Live News »

फसल सीजन के बाद मार्च-अप्रैल में होगी IGNP नहरबंदी, सीएस ने दिए पेपरवर्क पूरा करने के निर्देश

फसल सीजन के बाद मार्च-अप्रैल में होगी IGNP नहरबंदी, सीएस ने दिए पेपरवर्क पूरा करने के निर्देश

जयपुर: इंदिरा गांधी नहर परियोजना के तहत फसल के बाद मार्च, अप्रैल 2020 में नहरबंदी प्रस्तावित है. ऐसे में इससे पूर्व की तैयारियों के रूप में कितना पानी छोड़ा जाए और कितना रखा जाए, इसके मद्देनजर आज सीएस डीबी गुप्ता ने अधिकारियों से पूरा फ्रेमवर्क लाकर शिड्यूल तय करने के निर्देश दिए हैं. 

सीएस ने आज जल संसाधन विभाग की बैठक लेकर अधिकारियों को कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि टेल क्षेत्र तक के किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी मिले. अधिकारियों का कहना है कि अभी नहर के पानी व्यवस्थित तरीके से नियोजित न होने से राजस्थान के पानी का काफी हिस्सा पंजाब और हरियाणा में जा रहा है. सीएस ने अधिकारियों को यह कहा कि अभी नहरबंदी में करीब 3 माह तक का समय है और ऐसे में अधिकारी ठीक तरह से पेपरवर्क करके यह सुनिश्चित कर लें कि पानी कितना छोड़ा जाए और बचे पानी का कैसे प्रबंधन हो, जिससे नहरबंदी के समय दिक्कत नहीं हो. 

उधर कुछ सेवानिवृत्त और पुराने आईएएस व आईएफएस कोर्ट के आदेश से अलॉटमेंट ईयर बदला है, जिसके चलते सीएस ने रिव्यू कमेटी की औपचारिक बैठक की. इसमें कोर्ट के नए आदेश अनुसार निर्धारित प्रमोशन तय किए. इसके चलते सेवानिवृत्त आईएएस और आईएफएस अधिकारियों के पेंशन और अन्य परिलाभों में अंतर होगा. 

... संवाददाता ऋतुराज शर्मा की रिपोर्ट 

और पढ़ें

Most Related Stories

पीएम जनधन योजना के लाभार्थियों को लेकर जिम्मेदारी, केंद्र सरकार ने देशभर के शहरी निकायों को दी जिम्मेदारी

पीएम जनधन योजना के लाभार्थियों को लेकर जिम्मेदारी, केंद्र सरकार ने देशभर के शहरी निकायों को दी जिम्मेदारी

जयपुर: केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने देशभर के शहरी निकायों को बड़ी जिम्मेदारी दी है दरअसल मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खोले गए बैंक खातों में एक मुश्त 500 रुपए की राशि डाली है जिन बैंक खातों की खाताधारक महिला है उन खातों में यह राशि डाली गई है.मोदी सरकार की ओर से सभी राज्य सरकारों को इस बारे मेंं पत्र भेजे गए हैं. केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव संजय कुमार ने प्रदेश के स्वायत्त शासन सचिव भवानी सिंह देथा को भी पत्र भेजा है. 

कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर फर्जी खबर और मैसेज फेजने वालों की अब खैर नहीं...! 

सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित की जाए:
पत्र में कहा गया है कि केंद्र सरकार की ओर से बैंक खातों में 500 रुपए डालने की जानकारी को लेकर प्रचार प्रसार किया जाए साथ ही जब महिलाएं खाते से राशि निकलवाने के लिए बैंक जाएं तो कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित की जाए. केंद्र सरकार की ओर से इस बारे में आदेश जारी होने के बाद जल्द ही स्वायत्त शासन विभाग इसको लेकर प्रदेश के शहरी निकायों को निर्देश जारी करेगा.

