Nagaur: पति पर पत्नी के प्रेमी की हत्या का आरोप, पति को छोड़ लिव इन में रह रही थी विवाहिता

Nagaur: पति पर पत्नी के प्रेमी की हत्या का आरोप, पति को छोड़ लिव इन में रह रही थी विवाहिता

नागौर: जिले के रोल कस्बे से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है. जहां एक विवाहिता का अपने प्रेमी (lover) के साथ लिव इन रिलेशनशिप (live-in relationship) में रहना उसके पति को ऐसा नागवार गुजरा की पति ने अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ मिलकर पहले तो पत्नी के साथ रह रहे उसके प्रेमी इंद्रचंद का अपहरण कर लिया, फिर उसकी बुरी तरह से पिटाई की. 

मारपीट के बाद गंभीर हालत में इंद्रचंद को रोल सालवा की सुनसान सड़क के किनारे फेंक कर भाग गए. सुबह रास्ते से गुजर रहे कुछ लोगों ने इन्द्रचन्द से बात कर उसके परिजनों को सूचना दी. इसके बाद इन्द्रचन्द को परिजनों ने घायल हालत में जेएलएन अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां से उसे जोधपुर रेफर किया गया. जोधपुर में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

इंद्रचंद कई घंटे तक सड़क किनारे दर्द से तड़पता रहा:
जानकारी के मुताबिके इंद्रचंद के साथ बुरी तरह से मारपीट की गई. वह कई घंटे तक सड़क किनारे दर्द से तड़पता रहा. सुबह हुई तो उसने वहां से गुजर रहे राहगीरों को अपनी आपबीती सुनाई. इस दौरान कुछ राहगीरों ने उसका वीडियो भी बनाया और वायरल कर दिया लिया. वायरल हुई वीडियो मे घायल हालत में इन्द्रचन्द ने मोजीराम, लक्ष्मण, हरिराम, सुरेश, दिनेश व एक अन्य पर मारपीट का आरोप लगाया. सूचना पर मौके पर पहुंचे परिजन उसे इलाज के लिए नागौर के JLN हॉस्पिटल ले गए, जहां से उसे जोधपुर रेफर कर दिया गया. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

महिला इंद्रचंद को छोड़ने के लिए तैयार नहीं हुई:
पुलिस के अनुसार विवाहिता ने पति को छोड़ दिया था. उसके दो बच्चे हैं. लेकिन, इसी बीच महिला इंद्रचंद के सम्पर्क में आई और दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ती चली गईं. इससे उसका पति परेशान रहने लगा. जब विवाहिता इंद्रचंद के सम्पर्क में ज्यादा रहने लगी तो पति उसको नागौर लेकर आ गया. बावजूद महिला इंद्रचंद को छोड़ने के लिए तैयार नहीं हुई. करीब बीस दिन से दोनों साथ रहने लगे थे. यह बात पति व उसके परिजनों को नागवार गुजरी. इस बात को लेकर आरोपियों ने इंद्रचंद के साथ मारपीट करते हुए उसको रोल इलाके में फेंक दिया. पुलिस के अनुसार विवाहिता का एक बेटा पति के साथ रहता है. जबकि दूसरा छोटा बेटा विवाहिता के साथ ही रहता है.

पुलिस पर भी आरोपियों से मिलीभगत के गंभीर आरोप:
इन्द्रचन्द की मौत के बाद उसका शव नागौर लाया गया और जेएलएन अस्पताल की मोर्चरी में पोष्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया. दूसरी ओर विवाहिता ने मीडिया से रूबरू होकर पुलिस पर कार्रवाई नही करने के आरोप लगाए है. विवाहिता ने बताया कि कुछ दिन पहले उसने खुद जिले की पुलिस अधीक्षक श्वेता धनकड़ के सामने पेश होकर जान का खतरा होने का अंदेशा जताया था, लेकिन पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की. वहीं विवाहिता ने स्थानीय रोल थाना पुलिस पर भी आरोपियों से मिलीभगत के गंभीर आरोप लगाए है. इन्द्रचन्द की मौत के बाद बैकफुट पर आई रोल थाना पुलिस ने आरोपी पति सहित 4 के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर, फरार हुए आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. 

और पढ़ें