LPG से जुड़ा Business शुरू करना चाहते हैं तो मिलेगी सरकार से Help, जानिए पूरी डिटेल यहां

LPG से जुड़ा Business शुरू करना चाहते हैं तो मिलेगी सरकार से Help, जानिए पूरी डिटेल यहां

LPG से जुड़ा Business शुरू करना चाहते हैं तो मिलेगी सरकार से Help, जानिए पूरी डिटेल यहां

नई दिल्‍ली: केंद्र सरकार (Central Government) की देश भर में मार्च 2022 तक 1 लाख (LPG Delivery Center) खोलने की योजना है. इसमें ग्रामीण और अर्द्ध-शहरी इलाकों (Semi Urban Areas) पर जोर होगा. सरकार की ई-सेवा डिलिवरी इकाई CSC SPV (E service Delivery Unit) ने कहा कि उसने 3 सरकारी तेल कंपनियों BPCL, HPCL और IOC के साथ मिलकर विभिन्न राज्यों में करीब 21,000 LPG केंद्र खोले हैं.

ऐसे शुरू करें बिजनेस:
अगर आप भी नया रोजगार शुरू करना चाहते हैं तो कॉमन सर्विस सेंटर स्‍कीम (Common Service Center Scheme) आपकी मदद कर सकती है. आप सीएससी की आधिकारिक वेबसाइट https://csc.gov.in/cscspvinfo पर जाकर आसानी से CSC सेंटर के लिए अप्‍लाई (Apply) कर सकते हैं. रजिस्‍ट्रेशन के लिए ज्‍यादा दिक्‍कत भी नहीं होगी.

इन सर्विस से होगी कमाई:
CSC की मंजूरी मिलने के बाद आप बैंकिंग, बीमा, PAN कार्ड और पासपोर्ट (Banking, Insurance, PAN Card and Passport) बनवाने की सेवा दे सकते हैं. यही नहीं बिजली बिल का पेमेंट, IRCTC से टिकट बुकिंग, शिक्षा और कौशल विकास से जुड़े कोर्स की सर्विस भी दे सकते हैं. अब सरकार CSC के जरिए रसोई गैस (LPG) सिलेंडर की डिलिवरी भी कर रही है. इससे CSC की आमदनी और बढ़ेगी.

CSC SPV की मुहिम:
CSC SPV
के MD दिनेश त्यागी ने एक बयान में कहा कि BPCL के साथ मिलकर आज हमारे LPG वितरण केंद्रों (Distribution Centers) की संख्या 10,000 पहुंच गई, जो हमारे लिये बड़ी उपलब्धि है. इसके अलावा हम HPCL के साथ मिलकर 6,000 और IOC के साथ 5,000 LPG वितरण केंद्र चला रहे हैं. चालू कारोबारी साल के अंत तक हमारे एलपीजी वितरण केंद्रों की संख्या 1 लाख पहुंच जाएगी.

CSC सेंटर खुले:
CSC ने ये LPG वितरण केंद्र सभी राज्यों में खोले हैं. 5 राज्यों उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार और राजस्थान (Uttar Pradesh, Maharashtra, Madhya Pradesh, Bihar, Rajasthan) में इन केंद्रों की संख्या सबसे ज्‍यादा है. हमारा जोर ग्रामीण क्षेत्रों पर है जहां लोग अभी भी खाना पकाने के लिए लकड़ी और दूसरे प्रदूषण फैलाने वाले ईंधन (Polluting Fuels) पर निर्भर हैं. CSC अपने डिजिटल सेवा पोर्टल (Digital Seva Portal) से लाभार्थियों को LPG सिलेंडर उनके घर तक पहुंचाने में मदद करेगा.

गांव पर फोकस:
CSC SPV के CEO संजय कुमार राकेश (CEO Sanjay Kumar Rakesh) ने कहा कि हम जो LPG सेंटर का प्रबंधन कर रहे हैं, उसका मकसद गरीब परिवार को स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराना है.

और पढ़ें