VIDEO: मोदी सरकार में मंत्री बनने के लिए राजस्थान से एक दर्जन नाम चर्चा में, दो राज्यसभा सांसदों के नामों पर भी गंभीरता

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/26 08:09

जयपुर: राजस्थान से कौन बनेगा मोदी सरकार में मंत्री... इसे लेकर सियासी गलियारों में अटकलें तेज हो गई है. इस बार राजस्थान को कैबिनेट मंत्रालय मिलने की उम्मीद है.

एक बार फिर पीएम नरेन्द्र मोदी की झोली में राजस्थान की बीजेपी ने 25 की 25सीटें डाल दी. हालांकि एक सीट पर एनडीए गठबंधन जीता. तमाम कद्दावर चुनाव जीत गये. अब यह चर्चा का विषय है कि नरेन्द्र मोदी की सरकार में राजस्थान से कौन से चेहरों को मंत्री बनाया जाएगा. पिछली मोदी सरकार में अर्जुन राम मेघवाल, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, गजेन्द्र सिंह शेखावत, पीपी चौधरी और सी आर चौधरी मंत्री बने थे. इनमें कोई भी कैबिनेट मंत्री नहीं बनाया गया था, केवल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को स्वतंत्र प्रभार का मंत्रालय मिला था. राज्यसभा से सांसद दिल्ली के विजय गोयल और केरल के अल्फांसो कन्नथम भी केन्द्र में मंत्री बने थे. गोयल को स्वतंत्र प्रभार का मंत्रालय मिला था बाद में आगे चलकर वो स्वतंत्र मंत्रालय राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को मिला. वैंकया नायडू भी राजस्थान से राज्यसभा सांसद बने थे फिर केन्द्र में मंत्री बने और बाद में उपराष्ट्रपति. उनके उपराष्ट्रपति बनने के बाद खाली हुई सीट पर केरल के अल्फांसो को राजस्थान से राज्यसभा में भेजा गया वो भी केन्द्रीय मंत्री बनाये गये थे. राजस्थान कोटे के केन्द्रीय मंत्रियों में केवल सी आर चौधरी का ही टिकट काटा गया था अन्य चारों केन्द्रीय मंत्रियों को टिकट मिला था.. चारों ही जीत गये. अब दूसरी मोदी सरकार में कौन मंत्री बनेगा इसे लेकर चर्चाओं का दौर शुरु हो गया है.

केन्द्रीय मंत्री बनने की दौड़ में यह चेहरे--

ओम प्रकाश माथुर (राज्यसभा सांसद) 
-नरेन्द्र मोदी के भरोसेमंद और विश्वस्तों में होती है गिनती
-गुजरात के चुनाव प्रभारी के नाते सफल भूमिका निभाई
-शाह की टीम में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी 
-बीजेपी के राजस्थान अध्यक्ष रह चुके है 
-बीजेपी के संगठन महामंत्री भी रह चुके माथुर
-राजस्थान के कद्दावर नेताओं में शुमार-संघ पृष्ठभूमि 
-राजस्थान में मारवाड़ से आते है माथुर

भूपेन्द्र यादव (सांसद राज्यसभा) 
-कुशल रणनीतिकार और शाह के चहेते
-बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री के ओहदे पर
-बिहार के प्रभारी के नाते सफल रहे
-सुप्रीम कोर्ट के वकील और संघ की पसंद
-मूल रुप से राजस्थान के अजमेर से ताल्लुक
 
गजेन्द्र सिंह शेखावत(जोधपुर सांसद)
-गजेन्द्र सिंह शेखावत रह चुके मोदी सरकार में कृषि राज्य मंत्री 
-जोधपुर से चुनाव जीतकर रचा इतिहास
-आर एस एस - एबीवीपी पृष्ठभूमि 
-राजस्थान में राजपूत पॉलिटिक्स के प्रभावी चेहरे
-शेखावत के बनाने से शेखावाटी-मारवाड़-गोड़वाड़ - ढूंढाड बैलेंस होंगे
-लगातार दूसरी बार जोधपुर से सांसद

राज्य वर्धन सिंह राठौड़(जयपुर ग्रामीण सांसद)
-मोदी सरकार में रह चुके खेल और युवा मामलात का स्वतंत्र प्रभार के मंत्री 
-सूचना प्रसारण मंत्रालय का महकमा भी उनके पास था
-सूचना प्रसारण मंत्रालय में वे स्मृति इरानी के साथ अटैच है
-खेलो इंडिया का सफल आयोजन किया था
-नई पीढ़ी की सियासत के प्रभावी युवा चेहरे
-लगातार दूसरी बार बने जयपुर ग्रामीण से सांसद

अर्जुन राम मेघवाल(बीकानेर सांसद)
-बीजेपी के दलित चेहरे
-अर्जुन राम मेघवाल संभाल चुके है मोदी सरकार में कई जिम्मेदारियां
- वित्त राज्य मंत्री के बाद जल संसाधन विभाग मिला था
-मेघवाल ने जेटली और गड़करी दोनों के साथ काम किया
-संसदीय गुणों के कारण मेघवाल रहे संसदीय कार्यमंत्री 
-मोदी और शाह दोनों की पसंद कहे जाते है
-रॉबर्ट वाड्रा के कारण उनका क्षेत्र बीकानेर चर्चित रहा था
-मेघवाल ने ही वाड्रा के जमीन से जुड़े मुद्दों को उठाया
-लगातार तीसरी बार सांसद बन कर बीकानेर में रचा इतिहास 

