Live News »

VIDEO: IAS नवीन महाजन ने आल इंडिया सिविल सर्विसेज टेनिस में जीता गोल्ड

VIDEO: IAS नवीन महाजन ने आल इंडिया सिविल सर्विसेज टेनिस में जीता गोल्ड

जयपुर। राजस्थान के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नवीन महाजन ने खेल की दुनिया में भी कमाल कर दिया है। नवीन महाजन ने पुणे में आयोजित ऑल इंडिया सिविल सर्विसेज टेनिस में डबल्स् का गोल्ड जीत लिया। उन्होंने 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में जयपुर के ही जगदीश तंवर के साथ खेलते हुए गोल्ड मैडल जीता। नवीन महाजन ने लगातार दूसरी बार चैंपियन बनने का गौरव प्राप्त किया है। 

पुणे टूर्नामेंट में देशभर के कई IAS हिस्सा लेते हैं और अन्य सर्विसेज के खिलाड़ी भी टूर्नामेंट में आते हैं। नवीन महाजन ने पिछली बार जयपुर में गोल्ड मैडल जीता था। इसके अलावा महाजन ने ओपन कैटेगरी में सिल्वर मैडल भी जीता। नवीन महाजन ने सभी के बीच श्रेष्ठता साबित की। पदक जीतने के बाद जयपुर आये नवीन महाजन से खास बात की हमारे संवाददाता नरेशशर्मा ने-

और पढ़ें

Most Related Stories

VIDEO- Rajasthan Corona Update: पिछले 12 घंटे में राजस्थान में नहीं आया कोई नया पॉजिटिव केस, भीलवाड़ा से राहत की खबर

जयपुर: प्रदेश में कोरोना की दस्तक से जुड़ी राहत की खबर आई है. पिछले 12 घंटे में राजस्थान में कोई भी नया पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है. राजस्थान में आज सुबह 9 बजे तक के आंकड़े जारी किए गए हैं. पूरे राजस्थान में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 93 पर स्थिर है. वहीं इसमें 17 केस ईरान से लौटे भारतीयों के भी शामिल है. वहीं भीलवाड़ा से भी राहत की खबर आई है जहां 26 पॉजिटिव में से 13 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. 

VIDEO- WHO ने की कोरोना वायरस की हवा में मौजूदगी की पुष्टि, अपने पहले के बयान को बदला 

मंगलवार को राजस्थान में ईरान से आए 10 और भारतीय पॉजिटिव मिले: 
वहीं इससे पहले मंगलवार को राजस्थान में कोरोना वायरस का आंकड़ा तेजी से बढ़ता नजर आया. कल राजस्थान में ईरान से आए 10 और भारतीय पॉजिटिव मिले हैं. वहीं झुंझुनूं, अजमेर, डूंगरपुर और जयपुर में भी 4 पॉजिटिव केस मिले थे. ऐसे में प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 93 पहुंच गया. लेकिन लोगों की जागरूकता के चलते अब पिछले 12 घंटे में एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिलने से प्रशासन ने राहत की सांस ली है. 

LPG सिलेंडर की कीमत में कटौती, लॉकडाउन के बीच लोगों को मिली राहत 

देशभर में 1600 से ज्यादा पॉजिटिव:
अगर देशभर की बात करें तो कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. लगातार पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. अब तक देश में 1600 से ज्यादा पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं. वहीं करीब 50 लोगों की मौत इसकी चपेट में आने से हो गई है. राजधानी दिल्ली में भी कोरोना वायरस के 23 नए केस सामने आए हैं, जिसके बाद यहां पर मरीजों की संख्या 120 हो गई. अगर बात करें महाराष्ट्र की, तो यहां पर कोरोना वायरस की वजह से सबसे ज्यादा हालात खराब है. महाराष्ट्र में कोरोना पॉजिटिव मरीजों को आंकडा 302 से ज्यादा हो गया है. जिसमें 10 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र के अलावा केरल, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली सहित कई राज्यों में कोरोना तेजी से फैल रहा है. 


 

VIDEO- WHO ने की कोरोना वायरस की हवा में मौजूदगी की पुष्टि, अपने पहले के बयान को बदला

जयपुर: भारत समेत पूरी दुनिया में कहर बरपा रहे कोरोना वायरस की हवा में मौजूदगी को लेकर कई तरीके के दावे किए जा रहे हैं. लेकिन अब WHO ने भी इसकी हवा में मौजूदगी को लेकर पुष्टि कर दी है. WHO के अनुसार कोरोना वायरस हवा में 8 घंटे या उससे अधिक समय तक रह सकता है. इसके साथ ही WHO के अनुसार कोरोना वायरस कॉपर, स्टील पर 2 घंटे तक रह सकता है. 

