Live News »

सऊदी अरब में फंसे शेखावाटी के सैकड़ों लोग, फोन पर बात होना भी मुश्किल

सऊदी अरब में फंसे शेखावाटी के सैकड़ों लोग, फोन पर बात होना भी मुश्किल

उदयपुरवाटी(झुंझुनू)। सात समुंदर पार परिवार से दूर विदेश में अच्छी कमाई करने की तमन्ना लेकर परिवार को छोड़कर जाने वाले श्रमिक अब सऊदी अरब बंधक बनकर रह गए। इतना ही नहीं शेखावाटी के सैकड़ों लोग विदेश में अच्छी कमाई करने गए लोगों को बंधक बना दिया। कंपनी संचालक रातों-रात कंपनी बंद कर के भाग जाने के कारण वे काफी संकट में है।  कंपनी संचालकों ने शेखावाटी के लोगों को बंधक बना दिया। 

लोगों के पास अब ना तो भारत अपने घर आने के लिए कंपनी की ओर से दिया जाने वाला लेटर है ना ही टिकट के रुपए हैं जिसमें उदयपुरवाटी वार्ड नंबर 17 शाहिद अहमद, झुंझुनू वार्ड नंबर 9 मोहम्मद आसिफ,सीकर वार्ड नंबर 15 मोहम्मद जावेद,सीकर मोहम्मद शुफीगुल्ला, सीकर वार्ड नंबर 21 अशफाक, नवलगढ़ वार्ड नंबर 14 मौसीम मुकुंदगढ़ वार्ड नंबर 18 अजीज, झुंझुनू वार्ड नंबर 33 मोहम्मद जावेद, नवलगढ़ बाय वार्ड नंबर 10  मुलचंद कलावत, घोड़ीवारा वार्ड नंबर 4 सुभारती, चिड़ावा वार्ड नंबर 8 सुभाष कुमार, नागौर वार्ड नंबर 6 राजू राम, खेतडी वार्ड नंबर 2 रंजीत सिंह, चूरू वार्ड नंबर 4 दीर सिंह, सीकर मुहारदिल तंवर, झुंझुनू बिदासर वार्ड नंबर 3 महेश कुमार, सऊदी अरब की j&p कंपनी में पिछले 8 महीने से श्रमिक बंधक बने हुए हैं जिसके चलते शेखावाटी के सैकड़ों लोगों ने सोशल मीडिया के माध्यम से स्वदेश आने के लिए गुहार लगा रहे हैं। 

अब उन लोगों के पास ना तो खाने पीने का सामान है और ना ही भारत आने के लिए रूपये । कंपनी ने पिछले 8 महीने से सभी शेखावाटी के श्रमिक को बंधक बना रखा है। कुछ दिन पहले विदेश में फंसे लोगों से बात होना भी बंद हो गई। विदेश में फंसे सभी शेखावाटी के लोगों के बुरे हाल हो रहे हैं और इधर उनके परिजन उनके माता-पिता का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा है।

और पढ़ें

Most Related Stories

उदयपुरवाटी नगरपालिका के दो सफाई कर्मचारियों पर जानलेवा हमला

उदयपुरवाटी नगरपालिका के दो सफाई कर्मचारियों पर जानलेवा हमला

उदयपुरवाटी(झुंझुनू): कस्बे में नगर पालिका के सफाई कर्मचारी के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है. कस्बे के भैरू घाट नाले पर घुमचक्कर के निकट नालियों की सफाई कर रहे नगरपालिका सफाई कर्मचारी पर अचानक जानलेवा हमला किया गया है जिसमें मौके पर तैनात दो कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गए. घायल कर्मचारियों को उदयपुरवाटी के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवा दिया गया है. कर्मचारियों के साथ मारपीट करने वाले तीन से चार बदमाश मौके से फरार हो गए. मारपीट की सूचना के बाद नगरपालिका के सभी कर्मचारी एकत्रित होकर पुलिस थाने के बाहर धरने पर बैठ गए हैं. वहीं कर्मचारियों की मांग है कर्मचारी के साथ मारपीट करने वाले आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर किया जाए अन्यथा कर्मचारी कार्यों का बहिष्कार करते हुए धरने पर बैठ गए हैं और मारपीट करने वाले आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की है. वहीं कचरे से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली आस टेम्पू पुलिस थाने के बाहर लाइन से खड़ा कर दिया गया है और नगरपालिका के कर्मचारियों ने कार्य का बहिष्कार कर दिया. 

सफाई कर्मचारियों में भारी आक्रोश: 
इस दौरान कुछ राजनीतिक में अपनी दलाली करने वाले राजनेता अपनी राजनीति चमकाने के लिए मारपीट हुई कर्मचारी को दबाते हुए उस को डरा धमका कर पुलिस थाने में मामला दर्ज नहीं कराने की चेतावनी दे रहे हैं. जिसके बाद कर्मचारियों में और भी भारी आक्रोश देखने को मिला है. मारपीट में घायल हुए कर्मचारी को लोगों के द्वारा डराया धमकाया जा रहा है. लेकिन मारपीट होने वाले कर्मचारी ने निडर होकर उदयपुरवाटी पुलिस थाने में मारपीट करने वाले तीन से चार बदमाशों के खिलाफ पुलिस थाने में परिवाद पेश कर दिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उदयपुरवाटी पुलिस ने मौके से दो आरोपियों को फिलहाल हिरासत में लेने की भी बात सामने आ रही है. वह कर्मचारियों ने कहा है अगर मामला दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई या गिरफ्तार नहीं किया गया जब तक पुलिस थाने के बाहर से नहीं उठेंगे इस दौरान नगरपालिका के सभी कर्मचारी पुलिस थाने के बाहर धरने पर बैठ गए हैं. जबकि नगर पालिका प्रशासन के उच्च अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे हैं. वहीं दूसरी ओर सफाई कर्मचारियों के ठेकेदार भी मौके पर नहीं पहुंचे हैं सफाई कर्मचारी ठेकेदार मामले को रफा-दफा करने के लिए कर्मचारी पर ही दबाव बना रहे हैं. 
 

Open Covid-19