Rajasthan Corona Update: प्रदेशभर में 15 नए पॉजिटिव केस आए सामने, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 363

संविदा लैब टेक्निशियंस ने तीन घंटे किया कार्य बहिष्कार, प्रयोगशाला भर्ती के 1534 पदों पर नियुक्ति की मांग

संविदा लैब टेक्निशियंस ने तीन घंटे किया कार्य बहिष्कार, प्रयोगशाला भर्ती के 1534 पदों पर नियुक्ति की मांग

जयपुर: कोरोना की लड़ाई में "वॉरियर्स" की भूमिका निभा रहे संविदा लैब टेक्निशियंस ने आज सरकार के खिलाफ सांकेतिक विरोध जताया. प्रयोगशाला भर्ती के 1534 पदों पर नियुक्ति की मांग को लेकर संविदा लैब टेक्निशियंस एसएमएस मेडिकल कॉलेज के मुख्य द्वार पर जुटे और तीन घंटे धरना देकर विरोध जताया. 

Rajasthan Corona Update: प्रदेशभर में 15 नए पॉजिटिव केस आए सामने, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 363 

भर्ती के दस्तावेज सत्यापन को गुजर चुके दो साल:
इस दौरान मुख्यमंत्री निशुल्क जांच योजना संविदा कार्मिक संघ एवं राज.प्रयोगशाला सहायक सीधी भर्ती संघर्ष समिति के बैनर तले संविदा लैब टेक्निशियंस ने अपनी पीड़ा प्रशासन तक पहुंचा. उन्होंने बताया कि वर्ष 2018 में 1534 प्रयोगशाला सहायक की भर्ती निकाली गई थी. भर्ती के दस्तावेज सत्यापन को दो साल गुजर चुके है, बावजूद इसके बेरोजगारों को नौकरी का इंतजार है. योग्यता होने के बावजूद अधिकांश लैब टेक्निशियंस को संविदा पर काम करना पड़ रहा है. 

Corona Update: यूपी के 15 जिले आज रात 12 बजे से पूरी तरह से होंगे सील, आवश्यक सामानों की होगी होम डिलिवरी 

Rajasthan Corona Update: प्रदेशभर में 15 नए पॉजिटिव केस आए सामने, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 363

Rajasthan Corona Update: प्रदेशभर में 15 नए पॉजिटिव केस आए सामने, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 363

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है. प्रदेश में 15 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं. उनमें अकेले जयपुर में 9 पॉजिटिव केस चिन्हित किए गए हैं. इसके अलावा बीकानेर में 5 और जोधपुर में एक नया पॉजिटिव सामने आया है. आज दिनभर में अब तक कुल 20 नए पॉजिटिव के सामने आए हैं. ऐसे में अब तक राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 363 पहुंच गया है. 

Coronavirus  Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिए लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत 

मंगलवार को 42 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये: 
इससे पहले मंगलवार को 42 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये. इनमें से 9 जोधपुर के हैं, जिसमें 6 संक्रमित लोग व्यक्ति के परिवार के हैं. इनके अलावा, 13 मामले जैसलमेर में कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. वहीं, बांसवाड़ा में 7, जयपुर में 6, भरतपुर और बीकानेर में तीन-तीन, और चूरू में एक मामला कोरोना का आया है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 348 हो गई है. राजस्थान में अब तक कोरोना की चपेट में आने से 6 लोग जान गंवा चुके है. 

 Corona Update: यूपी के 15 जिले आज रात 12 बजे से पूरी तरह से होंगे सील, आवश्यक सामानों की होगी होम डिलिवरी 

देशभर में मरीजों की संख्या 5000 के पार:
वहीं अगर देशभर की बात करें तो यहां कोरोना के मरीजों की संख्या 5000 को पार कर चुकी है. वहीं मरने वालों का आंकड़ा 149 तक पहुंच गया है. हालांकि 400 से अधिक मरीज कोरोना को मात देकर घर लौट चुके हैं. इसके अलावा दुनिया के देशों की बात करें तो अब तक 1,430,941 केस सामने आ चुके हैं और 82,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है. कोविड-19 से सबसे ज्यादा 17,127 मौत इटली में हुई हैं. 

