जानिए, राजस्थान के रण में सोशल मीडिया के रास्ते पर सत्ता के सफर में कौन कितना तेज

Pawan Tailor Published Date 2018/10/12 09:38

जयपुर (शिशिर अवस्थी)। राजस्थान में चुनावी बिगुल बजने के साथ ही राजनीतिक दल मतदाताओं को लुभाने के लिए भरसक प्रयासों में जुट गए हैं। एक तरफ विभिन्न दलों के कद्दावर नेता रैलियों और जनसभाओं में जुबानी जंग लड़ते नजर आ रहे हैं, वहीं सोशल मीडिया भी इससे अछूता नहीं रहा है। चुनावों को लेकर सोशल मीडिया की भी 'जंग' छिड़ी हुई है, जिसके चलते फेसबुक, ट्वीटर समेत अन्य सोशल साइट्स पर राजनीतिक दल आक्रामक कैंपेन चला रहे हैं।

राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा की बात करें तो पार्टी ने 51 हजार बूथों में से प्रत्येक पर 1-1 आईटी कार्यकर्ता तैनात किया है। इनकी निगरानी के लिए मंडल स्तर पर 10 लोगों की टीम बनाई गई है। इसके अलावा जिला स्तर और राज्यस्तर पर अलग सोशल मीडिया टीमें कार्य कर रही हैं।

वहीं राजस्थान में सत्ता की चाबी हासिल करने के लिए जोर-शोर से प्रयास में जुटी कांग्रेस की बात करें तो पार्टी ने पिछले चुनावों से सबक लिया है और सोशल मीडिया पर खास ध्यान दे रही है। हाल ही में प्रोजेक्ट 'शक्ति' लॉन्च किया है और इसके जरिए करीब 8 लाख युवाओं को अपने साथ जोड़ा है। ऐसे में यह जान लेना जरूरी हो जाता हैं कि सोशल मीडिया पर नेताओं की क्या सक्रियता है।

कांग्रेस में कौन कितना एक्टिव :
अशोक गहलोत : ट्विटर 441k , फेसबुक 1.6M
राजस्थान के पूर्व मुख्यमंञी और AICC के महासचिव, फेसबुक से ज्यादा ट़वीटर पर सक्रिय। इन दिनों केंद्र और राज्य दोनों से जुड़े मुद्दों पर दो से तीन ट्वीट बम छोड़ ही देते हैं। साहब सोशल मीडिया पर बेहद रेस्पोंसिव भी हैं।
सचिन पायलट : ट्विटर 509k, फेसबुक 2.1M
पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राजस्थान PCC के अध्यक्ष। यह भी अपनी प्रतिक्रिए फेसबुक से ज्यादा ट़वीटर पर ही देना पंसद करते हैं। राज्य से जुड़े मुद्दों पर सरकार को घेरने में सबसे आगे। सोशल मीडिया पर कम रेस्पोंसिव।
अशोक चांदना : ट्विटर 29.2k, फेसबुक 453k
यूथ कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष। ट्वीटर एवं फेसबुक दोनों पर ही सक्रीय, राहुल गांधी बड़े फैन हैं और राहुल गांधी के साथ की कोई हर तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं।
रामेश्वर डूडी : ट्विटर 19.2k, फेसबुक 108k
विधायक एवं नेता प्रतिपक्ष। ट्वीटर एवं फेसबु​क दोनों पर एक सी ही पोस्ट करते हैं, लेकिन मुद्दों पर प्रतिक्रियाएं देने की बजाय अपनी वीडियो एवं फोटो शेयर करने में ज्यादा रूचि रखते हैं।
सीपी जोशी : ट्विटर 198k, फेसबुक 314K
पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं पूर्व आरसीए अध्यक्ष : ट्वीटर एवं फेसबुक दोनों पर सक्रीय, लेकिन ट्वीटर पर राहुल के बड़े फॉलोअर्स हैं। राहुल के हर ट्वीट को रीट्वीट करते हैं, जबकि फेसबुक पर त्यौहारों की शुभकामनाएं एवं बधाई संदेशों के अलावा अपनी तस्वीरें साझा करते में ज्यादा रूचि।
गोविंद सिंह डोटासरा : ट्विटर 2263, फेसबुक 74k
उपनेता प्रतिपक्ष : फेसबुक एवं ट्वीटर पर एक सी पोस्ट। साहब न्यूज पेपर बेवसाइड की खबरों को, जिसमें उनके नाक का जिक्र हो रहा है, उसकी कटिंग को शेयर करना बेहद पंसद करते हैं।
धीरज गुर्जर : ट्विटर 11.7k, फेसबुक 476K
कांग्रेस विधायक : शुभकामनाएं और बधाई संदेश के अलावा न्यूज पेपर एवं चैनल पर चली खबरों पर सरकार के खिलाफ प्रतिक्रिया देने में बेहद रूचि रखते हैं।
देवेद्र यादव : ट्विटर 5576, फेसबुक 29k
कांग्रेस विधायक : शुभकानाएं और बधाई संदेश के अलावा, राहुल के बड़े फॉलोअर्स।
प्रतापसिंह खाचरियावास : ट्विटर 4621, फेसबुक 180k
कांग्रेस जयपुर शहर अध्यक्ष : अपने आपको ट्वीटर पर वन लाइन का बड़ा खिलाड़ी समझते हैं। मुद्दा चाहे केंद्र का या राज्य का एक लाइन में प्रतिक्रिया आना जरूरी। फेसबुक पर अपनी तस्वीरें अपने कामों का तस्वीरें पोस्ट करने में ज्यादा रूचि

और भाजपा में कौन कितना एक्टिव :
वसुंधरा राजे : ट्विटर 3.49M, फेसबु​क 9.3M
मुख्यमंत्री, राजस्थान सरकार : ट्विटर और फेसबुक, दोनों पर सक्रीय, सोशल मीडिया पर बेहद गंभीरता एवं जिम्मेदार दिखाई देती हैं। बेकार की सोशल मीडिया वॉर से दूरी बनाकर रखती हैं। 
अशोक परनामी : ट्विटर 156k, फेसबुक 386k
पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक : ट्विटर और फेसबुक दोनों पर सक्रीय। दोनों पर ही राजस्थान भाजपा के कार्यों एवं तस्वीरों को शेयर करना। यह भी बेकार की सोशल मीडिया वॉर से बचते हैं।
अरूण चतुर्वेदी : ट्विटर 7147, फेसबुक 59k
समाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री, राजस्थान सरकार : सोशल मीडिया पर 2014 में आ गए थे, लेकिन बीच में सक्रीयता कम थी। इन दिनों बेहद सक्रिय हैं और अपनी तस्वीरें एवं विभाग के कामों के अलावा यह भी सोशल वॉर में पड़ने से बचते हैं।
रामचरण बोहरा : ट्विटर 61.9k, फेसबुक 338k 
जयपुर शहर सांसद : 2014 में सांसद बनने के साथ ही सोशल मीडिया की सक्रियता बढ़ी। सीएम राजे की पोस्ट एवं अपने लोकसभा क्षेत्र में हो रहे कामों को शेयर करने में रूचि। कभी कभी अनावश्यक सोशल मीडिया वॉर में पड़ जाते हैं।
अशोक लाहोटी : ट्विटर 2808, फेसबुक 122k
मेयर जयपुर : अभी मेयर बनने के बाद सोशल मीडिया पर सक्रीय हुए। साहब अपनी तस्वीरें एवं निगम के कामों के अलावा सोशल मीडिया पर कम से कम प्रतिक्रियाएं देते हैं। 
मनोज राजौरिया : ट्विटर 8288, फेसबुक 497k
सांसद करौली—धौलपुर : ट्वीटर पर सबसे ज्यादा सक्रिय। क्रेद्र से जुड़े मुद्दों पर ज्यादा प्रतिकियाएं देते हैं।
गजेंद्र सिंह शेखावत : ट्विटर 65.7k, फेसबुक 307k
केंद्रीय मंत्री एवं जोधपुर सांसद : सोशल मीडिया पर सक्रीयता साहब को लाइम लाइट में लेकर आई। सांसद साहब से ट्वीटर पर कोई भी आम आदमी असानी से जुड़ सकता है। देर सवेर सांसद साहब का जवाब जरूर आता है।
सांसद सीपी जोशी : ट्विटर 8,718, फेसबुक 121k
सांसद चित्तौड़गढ़ : फेसबुक पर ज्यादा सक्रिय। अपनी तस्वीरों के अलावा प्रधानमंत्री के से जुड़ी तस्वीरों को शेयर करना ज्यादा पंसद करते हैं।
निहाल चंद मेघवाल, सांसद गंगानगर : ट्विटर 14.4k, फेसबुक 226k
ओम बिड़ला : ट्विटर 14.4k, फेसबुक 63k
कोटा सांसद : सांसद साहब हर सोशल मीडिया वॉर में बढ़—चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। सरकार केंद्र की हो या राज्य की अगर कोई अरोप लगाए। साहब का जवाब आना तय। 
