छत्तीसगढ़ में सब्जी मंडी के चबूतरें बने अंतिम विदाई की जगह, भीड़ के कारण सब्जी बाजार को बनाना पड़ा क्रियाकर्म का स्थान

छत्तीसगढ़ में सब्जी मंडी के चबूतरें बने अंतिम विदाई की जगह, भीड़ के कारण सब्जी बाजार को बनाना पड़ा क्रियाकर्म का स्थान

छत्तीसगढ़ में सब्जी मंडी के चबूतरें बने अंतिम विदाई की जगह, भीड़ के कारण सब्जी बाजार को बनाना पड़ा क्रियाकर्म का स्थान

रायपुर: कोरोना की दूसरी लहर ने कई लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है. ऐसे में कोरोना के इस भीषण संकट के दौरान झकझोर देने वाली एक के बाद एक तस्वीरें सामने आ रही हैं. छत्तीसगढ़ के राजिम में महानदी का त्रिवेणी संगम है. यहां अंतिम क्रियाकर्म के लिए लोग पहुंचते हैं. पहले ऐसे लोगों की संख्या रोज 10 से 15 होती थी, लेकिन इस माह की शुरूआत से यहां 50 से भी अधिक लोग अस्थियां लेकर पहुंच रहे हैं. हालात ये है कि घाट पर जगह कम पड़ने के कारण पास ही स्थित सब्जी मंडी के चबूतरों को क्रियाकर्म के लिए दे दिया गया है.

बेटियों ने किया पिंड दान:
सोमवार को यहां दुर्ग की रहने वाली 14 साल और 19 साल की दो बेटियां भी अपने पिता के अस्थि विसर्जन और क्रियाकर्म के लिए पहुंचीं. इनके पिता की मौत 9 अप्रैल को कोरोना से हुई थी. घर में बेटा नहीं होने के कारण बेटियों को ही अपने पिता का पिंड दान करना पड़ा. यह देखकर लोगों की आंख छलक गई.

घाट पर अचानक भीड़ बढ़ने के कारण सब्जी मंडी को बनाया गया क्रियाकर्म स्थल:
घाट पर अचानक लोगों के बढ़ने के कारण नगर पालिका प्रशासन ने शनिवार को ही तट से लगे सब्जी मार्केट को भी इसी क्रिया के लिए उपलब्ध करवाया है. नगर पालिका अध्यक्ष धनराज मध्यानी ने कहा कि और जगह लगेगी तो पास ही स्थित सामुदायिक भवन परिसर भी खाली पड़ा है, वह भी उपलब्ध कराया जाएगा. हमारा उद्देश्य है कि जो लोग भी यहां आ रहे हैं उन्हें यहां कोई परेशानी न हो. साथ ही अगर जगह पर्याप्त होगी तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी ठीक तरह से हो सकेगा.

छत्तीसगढ़ में कोरोना से मौतें:
छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की मौतों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है. छत्तीसगढ़ में पिछले 3 दिनों में ही कोरोना के कारण 446 लोगों की कोरोना से मौत हो गई. रविवार को 170,जबकि शनिवार को 138 और शुक्रवार को भी 138 लोगों की कोरोना से मौत हुई. अकेले रविवार को ही रायपुर जिले में 67 मरीजों की मौत हुई. इस प्रकार केवल रायपुर जिले में 3 दिन में 201 लोगों की जान चली गई. वहीं पूरे प्रदेश में अब तक 5908 लोगों ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया है.

और पढ़ें