पीपी चौधरी(पाली सांसद)
-लॉ और जस्टिस मंत्रालय के वो मंत्री रह चुके है 
-जेटली से अटैच होकर कॉर्पोरेट मंत्रालय भी संभाला
 -पीपी को राजनीति में जेटली का करीबी माना जाता रहा है
-सुप्रीम कोर्ट के वकीलों में उनकी होती है गिनती
-राजस्थान में सीरवी समाज के बड़े नेता 
-लगातार दूसरी बार जीते पाली से चुनाव

डॉ किरोड़ी लाल मीणा (राज्यसभा सांसद) 
-कद्दावर मीणा- आदिवासी नेता
-बतौर निर्दलीय दौसा से सांसद रह चुके
-भैरों सिंह शेखावत - वसुंधरा सरकार में रह चुके मंत्री 
-पूर्वी राजस्थान को इनके जरिये साधा जा सकता है 
-बीजेपी में इनकी जमीनी नेता की इमेज

चंद्रप्रकाश जोशी (सांसद चितौड़) 
-संसद के सर्वश्रेष्ठ सांसद रह चुके
-मोदी और शाह दोनों की पसंद 
-संघ की पाठशाला से निकल सियासत में आये
-बीजेपी का संगठन निष्ठ चेहरा 
-राजनीति में मिस्टर क्लीन की इमेज
-भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके
 -राजस्थान के युवा ब्राह्मण फेस
-लगातार दूसरी बार जीते मेवाड़ से
-इन्हें मंत्री बनाने से सधेगा मेवाड़ और मेरवाड़ा 

दीया कुमारी (राजसमंद सांसद) 
-विधानसभा में टिकट नहीं लेकिन लोकसभा में फतह मिली
-सवाई माधोपुर से रह चुकी विधायक 
-आर एस एस की पसंद कही जाती है 
-नई राजपूत लीडरशीप का प्रभावी यंग चेहरा
-जयपुर राजघराने की पूर्व राजकुमारी है दीया 
-सशक्त महिला फेस, सोशल सेलिब्रिटी 

हनुमान बेनीवाल (नागौर सांसद) 
-राजस्थान में जाट नेता के तौर पर उभरे
-नागौर सीट पर RLP-BJP गठबंधन को जीत दिलाई 
-पड़ौसी सीटों पर इनके कारण बीजेपी को लाभ मिला
-मूल रुप से भाजपाई है
-इनके कारण राजस्थान में बीजेपी ने 24 सीटों पर चुनाव लड़ा
-बेनीवाल की पार्टी से 3 विधायक बने थे 

कनक मल कटारा (बांसवाड़ा-डूंगरपुर सांसद) 
-बीजेपी के सबसे बड़े वनवासी फेस 
-पहले भी सांसद रह चुके है 
-आर एस एस की पसंद माने जाते है 
-राज्य की सरकारों में रह चुके मंत्री 
-संगठन में कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके 
-कटारा के जरिये खेला जा सकता है TSP कार्ड

दुष्यंत सिंह (झालावाड़-बारां सांसद) 
-राजस्थान के सांसदों में सबसे सीनियर 
-लगातौर चौथी बार जीते चुनाव
-पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र
-हाड़ौती के कद्दावर चेहरों में शुमार
-धौलपुर जाट राजघराने के वंशज 

ओम बिरला (सांसद कोटा-बूंदी) 
-बीजेपी के वैश्य चेहरे
-शैक्षिक राजधानी कोटा से आते है 
-दिल्ली में टॉप लेवल तक इनके रसूखात 
-हाड़ौती की सियासत के कद्दावर चेहरे
-लगातार दूसरी बार बने सांसद
-बीजेपी संगठन में रह चुके कई पदों पर, चुनाव प्रबंधन में माहिर 

एनडीए के शासन में अभी तक राजस्थान को व्यापक प्रतिनिधित्व नहीं मिला है. खासतौर पर कैबिनेट मंत्रालय, जबकि राजस्थान भौगोलिक नजरिये से देश के सबसे बड़े राज्यों में है. जबकि यूपीए के दोनों शासनो में राजस्थान को वरियता हासिल थी. वहीं वाजपेयी सरकार में भी जसवंत सिंह कैबिनेट मंत्री होने के साथ साथ प्रभावी चेहरे थे,वे विदेश,वित्त और रक्षा मंत्री जैसे अहम ओहदों पर रहे थे. वाजपेयी सरकार में ही वसुंधरा राजे भी स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्रालय में राज्य मंत्री रही, उन्होंने विदेश समेत कई मंत्रालय संभाले थे. मौजूदा मोदी सरकार में भी उनके नाम की चर्चा सामने आ रही है. हालांकि यह तय करना नरेन्द्र मोदी को ही है कि उनके मंत्रीपरिषद में राजस्थान से किसका नम्बर लगेगा. हालांकि यह भी तय है कि राजस्थान कोटे से जो मंत्री नहीं बना उन्हें बीजेपी संगठन में भी प्रमुख स्थान मिल सकता है चाहे वो दिल्ली हो या राजस्थान. 

....फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in