वासुदेव देवनानी : ट्विटर 54.4k, फेसबुक 223k
शिक्षा राज्य मंत्री : केवल विभाग एवं सरकार के कामों से संबंधित पोस्ट एवं शेयर करना पंसद करते हैं। सोशल मीडिया पर संवाद करना कतई पंसद नहीं करते।
पीपी चौधरी : ट्विटर 48.6k, फेसबुक 643k
केंद्रीय मंत्री एवं सांसद पाली राजस्थान : मंत्रीजी केंद्र सरकार के कामों के अलावा पीएम मोदी की स्पीच शेयर करना बेहद पंसद करते हैं। साहब भी सोशल मीडिया पर रेस्पोंसिव  कम हैं।
अर्जुन राम मेघवाल : ट्विटर 111k, फेसबुक 219k
केंद्रीय मंत्री एवं बीकानेर सांसद : जोधपुर सांसद बनने के बाद साहब सक्रीयता में नंबर टू। साहब सोशल मीडिया पर बेहद रेस्पोंसिव हैं। केंद्र एवं राज्य दोनों ही मुद्दों पर बढ़—चढ़ कर हिस्सा लेते हैं।
संतोष अहलावत, झुंझूनूं सांसद : ट्विटर 10.9k, फेसबुक 710k
अभिषेक मटोरिया, नोहर विधायक : ट्विटर 2460, फेसबुक 24k
सुमेधानंद सरस्वती, सीकर सांसद : ट्विटर 5330, फेसबुक 264k
देवजी पटेल, जालोर-सिरोही सांसद : ट्विटर 7869, फेसबुक 206k
राहुल कास्वां, चूरू सांसद : ट्विटर 29.4k, फेसबुक 38k
दुष्यन्त राजे : ट्विटर 27.6k, फेसबुक 400k
मुख्यमंत्री राजे के पुत्र एवं झालावाड़ बारां सांसद : सोशल मीडिया पर सरकार के कामों को बेहद अच्छी प्रमोट करते हैं। सोशल वॉर से दूरी बनाकर चलते हैं। सोशल मीडिया का ज्यादा उपयोग शुभकामनाएं एवं बधाई देने में करते हैं। सोशल मीडिया पर रेस्पोंसिव हैं।

बहरहाल, सोशल मीडिया के रास्ते सत्ता के शिखर तक पहुंचने के क्रम में इन दिनों सूबे के तमाम राजनेता करीब करीब एक्टिव हैं और चुनावी मैदान में सोशल मीडिया के जरिये भी वार लगातार तेज होते जा रहे हैं। ऐसे में भले ही सत्ता की चाहत में कांग्रेस पार्टी चुनावी समर में पूरी तैयारी के साथ उतरी हो, लेकिन सोशल मीडिया सक्रियता में अब भी भाजपा से कोषों दूर ही नजर आती है। इन तमाम हालात में सवाल यह भी उठता है कि अब जब नेता ही सक्रिय नहीं तो जनता से संवाद करेगा कौन?

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

1 PRIYANKA GANDHI

7
6
3
ACB Team ने Rescue Inspector महेंद्र कुमार को रिस्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया
जानिए गुस्से को कम करने के दिव्य मंत्र और आज के चमत्कारी टोटके|Good Luck Tips
AICC महासचिव और राजस्थान प्रभारी Avinash Pande से बेबाक बातचीत | Exclusive Interview
Big Fight Live | \'\'कमल\' के कुनबे में कलह !\' | 22 JAN, 2018
loading...
">
loading...