इम्यूनिटी बढ़ाने में असरदार है अंगूर का सेवन, होते हैं ये बेहतरीन फायदे

इम्यूनिटी बढ़ाने में असरदार है अंगूर का सेवन, होते हैं ये बेहतरीन फायदे

जयपुर: दुनियाभर में चल रहे कोरोना वायरस के खतरे के बीच रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय कर रहे हैं. हेल्थ एक्सपर्ट भी इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने की सलाह दे रहे हैं. ऐसे में आज हम अंगूर के गुणों के बारे में बता रहे हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ कई बीमारियों में लाभदायक होता है. अंगूर में एंटीवायरल गुण पाया जाता है जिसकी वजह से यह आपको विभिन्न प्रकार के संक्रामक रोगों से बचाए रखने में सुरक्षा प्रदान कर सकता है. 

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

स्ट्रांग इम्यून सिस्टम: 
अंगूर में विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है जो कि इम्यूनिटी बढ़ाने का गुण भी रखता है. इसलिए एक स्ट्रांग इम्यून सिस्टम के लिए अपनी डायट में अंगूर को आज से ही शामिल कर सकते हैं. मजबूत इम्यून सिस्टम होने के कारण आपको किसी भी प्रकार की संक्रामक बीमारी भी आसानी से नहीं होगी.

वायरल संक्रमण से सुरक्षा: 
अंगूर का सेवन आपको वायरल संक्रमण से बचाने में मदद कर सकता है. अंगूर में एंटीवायरल गुण पाया जाता है जिसकी वजह से यह आपको विभिन्न प्रकार के संक्रामक रोगों से बचाए रखने में सुरक्षा प्रदान कर सकता है. खासकर इन दिनों पूरे विश्व में महामारी के रूप में फैल चुका कोविड-19 भी एक संक्रामक रोग है जो एक लोग से दूसरे लोग तक पहुंचता है.

माइग्रेन में असरदार:
अंगूर के सेवन से माइग्रेन की स्थिति में काफी हद तक राहत पाई जा सकती है क्योंकि इसमें सूदिंग का गुण पाया जाता है जो सिर दर्द की स्थिति को कम करने में मददगार साबित हो सकता है.

​किडनी रोग का नहीं होगा खतरा:
किडनी को स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए आप भी अपनी डायट में अंगूर को जरूर शामिल करें. क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी क्रिया होने के कारण किडनी से जुड़ी होने वाली कई प्रकार की बीमारियों से बचे रहने में मदद मिल सकती है.

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल 

​​ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम:
अंगूर खाने के फायदे महिलाओं के लिए भी काफी लाभदायक हो सकते हैं क्योंकि इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण एक एंटी कैंसर एजेंट की तरह कार्य करते हैं. ऐसे में ब्रेस्ट कैंसर की रोकथाम में अंगूर का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है. 
 

राज्य सरकार ने किसानों को दी बड़ी राहत, 30 जून तक मिलेगा 5% ब्याज अनुदान का लाभ

राज्य सरकार ने किसानों को दी बड़ी राहत, 30 जून तक मिलेगा 5% ब्याज अनुदान का लाभ

जयपुर: कोरोना संकट के दौर में राज्य सरकार ने किसानों बड़ी राहत देते हुए दीर्घ कालीन कृषि ऋण लेने वाले काश्तकारों को 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान योजना की अवधि को 31 मार्च, 2020 से बढ़ाकर 30 जून, 2020 कर दिया गया है. अब समय पर ऋण का चुकारा करने वाले काश्तकारों को 6.65 प्रतिशत ब्याज दर से कृषि ऋण मिल पाएगा. 

