ICC बोर्ड की बैठक : टी20 विश्व कप पर फैसले के लिये समय मांग सकता है BCCI

ICC बोर्ड की बैठक : टी20 विश्व कप पर फैसले के लिये समय मांग सकता है BCCI

ICC  बोर्ड की बैठक : टी20 विश्व कप पर फैसले के लिये समय मांग सकता है BCCI

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) बोर्ड की गुरुवार को होने वाली वर्चुअल बैठक में भारत की T-20 विश्व कप की मेजबानी पर निर्णय टलना तय है क्योंकि भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) इस पर अंतिम फैसला करने के लिये एक महीने का समय मांगेगा. पहले यह फैसला किया गया था कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली स्वयं इस बैठक में मौजूद रहेंगे लेकिन अब पता चला है कि वह आनलाइन ही इसमें भाग लेंगे तथा इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के आयोजन को लेकर अमीरात क्रि​केट बोर्ड से चर्चा करने के लिये बुधवार को यूएई रवाना होंगे.

बैठक में किसी ठोस नतीजे की उम्मीद नहीं है तथा एक जुलाई के बाद बीसीसीआई एक अन्य विशेष आम बैठक (एसजीएम) बुलाएगा. आईसीसी 18 जुलाई को शुरू होने वाले वार्षिक सम्मेलन के दौरान अपने अंतिम फैसले की औपचारिक घोषणा कर सकता है. IPL के बाकी बचे मैचों का आयोजन 15 सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच संयुक्त अरब अमीरात में होगा लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड टी20 विश्व कप के आयोजन का मौका नहीं गंवाना चाहता है जिसके लिये यूएई वैकल्पिक स्थान है.

BCCI के सूत्रों ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा कि कोविड-19 के मामलों में कमी आयी है लेकिन अभी ऐसी स्थिति नहीं हैं जिसमें हम विश्व कप की मेजबानी के प्रति प्रतिबद्धता व्यक्त कर सकें. गांगुली और सचिव जय शाह ने फैसला करने के लिये एक महीने का समय मांगा है. उन्होंने कहा कि उन्हें निश्चित तौर पर सरकार से भी सलाह मिलेगी कि भारत में मेजबानी करना सही होगा या नहीं. बीसीसीआई यदि अक्टूबर-नवंबर में मेजबानी करने में सफल रहता है तो इसे नौ स्थलों के बजाय मुंबई में तीन स्थलों पर आयोजित किया जा सकता है. बीसीसीआई जिस एक अन्य मसले का सामना कर रहा है वह आईसीसी को वैश्विक प्रतियोगिताओं के लिये मिलने वाली छूट है. पता चला है कि बीसीसीआई सरकार के शीर्ष अधिकारियों से इसको लेकर चर्चा कर रहा है लेकिन इसका आसान समाधान संभव नहीं है.

इसके अलावा 2023 से 2031 तक आठ वर्षों के लिये भविष्य के दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) पर भी चर्चा होगी. इसमें द्विपक्षीय श्रृंखलाओं के अलावा ICC की प्रमुख प्रतियोगिताएं भी शामिल हैं. विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को भी लेकर भी चर्चा होगी क्योंकि महामारी के कारण इसकी शुरुआती चैंपियनशिप में कुछ श्रृंखलाओं का आयोजन नहीं हो पाया था. ICC इस खेल के वैश्विक विकास की रणनीति पर भी चर्चा करेगी जिसमें महिला क्रिकेट पर विशेष जोर दिया जाएगा. ICC इस खेल को 104 देशों में समान रूप से फैलाना चाहता है.

और पढ़ें