अरोड़ा ने आमजन से सीधे जुड़ने की पहल की है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि हाउसिंग बोर्ड त्यौहारी सीजन के समय में अपने पुराने रिकॉर्ड तोड़ नए रिकॉर्ड कायम करेगा और आमजन के आवास का सपना भी पूरा होगा.

...सहयोगी शिवेन्द्र परमार के साथ काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

और पढ़ें