VIDEO: मई-जून के लिए ट्रेनों में 60 फीसदी तक बुक हुई सीटें, रेलवे को एक साथ भीड़ होने से संक्रमण फैलने का डर 

योजना की अवधि को 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून तक की अनुमति:
क़ोरोना महामारी के चलते देश भर में लॉकडाउन चल रहा हैं, जिसके कारण किसानों को योजना का पूरा लाभ नही मिल पा रहा था. सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को इस संबंध में अवगत कराया गया था, जिस पर मुख्यमंत्री  गहलोत ने तुरंत ही योजना की अवधि को 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून तक करने की अनुमति प्रदान कर दी हैं. उन्होंने बताया कि योजना 1 अप्रैल, 2019 से 31 मार्च, 2020 तक की अवधि में ऋण लेने वाले सभी किसानों पर लागू थीं, जिसे अब तीन माह के लिए बढ़ाया गया हैं ताकि प्रदेश के अधिक से अधिक किसानों को योजना का लाभ मिल पाये.

कृषकों को 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान देकर उन्हें राहत प्रदान की गई: 
दीर्घ कालीन कृषि ऋण 11.65 प्रतिशत की ब्याज दर पर देय होता है तथा समय पर ऋण चुकता करने वाले कृषकों को 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान देकर उन्हें राहत प्रदान की गई है. आंजना ने बताया कि यह योजना सहकारी भूमि विकास बैंकों से दीर्घ कालीन अवधि के लिए लेने वाले ऋणों पर लागू होगी. उन्होंने बताया कि यह ब्याज दर किसी भी वाणिज्यिक बैंक द्वारा ली जाने वाली ब्याज दर से सबसे कम है. रजिस्ट्रार नरेश पाल गंगवार ने बताया कि किसानों को कृषि कार्यों के लिए ऋण की सर्वाधिक आवश्यकता होती है, लेकिन ब्याज दर सर्वाधिक होने के कारण किसान को ब्याज चुकाने में परेशानी का सामना करना पड़ता था और कृषि कार्यों में रूकावट भी पैदा होती थी. सरकार के इस निर्णय से 30 जून तक सहकारी भूमि विकास बैंकों से ऋण लेने वाले सभी किसानों को योजना का लाभ मिलेगा.

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

दीर्घ कालीन ऋण भी इस योजना में कवर होंगे:
किसान लघु सिंचाई के कार्य जैसे नवकूप/नलकूप, कूप गहरा करने, पम्पसैट, फव्वारा/ड्रिप सिंचाई, विद्युतीकरण, नाली निर्माण, डिग्गी/हौज निर्माण तथा कृषि यंत्रीकरण के कार्य जैसे ट्रेक्टर, कृषि यंत्रादि, थे्रसर, कम्बाईन हार्वेस्टर आदि को क्रय करने के लिए दीर्घ कालीन अवधि के लिए ऋण ले सकते हैं. डेयरी, भूमि सुधार, भूमि समतलीकरण, कृषि भूमि क्रय, अनाज/प्याज गोदाम निर्माण, ग्रीन हाउस, कृषि कार्य हेतु सोलर प्लांट, कृषि योग्य भूमि की तारबंदी/बाउण्ड्रीवाल, पशुपालन, वर्मी कम्पोस्ट, भेड़/बकरी/सुअर/मुर्गी पालन, उद्यानीकरण, ऊंट/बैल गाड़ी क्रय जैसी कृषि संबद्ध गतिविधियों हेतु लिए गए दीर्घ कालीन ऋण भी इस योजना में कवर होंगे. 

VIDEO: मई-जून के लिए ट्रेनों में 60 फीसदी तक बुक हुई सीटें, रेलवे को एक साथ भीड़ होने से संक्रमण फैलने का डर

जयपुर: लॉक डाउन के बाद 15 अप्रैल से ट्रेनों का संचालन शुरू होगा या नहीं. इस पर अभी रेलवे बोर्ड कोई निर्णय नहीं ले सका है. ट्रेनों की बहाली की खबर पर अभी उत्तर-पश्चिम रेलवे असमंजस में है. हालांकि 15 अप्रैल से पूर्व इंजनों और कोचों का परीक्षण करने के निर्देश मिल चुके हैं, लेकिन अंतिम निर्णय 12 या 13 अप्रैल को होने की उम्मीद है. 

