UP में बदमाशों ने कार सवार एक परिवार पर की अंधाधुंध फायरिंग, एक की मौत, 3 गंभीर

UP में बदमाशों ने कार सवार एक परिवार पर की अंधाधुंध फायरिंग, एक की मौत, 3 गंभीर

UP में बदमाशों ने कार सवार एक परिवार पर की अंधाधुंध फायरिंग, एक की मौत, 3 गंभीर

बुलंदशहर: UP में इन दिनों गुडाराज अपने चरम पर है. आए दिन लूट, डकैती, रेप सहित अन्य प्रकार की घटनाओं की जानकारी मिलती रहती है. ऐसे में रविवार को बुलंदशहर में गुंडों ने खाकी को खुलेआम चुनौती देते हुए दिनदहाड़े फायरिंग की.

पुलिस सुरक्षा के साथ निकाला था पीड़ित परिवार:
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में बेखौफ बदमाशों ने रविवार को खाकी को खुली चुनौती देते हुए पुलिस सुरक्षा के बीच घर से निकले एक परिवार पर अंधाधुंध फायरिंग की. इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए. इस गोलीकांड में पिता-पुत्र, गनर व एक तमाशबीन गोली लगने से घायल हुए. सभी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया. लेकिन एक शख्स ने दम तोड़ दिया. पुलिस के अनुसार जिनके ऊपर गोली चलवाने का आरोप है उनके और मृतक के परिवार के बीच अब तक कई हत्याएं हो चुकी हैं. वारदात के बाद मेरठ जोन IG, ADG, SSP समेत तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं.

बाइकों पर सवार होकर आए थे दर्जनभर बदमाश:
यह पूरा मामला थाना ककोड़ के धनौरा गांव का है. यहां रहने वाले धर्मापाल और अमित के परिवार के बीच एक दशक से भी ज्यादा समय से रंजिश चल रही है. रविवार को धर्मपाल अपने बेटे संदीप, जितेंद्र, गनर विश्वेंद्र के साथ खेतों की तरफ गए थे. वहां से सभी कार में सवार होकर शहर की ओर जा रहे थे. कार धर्मपाल का छोटा बेटा जितेंद्र चला रहा था. जबकि बड़ा बेटा संदीप, धर्मपाल पीछे बैठे थे. इनकी गाड़ी जैसे ही जेवर मार्ग पर गांव के बाहर पहुंची, तभी सामने से आए कार व बाइक सवार करीब 10 बदमाशों ने उन पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी.

गनर पर भारी पड़े बदमाश:
गनर ने भी फायरिंग शुरू की. लेकिन बदमाश भारी पड़े. गनर विश्वेंद्र के पेट में तीन गोली लगी. जबकि गोली लगने से संदीप की मौत हो गई. इसके अलावा एक ग्रामीण पवन भी गोली लगने से घायल हुआ. घायल धर्मपाल व उनके बेटे जितेंद्र, ग्रामीण पवन व गनर विश्वेंद्र को ग्रेटर नोएडा के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

दोनों परिवारों के बीच कई हत्याएं हो चुकी:
दोनों पक्षों से पूर्व में कई हत्याएं हो चुकी हैं. साल 2019 में कार व बाइक सवार बदमाशों ने धर्मपाल के पिता कालीचरण की हत्या कर दी गई थी. जिसमें STF ने अमित व सोनू समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया था. वर्तमान में ये सभी जेल में हैं. धर्मपाल के परिवार को सुरक्षा के लिहाज से पुलिस विभाग ने गनर दे रखा है.

पुरानी रंजिश को लेकर हुई है वारदात: SSP 
सूचना पाकर SSP संतोष कुमार सिंह आसपास के थानों की फोर्स लेकर गांव पहुंचे. मेरठ जोन के ADG राजीव सभरवाल, IG प्रवीण कुमार भी घटना का मौका मुआयना करने के लिए धनौरा गांव पहुंचे. SSP का दावा है कि यह वारदात पुरानी रंजिश के चलते हुई है. कालीचरण हत्याकांड के सभी आरोपी जेल में बंद हैं. गोलीकांड में शामिल बदमाशों की धरपकड़ के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. घटना के बाद से ही धनौरा में पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया है. जबकि हमलावरों की पहचान के लिए पुलिस की टीम गांव में लगे CCTV खंगाल रही है.

और पढ़ें