नई दिल्ली इसरो मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है: जितेंद्र सिंह

इसरो मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है: जितेंद्र सिंह

इसरो मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है: जितेंद्र सिंह

नई दिल्ली: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के जीएसएलवी रॉकेट के भू-अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को कक्षा में स्थापित करने में  गुरुवार को विफल रहने के बाद केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि इस उपग्रह के प्रक्षेपण का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है. 

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) में राज्यमंत्री और अंतरिक्ष विभाग के प्रभारी सिंह ने कहा कि उन्होंने इसरो अध्यक्ष के. सिवन से मिशन को लेकर विस्तार से चर्चा की है. उन्होंने कहा कि प्रक्षेपण के पहले दो स्तर ठीक रहे लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक के ‘‘अपर स्टेज’’ में तकनीकी खामी आ गयी. 

क्रायोजेनिक अपर स्टेज में दिक्कत से मिशन नाकाम:
सिंह ने ट्वीट किया कि इसरो अध्यक्ष डॉ. के. सिवन से बात की और विस्तार से चर्चा की, पहले दो चरण ठीक रहे, लेकिन उसके बाद क्रायोजेनिक अपर स्टेज में दिक्कत आ गयी. मिशन का कार्यक्रम फिर से तय किया जा सकता है. गौरतलब है कि गुरुवार सुबह प्रक्षेपित किया गया जीएसएलवी रॉकेट देश के नए पृथ्वी अवलोकन उपग्रह ईओएस-03 को अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करने में नाकाम रहा. इसके बाद इसरो को यह घोषणा करनी पड़ी कि मिशन संपन्न नहीं हो सका. सोर्स-भाषा
 

और पढ़ें