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

आखिरी निर्णय आने तक लोगों से धैर्य रखने की अपील:
ट्रेनों का संचालन शुरू करने को लेकर पिछले सप्ताह रेलवे बोर्ड ने सभी 16 जोन और मंडलों के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी, जिसमें रेलवे अधिकारियों को अपने स्तर पर ट्रेनों के कोच और इंजन तैयार रखने के निर्देश दिए गए थे. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि ट्रेनों का संचालन किस तारीख से शुरू हो जाएगा. रेलवे बोर्ड ने फिलहाल आधिकारिक रूप से आखिरी निर्णय आने तक लोगों से धैर्य रखने की अपील की है. अभी तक ऐसा माना जा रहा है कि यदि लॉक डाउन की अवधि नहीं बढ़ाई गई तो 14 अप्रैल की मध्यरात्रि के बाद ट्रेनों का संचालन सुचारु हो जाएगा. ऐसे में अब जोनल रेलवेज को बोर्ड के उस निर्देश का इंतजार है, जिसमें वह किन-किन ट्रेनों को चलाने और नहीं चलाने का निर्देश जारी करेगा. 

जयपुर से जुड़ी 125 ट्रेनों में 60 फीसदी बुकिंग:
- जयपुर से ऑरिजिनेट होने वाली करीब 35 और बाईपास होकर गुजरने वाली करीब 90 ट्रेनों में 60 फीसदी बुकिंग हुई
- मई और जून माह के लिए हुई है ज्यादा बुकिंग
- हालांकि पिछले सालों के ट्रेंड को देखें तो अवकाश के दिनों के लिहाज से ये बुकिंग है कम
- क्योंकि मई-जून माह के बीच ट्रेनों में वेटिंग टिकट भी उपलब्ध नहीं होता
- वहीं अभी तक भी करीब 40 फीसदी सीट खाली पडी हुई हैं
- कोरोना के डर से इस बार लोग एसी कोच की बजाय स्लीपर में करा रहे ज्यादा बुकिंग
- कोच खुला होने और तापमान ज्यादा होने से स्लीपर में कम रहता है खतरा
- बुक हुई कुल सीट में करीब 40 फीसदी सीटें स्लीपर क्लास में बुक हुई 
- एसी कोच में कम तापमान और कोच बंद होने की वजह से रहता है ज्यादा खतरा

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल 

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि यदि 15 अप्रैल से ट्रेनें चलाई जाती हैं तो सबसे बड़ी चुनौती भयंकर भीड़ की होगी. यह भीड़ अनियंत्रित हो सकती है. क्योंकि लोग लगातार लॉक डाउन से जहां के तहां फंसे हुए हैं. ऐसे में ट्रेन शुरू होते ही सबसे पहले अपने-अपने घरों का रुख करेंगे. ऐसे में लोगों में संक्रमण कम से कम हो इसके लिए रेलवे 6 बर्थ के केबिन में 4 बर्थ ही अलॉट किए जाने पर विचार कर रहा है. इसके अलावा जनरल कोच में भी यात्रियों की संख्या निर्धारित करने पर विचार किया जा रहा है. इसे देखते हुए रेलवे हर स्टेशन पर जनरल टिकट बांटने का कोटा निर्धारित कर सकता है. स्टेशन पर ट्रेन के प्रत्येक कोच पर आरपीएफ को तैनात किया जाएगा. जो यात्रियों को एक निश्चित संख्या और दूरी पर बैठाएंगे. ऐसे में इन सभी दिशा निर्देशों पर रेलवे बोर्ड 12 से 13 अप्रैल के बीच अंतिम निर्णय लेगा. 

