Ministry of Education की बड़ी घोषणाः IIT, NIT में अगले साल से मातृ भाषा में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

Ministry of Education की बड़ी घोषणाः IIT, NIT में अगले साल से मातृ भाषा में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

Ministry of Education की बड़ी घोषणाः   IIT, NIT में अगले साल से मातृ भाषा में होगी इंजीनियरिंग की पढ़ाई

नई दिल्लीः हाल ही में मिनिस्ट्री ऑफ एजुकेशन ने एक बड़ी घोषणा की है जिसके अंतर्गत भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी) और राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (एनआईटी) में अगले शैक्षिक सत्र से छात्रों को उनकी मातृ भाषा में ही इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराई जाएगी. केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई एक उच्चस्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया है. 

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि तकनीकी शिक्षा, विशेष रूप से इंजीनियरिंग की शिक्षा मातृ भाषा में देने का लाभकारी निर्णय लिया गया है और यह अगले शैक्षिक सत्र से उपलब्ध होगा. इसके लिए कुछ आईआईटी और एनआईटी को चुना जा रहा है. बैठक में यह भी तय किया गया कि राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) स्कूली शिक्षा बोर्ड से जुड़े समकालीन हालात का जायजा लेने के बाद प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम लाएगी. 

अधिकारी ने कहा कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को निर्देश दिया गया है कि वह सभी छात्रवृत्तियों, फेलोशिप आदि को समय पर दिया जाना सुनिश्चित करे और इस संबंध में हेल्पलाइन शुरू करके छात्रों की सभी समस्याओं का तुरंत समाधान करे. एनटीए ने पिछले महीने ही हिन्दी और अंग्रेजी के अलावा नौ क्षेत्रीय भाषाओं में जेईई की मुख्य परीक्षा कराने की घोषणा की थी. हालांकि आईआईटी ने अभी तक यह फैसला नहीं किया है कि क्या जेईई एडवांस की परीक्षा भी क्षेत्रीय भाषाओं में कराई जाएगी. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें