निशानेबाजी: आईएसएसएफ ने एशिया का ओलंपिक कोटा 38 से बढ़ाकर किया 48

निशानेबाजी: आईएसएसएफ ने एशिया का ओलंपिक कोटा 38 से बढ़ाकर किया 48

निशानेबाजी: आईएसएसएफ ने एशिया का ओलंपिक कोटा 38 से बढ़ाकर  किया  48

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी महासंघ (ISSF) ने एशिया महाद्वीप के ओलंपिक कोटा स्थानों को 38 से बढ़ाकर 48 कर दिया है जिससे एशियाई देशों को फायदा होगा. ये बढ़े हुए कोटा स्थान 2024 पेरिस ओलंपिक खेलों से उपलब्ध होंगे जिनके लिए क्वालीफिकेशन की शुरुआत अगले साल से होगी. तोक्यो खेल 2020 में एशिया के लिए 38 कोटा स्थान उपलब्ध थे. 

निशानेबाजी खेल की महाद्वीपीय संस्था (एएससी) ने ट्विटर और फेसबुक पर बयान में कहा, ‘‘एशियाई निशानेबाजी परिसंघ को आईएसएसएफ से पत्र मिला है जो पुष्टि करता है कि एशिया के लिए ओलंपिक कोटा स्थानों को 38 से बढ़ाकर 48 कर दिया गया है. एसएसी ने कहा कि एशियाई निशानेबाजी परिसंघ आईएसएसएफ और इस उपलब्धि में योगदान देने वाले सभी सदस्यों के प्रति आभार व्यक्त करता है. तोक्यो ओलंपिक में रिकॉर्ड 15 निशानेबाजों ने भारत का प्रतिनिधित्व किया था लेकिन जापान की राजधानी में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद ये सभी खाली हाथ लौटे थे. 

इससे पहले 2016 रियो खेलों के लिए भी भारत ने 12 निशानेबाजों की टीम भेजी थी लेकिन वहां भी देश का कोई निशानेबाज पोडियम पर जगह नहीं बना पाया था. इस बीच हाल में आईएसएसएफ परिषद की बैठक में इसके सदस्यों को पेरिस 2024 ओलंपिक खेलों की क्वालीफिकेशन प्रक्रिया की जानकारी दी गई, इसमें 2022 से 2024 के दौरान निशानेबाजी खेल प्रतियोगिताओं के ढांचे की जानकारी भी शामिल है. इसके अलावा 2022 आईएसएसएफ चैंपियनशिप के स्वीकृत कैलेंडर के बारे में भी बताया गया. खेल की वैश्विक संस्था ने बयान में कहा कि एशिया, अमेरिका, अफ्रीका, आस्ट्रेलिया, ओसियाना और यूरोप महाद्वीप के परिसंघों के अध्यक्षों और आईएसएसएफ समिति के अध्यक्षों ने 2021 में हुए काम की जानकारी दी. सोर्स-भाषा
 

और पढ़ें