हम वायरस से लड़ रहे है जनता से नहीं: हाइकोर्ट

हर किसी को हर जगह मास्क पहनना आवश्यक:
वहीं पेपर और प्लास्टिक पर यह 3 से 4 घंटे तक जीवित रह सकता है. इसलिए WHO ने लोगों को आगाह करते हुए कहा कि हर किसी को हर जगह मास्क पहनना आवश्यक है. इसके साथ ही सभी को सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचना चाहिए. आपको बता दें कि WHO ने अपने पहले के बयान को बदला है. इससे पहले WHO ने कहा था कि कोरोना वायु जनित नहीं है. 

चिकित्साकर्मियों को अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता:
WHO ने कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है कि चिकित्सा कर्मी जब मरीजों की देखभाल कर रहे हैं तो उन्हें अतिरिक्त सावधानी बरतने की आश्यकता है. विश्व स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वायरस श्वसन रोग मानव-से-मानव संपर्क, छींक और खांसी के साथ-साथ निर्जीव वस्तुओं पर छोड़े गए कीटाणुओं के माध्यम से फैलता है. ऐसे में इन जीचों पर विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है. 

Corona Update: पूरे देश में कोरोना का प्रकोप, 1,590 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, 47 लोगों की मौत

हर संदिग्ध मामले का परीक्षण करें:
इसके साथ ही WHO ने विश्व के सभी देशों को एक संदेश देते हुए कहा कि इसका अभी सिर्फ एक ही उपाय है कि हर संदिग्ध मामले का परीक्षण करें. वहीं अगर कोई संदिग्ध पॉजिटिव मिलता है तो उसे अलग रख कर यह पता लगाएं कि वे लक्षणों के विकसित होने से पहले दो दिनों से किसके संपर्क में हैं और उन लोगों का भी परीक्षण करवाएं. 
 

हम वायरस से लड़ रहे है जनता से नहीं: हाइकोर्ट

हम वायरस से लड़ रहे है जनता से नहीं: हाइकोर्ट

जयपुर: कोरोना वायरस से संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में लगाये लोकडाउन के बीच पुलिस द्वारा मारपीट की खबरों पर हाइकोर्ट ने सख्त टिप्पणी की है. जस्टिस जी आर मूलचंदानी की खंडपीठ ने कहा कि पुलिस बेहतर प्रयास कर रही है लेकिन जनता को नुकसान नही पहुँचना चाहिए. नियम तोड़ने वालो के खिलाफ पुलिस कानून के अनुसार कार्यवाही कर सकती है, लेकिन पुलिस द्वारा अत्यधिक बुरी तरह से मारपीट करने के कई वीडियो वायरल हुए है. हाईकोर्ट ने राज्य सरकार और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी कर 7 अप्रैल को सुबह 11 बजे जवाब पेश करने के दिये है.

CORONA: दुर्गाष्टमी पर घर-घर होगी मां महागौरी की पूजा, देवी मंदिरों में बिना श्रद्धालुओं के पुजारी ही करेंगे पूजा

बल प्रयोग करने का अधिकार नहीं:
अधिवक्ता आशीष दवेसर ने जनहित याचिका दायर कर कहा कि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक काम से निकलने वाले लोगों के साथ पुलिसकर्मी सख्ती से पेश आ रहे हैं. उनको मारने के साथ बुरी तरह से प्रताड़ित किया जा रहा है. जबकि पुलिस को इस तरह बल प्रयोग करने का अधिकार नहीं है. गैरकानूनी तरीके से जमा हुए लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है. 

Corona Update: पूरे देश में कोरोना का प्रकोप, 1,590 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, 47 लोगों की मौत

7 अप्रैल तक किए जवाब तलब:
जिस पर जस्टिस जी आर मूलचंदानी और जस्टिस एनएस ढड्ढा ने कहा कि कई ऐसी खबरे भी आई है. जिसमें पुलिस ने उदाहरण देने योग्य काम किया है फिर से इस विपत्ति के समय पुलिस जनता को नुकसान पहुंचाए बिना कानूनी कार्रवाई कर सकती है. अदालत ने राज्य सरकार और पुलिस महानिदेशक से इस संबंध में रिपोर्ट के साथ 7 अप्रैल तक जवाब तलब किया है.

कोरोना संकट को लेकर मंत्रिपरिषद में अहम निर्णय, मार्च माह के वेतन का हिस्सा स्थगित

कोरोना संकट को लेकर मंत्रिपरिषद में अहम निर्णय, मार्च माह के वेतन का हिस्सा स्थगित

जयपुर: कोरोना संकट को लेकर मंगलवार को सीएमआर में मंत्रिपरिषद की बैठक हुई. जिसमें कोरोना संकट को लेकर अहम निर्णय​ लिया गया. बैठक में CM से लेकर अधिकारी-कर्मचारियों के मार्च माह के वेतन का हिस्सा स्थगित किया गया है. इस राशि से जरूरतमंदों को 1500 रुपए अनुग्रह राशि मिलेगी. मंत्रिपरिषद की बैठक में यह अहम निर्णय लिया गया. 

मंत्रिपरिषद की बैठक में हुआ निर्णय:
मंत्रिपरिषद ने यह निर्णय किया कि मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री, मंत्रीगण, विधानसभा अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष, मुख्य सचेतक, उप मुख्य सचेतक, समस्त विधायकगण के मार्च महिने के सकल वेतन (ग्रोस सैलेरी) का 75 फीसदी  हिस्सा स्थगित (डेफर) रखा जाएगा. इसी तरह अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों का मार्च माह का 60 प्रतिशत वेतन, राज्य सेवा एवं अधीनस्थ सेवा के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का 50 प्रतिशत वेतन तथा चतुर्थ श्रेणी कार्मिकों को छोड़कर अन्य कार्मिकों का मार्च माह के सकल वेतन (ग्रोस सैलेरी) का 30 प्रतिशत वेतन स्थगित रखा जाएगा.

Coronavirus: मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद

30 प्रतिशत हिस्सा भी स्थगित:
साथ ही सेवानिवृत्त पेंशनर्स की मार्च माह की सकल पेंशन का 30 प्रतिशत हिस्सा भी स्थगित रखा जाएगा. परन्तु चिकित्सा, स्वास्थ्य सेवाओं के सभी संवर्गों के अधिकारियों-कर्मचारियों, पुलिसकर्मियों, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों,संविदा एवं मानदेय पर कार्यरत कार्मिकों को वेतन स्थगन से मुक्त रखा गया है. 

कोरोना संकट: 20 महिलाओं के साथ थाईलैंड के राजा का जर्मनी पलायन, आइसोलेशन के लिए चुना शाही होटल 

CORONA: महेश जोशी की पहल, सीएम राहत कोष में 1 करोड़ 11 लाख रुपए की अनुशंषा

जयपुर: कोरोना से उत्पन्न असामान्य परिस्थितियों से निपटने के लिए मुख्य सचेतक डॉ महेश जोशी ने अपने विधायक कोष से 1 करोड़ 11 लाख की सहायता राशि सीएम रिलीफ़ फंड के प्रदान करने की अनुशंसा की है.इस बाबत डॉ जोशी ने मुख्य कार्यकारी अधिकारी को पत्र लिखा है और अपने विधानसभा क्षेत्र हवामहल में आमजन के लिए चिकित्सकीय सामग्री और खाद्य सामग्री क्रय करने के लिए आवश्यकतानुसार उपयोग में लेने का आग्रह किया है.

सीएमआर में मंत्री परिषद की बैठक खत्म, कोरोना मामले में सरकार द्वारा लिए गए फैसले की जानकारी दी

पूरे हवामहल क्षेत्र को करवाएंगे सेनेटाइज:
गौरतलब है कि इससे पहले डॉ जोशी ने 1 लाख की सहायता राशि अपने विधायक कोष से सीएम रिलीफ़ फंड में प्रदान किए जाने का पत्र भी मुख्य कार्यकारी अधिकारी को लिखा था.बता दें कि डॉ जोशी पूरे हवामहल क्षेत्र को सेनेटाइज करने के लिए करीब 40 छोटे स्प्रेयर और 5 मध्यम आकार की जेट मशीनें और 650 लीटर सोडियम हाइपो क्लोराइड केमिकल भी नगर निगम को निजी तौर पर क्रय करके उपलब्ध कर चुके हैं. जयपुर में उनकी सक्रियता देखने लायक है.

Coronavirus: मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद

सीएमआर में मंत्री परिषद की बैठक खत्म, कोरोना मामले में सरकार द्वारा लिए गए फैसले की जानकारी दी

सीएमआर में मंत्री परिषद की बैठक खत्म, कोरोना मामले में सरकार द्वारा लिए गए फैसले की जानकारी दी

जयपुर: प्रदेश सरकार कोरोना संकट को लेकर गंभीर है. सीएम अशोक गहलोत हर रोज कोरोना पर फीडबैक ले रहे है. सोमवार को भी कोरोना को लेकर सीएमआर में बैठक हुई थी. वहीं मंगलवार को भी सीएमआर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक हुई. जिसमें तमाम मंत्रियों ने शिकरत की. इस बैठक में डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी मौजूद रहे. कोरोना के खिलाफ जंग में सीएम गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट की दो दिन में लगातार दूसरी बार मुलाकात है. बैठक में कोरोना सं​कट पर विशेष विचार मंथन किया गया. बैठक में कोरोना मामले में सरकार द्वारा लिए गए फैसले की जानकारी दी गई. इस बैठक में चिकित्सा विभाग ने भी कोरोना पर लिए गए फैसलों की जानकारी दी. ACS होम ने कानून व्यवस्था की स्थिति स्पष्ट की. खाद्य आपूर्ति और आपादा प्रबंधन विभाग के अफसरों ने भी फीडबैक दिया. 