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल

जयपुर: राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में विवाद गहरा गया है. मुकेश भाकर के निर्वाचन के विरोध में उपाध्यक्ष बने अमरदीन फकीर भी उतर गये है, परिणामों पर सवाल उठाते हुये फकीर ने तो यहां तक कह दिया कि इस पूरे मामले में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को दखल देना चाहिए. 

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

यूथ कांग्रेस चुनाव पर प्रदेश यूथ कांग्रेस के युवाओं का भरोसा उठ गया: 
अमरदीन फ़कीर ने यूथ कांग्रेस राष्ट्रीय नेतृत्व पर सवाल खड़े करते हुए अध्यक्ष की घोषणा वापिस लेने की मांग की है. अमरदीन फ़कीर ने कहा है कि यूथ कांग्रेस चुनाव पर प्रदेश यूथ कांग्रेस के युवाओं का भरोसा उठ गया है. किसी भी प्रकार की पारदर्शिता नहीं है. पहले कुछ और परिणाम आए बाद में कुछ और घोषणा हुई इससे सीधा सवाल यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारीयों पर उठ रहा है. राष्ट्रीय पदाधिकारी पार्टी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. फ़कीर ने मुकेश भाकर के अध्यक्ष बनने पर असहमति ज़ाहिर की है.

हनुमान जयंती आज : कोरोना संकट हरेंगे संकटमोचन हनुमान, ऐसे करें घरों में पूजा -आराधना

चुनावों में कोई पारदर्शिता नहीं रही:
उन्होंने कहा कि पहले जब नतीजे आए तब लगा था कि सही चुनाव हुआ होगा, लेकिन अब नतीज़ों से लग रहा है कि यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारीयों ने सही काम नहीं किया, चुनावों में कोई पारदर्शिता नहीं रही है. अमरदीन फ़कीर ने कोरोना के बीच हुई अध्यक्ष पद की घोषणाओं को वापिस लेने के मांग की कैबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद के छोटे भाई है अमरदीन. सुमित भगासरा पहले ही विरोध जता चुके है. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल

जयपुर: राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में विवाद गहरा गया है. मुकेश भाकर के निर्वाचन के विरोध में उपाध्यक्ष बने अमरदीन फकीर भी उतर गये है, परिणामों पर सवाल उठाते हुये फकीर ने तो यहां तक कह दिया कि इस पूरे मामले में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को दखल देना चाहिए. 

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

यूथ कांग्रेस चुनाव पर प्रदेश यूथ कांग्रेस के युवाओं का भरोसा उठ गया: 
अमरदीन फ़कीर ने यूथ कांग्रेस राष्ट्रीय नेतृत्व पर सवाल खड़े करते हुए अध्यक्ष की घोषणा वापिस लेने की मांग की है. अमरदीन फ़कीर ने कहा है कि यूथ कांग्रेस चुनाव पर प्रदेश यूथ कांग्रेस के युवाओं का भरोसा उठ गया है. किसी भी प्रकार की पारदर्शिता नहीं है. पहले कुछ और परिणाम आए बाद में कुछ और घोषणा हुई इससे सीधा सवाल यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारीयों पर उठ रहा है. राष्ट्रीय पदाधिकारी पार्टी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. फ़कीर ने मुकेश भाकर के अध्यक्ष बनने पर असहमति ज़ाहिर की है.

हनुमान जयंती आज : कोरोना संकट हरेंगे संकटमोचन हनुमान, ऐसे करें घरों में पूजा -आराधना

चुनावों में कोई पारदर्शिता नहीं रही:
उन्होंने कहा कि पहले जब नतीजे आए तब लगा था कि सही चुनाव हुआ होगा, लेकिन अब नतीज़ों से लग रहा है कि यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारीयों ने सही काम नहीं किया, चुनावों में कोई पारदर्शिता नहीं रही है. अमरदीन फ़कीर ने कोरोना के बीच हुई अध्यक्ष पद की घोषणाओं को वापिस लेने के मांग की कैबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद के छोटे भाई है अमरदीन. सुमित भगासरा पहले ही विरोध जता चुके है. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट

Open Covid-19