इस्लामाबाद इमरान खान ने अपने मंत्रिमंडल की आपात बैठक की, इस्तीफा नहीं देने का संकल्प जताया

इमरान खान ने अपने मंत्रिमंडल की आपात बैठक की, इस्तीफा नहीं देने का संकल्प जताया

 इमरान खान ने अपने मंत्रिमंडल की आपात बैठक की, इस्तीफा नहीं देने का संकल्प जताया

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार रात अपने मंत्रिमंडल की आपात बैठक की और उन्होंने इस्तीफा नहीं देने का संकल्प जताया है. हालांकि, स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक, उनकी सरकार के नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव हारने की आशंका है.सूत्रों ने बताया कि खान की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान यह फैसला किया गया कि उन्हें इस्तीफा नहीं देना चाहिए.खान द्वारा बैठक करना आश्चर्यचकित करने वाला है क्योंकि अविश्वास प्रस्ताव से उनके बचने की बहुत कम संभावना है.

बाद में इमरान खान ने चुनिंदा पत्रकारों से बातचीत में सैन्य नेतृत्व में किसी भी तरह के बदलाव की अफवाहों को खारिज किया. साथ ही क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान ने इस्तीफा नहीं देने और आखिरी गेंद तक डटे रहने की घोषणा की. खान ने इस बात से इनकार किया कि वह अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान संबंधी उच्चतम न्यायालय के आदेश में कोई हस्तक्षेप कर रहे हैं. इस बीच, कथित तौर पर शीर्ष अदालतें सक्रिय हो गई हैं और यदि खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान पूरा करने के आदेश को दिन के अंत तक लागू नहीं किया जाता, तो इस्लामाबाद उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय के मध्यरात्रि तक सुनवाई शुरू करने की संभावना है.

सूत्रों ने कहा कि शीर्ष अदालत के संबंधित अधिकारियों को रात 12 बजे अदालत खोलने का निर्देश देने वाले पाकिस्तान के प्रधान न्यायाधीश उमर अता बंदियाल अदालत पहुंच चुके हैं क्योंकि नेशनल असेंबली के अध्यक्ष असद कैसर ने अभी तक प्रधानमंत्री खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान की अनुमति नहीं दी है.सूत्रों ने कहा कि इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश अतहर मिनाल्लाह ने भी अधिकारियों को ऐसे ही निर्देश दिए हैं. इस बीच, संयुक्त विपक्ष ने अध्यक्ष के पास एक आधिकारिक शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान में और देरी नहीं करने का आग्रह किया है.(भाषा) 

और पढ़ें