Coronavirus: मोहम्मद साद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, निजामुद्दीन मरकज के मौलाना है साद

प्रवासी मजूदरों के लिए किए प्रयासों की स्टेटस रिपोर्ट पेश करे सरकार: हाईकोर्ट

प्रवासी मजूदरों के लिए किए प्रयासों की स्टेटस रिपोर्ट पेश करे सरकार: हाईकोर्ट

जयपुर: राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य में प्रवासी मजदूरों के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के प्रति संतुष्टी जतायी है. हाईकोर्ट ने अधिवक्ता जेम्स बेदी के लिखे पत्र को जनहित याचिका मानते राज्य सरकार से इस मामले में जवाब मांगा है. बेदी ने 24 मार्च को राष्ट्रीय लॉकडाउन के बाद हजारों प्रवासी मजदूरों के पलायन के दौरान हुई परेशानी को पत्र के जरिए न्यायालय के सामने रखा था. बेदी ने पत्र में कहा कि अभी भी हजारों मजदूर रास्ते में फंसे हुए है जिनके पास ना खाना है ना पानी और परिवहन सुविधा नहीं होने से पैदल चल रहे हैं उनके रहने का भी कोई इंतजाम नहीं है. 

कोरोना संकट: 20 महिलाओं के साथ थाईलैंड के राजा का जर्मनी पलायन, आइसोलेशन के लिए चुना शाही होटल

भोजन, परिवहन और आश्रय देने की कोशिश की:
जस्टिस जी आर मूलचंदानी और जस्टिस एन एस ढड्डा की खण्डपीठ ने सुनवाई के दौरान एडवोकेट जेम्स बेदी को आडियो कॉलिंग के जरिए सुनी. एडवोकेट ने कहा कि राज्य में मजदूरों के मानवीय अधिकारों के संरक्षण करने की जरूरत है.जिस पर अदालत ने कहा कि उन्होंने भी कई खबरों और वीडियों में इस बात को देखा है वैसे सरकार ने भोजन, परिवहन और आश्रय देने की कोशिश की है. लेकिन मजदूरों में भय की वजह से ऐसी परिस्थितियां बनी. सरकार ने इस दौरान क्या कदम उठाए इस संबंध में अदालत ने 7 अप्रैल को 11-45 बजे स्टेटस रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिये है. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: जयपुर का चारदीवारी इलाका रहेगा पूरी तरह सीज

VIDEO- Rajasthan Corona Update: जयपुर का चारदीवारी इलाका रहेगा पूरी तरह सीज

जयपुर: राजधानी जयपुर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलेत जयपुर का चारदीवारी इलाका पूरी तरह से सीज किया जाएगा. ACS होम राजीव स्वरूप ने प्रेसवार्ता कर इसका ऐलान किया है. प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि अतिआवश्यक काम के लिए लोग पास ले सकते हैं. चिकित्सा टीम परकोटा में सर्वे करेगी उसका सहयोग करें. परिवार के हर सदस्य की पूर्ण और सही जानकारी दें. सिर्फ और सिर्फ चिकित्सकीय टीम ही सर्वे कर रही है. 

Coronavirus Updates: कोरोना से देश में अब तक 45 मौतें, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ पहुंचा 93 

मीडियाकर्मियों और चिकित्साकर्मियों को ही छूट रहेगी:
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस दौरान सिर्फ मीडियाकर्मियों और चिकित्साकर्मियों को ही छूट रहेगी. साथ ही उन्होंने बताया कि ड्रोन और पुलिस-प्रशासन से पूरी निगरानी की जा रही है. कर्फ्यू के नियम शर्तों का उल्लंघन करने पर गिरफ्तारी होगी. वहीं उन्होंने बताया कि पास लेने के लिए मोबाइल एप का ही उपयोग करना होगा. इसके साथ ही चारदीवारी क्षेत्र से बाहर निकलने वाले लोग-वाहन सैनेटाइज होंगे. 

VIDEO: कोरोना लॉकडाउन में चिकित्सा मंत्री की मानवीय अपील, नवरात्रा की अष्टमी और नवमी पर जरूरतमंदों को खिलवाए भोजन 

रामगंज में अब तक 13 कोरोना पॉजिटिव मरीज:
प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. अगर राजधानी जयपुर के रामगंज की बात करें तो यहां अब तक 13 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं. रामगंज के 60 वर्षीय मरीज की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. यह बुजुर्ग SMS के इमरजेंसी मेडिकल ICU में भर्ती था. रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर अब केस को कोरोना आइसोलेशन में शिफ्ट किया गया है. 


 

Open Covid-19