इमरान खान ने दुबई के शाही परिवार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संरक्षित पक्षी का शिकार करने की अनुमति दी

इमरान खान ने दुबई के शाही परिवार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संरक्षित पक्षी का शिकार करने की अनुमति दी

इमरान खान ने दुबई के शाही परिवार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संरक्षित पक्षी का शिकार करने की अनुमति दी

इस्लामाबादः पाकिस्तान की सरकार ने बेहदी ही चौंकाने वाली घोषणा की है. जिसके तहत दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल-मख्तूम और शाही परिवार के छह अन्य सदस्यों को 2020-21 के शिकार के मौसम के दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संरक्षित पक्षी हुबारा बस्टर्ड का शिकार करने की विशेष अनुमति दी है. जिसके बाद हर कोई अवाक् रह गया है.

व्यक्तिगत रूप से अनुमति पत्र जारी किया

डॉन अखबार की खबर के अनुसार इससे पहले अरब के शाही परिवार को ऐसी अनुमति देने का विरोध कर चुके प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस बार व्यक्तिगत रूप से अनुमति पत्र जारी किए हैं. सूत्रों के हवाले से दी गई खबर के अनुसार, विदेश मंत्रालय के प्रोटोकॉल विभाग के उपप्रमुख ने प्रधानमंत्री की मंजूरी के बाद ये दस्तावेज जारी किए है.

अनुमति पत्र (परमिट) इस्लामाबाद स्थित संयुक्त अरब अमीरात के दूतावास को भेज दिए गए हैं. दुबई के शासक राशि अल-मख्तूम के अलावा जिन लोगों को परमिट जारी किए गए हैं, उनमें वलीअहद (युवराज), उपशासक, वित्त और उद्योग मंत्री, पुलिस के उपप्रमुख, सेना के एक अधिकारी, शाही परिवार के दो सदस्य और एक उद्योगपति शामिल हैं.

साल 2014 में 2,100 पक्षियों का किया था शिकार

विपक्ष में रहते हुए खान ने अरब के धनी परिवारों द्वारा संरक्षित पक्षियों के शिकार का हमेशा विरोध किया था. ये परिवार हर साल संरक्षित या लुप्तप्राय पक्षियों का शिकार करने पाकिस्तान आते हैं. सऊदी के शाहजादा सुल्तान बिन अब्दुल अजीज सउद ने कहा था कि 2014 में उन्होंने 21 दिनों में अभयारण्यों और संरक्षित क्षेत्रों में 1,977 पक्षियों का शिकार किया था.

इतना ही नहीं उनके साथ आए लोगों ने 123 पक्षियों का शिकार किया है. आपको बता दें कि उस दौरान कुल 2,100 पक्षियों का शिकार किया गया था. जिसकी काफी आलोचना हुई थी, लेकिन शिकार अभी भी जारी है. अब तो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने खुद ही ये परमिशन दे दी है. इसका क्या प्रभाव देखने को मिलेगा, ये तो वक्त ही बताएगा. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें