Second Wave में विपक्ष ने योगी सरकार के Management पर उठाए सवाल, CM बोले- Third Wave के लिए तैयार है UP; वयवस्थाएं कर ली गई

Second Wave में विपक्ष ने योगी सरकार के Management पर उठाए सवाल, CM बोले- Third Wave के लिए तैयार है UP; वयवस्थाएं कर ली गई

Second Wave में विपक्ष ने योगी सरकार के Management पर उठाए सवाल, CM बोले- Third Wave के लिए तैयार है UP; वयवस्थाएं कर ली गई

लखनऊ: कोरोना वायरस (Covid Virus) की दूसरी लहर (Second Wave) ने पूरे देश को बुरी तरह प्रभावित किया है. उत्तर प्रदेश भी उन राज्यों में से एक था जिन पर कोरोना का सबसे ज्यादा प्रकोप देखने को मिला. चरमराती स्वास्थ्य व्यवस्था, नदियों में तैरते शव या फिर श्मशानों में लाशों की लंबी कतारे. यूपी में कोरोना वायरस की दूसरी लहर की तस्वीर कुछ इसी तरह दिखी. इन सब चीजों को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ को विपक्ष की आलोचना का सामना भी करना पड़ा. इस पर योगी आदित्यनाथ ने जवाब देते हुए कहा कि दूसरी लहर को एक महिने में खत्म कर दिया गया. तीसरी लहर के लिए UP तैयार है. संभावना है कि तीसर लहर चुनावों के साथ राज्य में प्रवेश करेगी.

विपक्ष कभी ग्रामीण इलाकों का दौरा करे:
कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मैनेजमेंट (Yogi Management) को लेकर विपक्ष द्वारा योगी सरकार के मैनेजमेंट को लेकर आलोचना की गई थी. इस पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे लगता है कि अपने घर आराम से बैठकर सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए आलोचना करना बेहद आसान है. मैं उन्हें ग्रामीण इलाकों का दौरा करने के लिए बुलाना चाहूंगा. वो खुद देख सकेंगे राज्य सरकार ने दूसरी लहर को किस तरह मैनेज किया और आंकड़े भी यही बताते हैं.

दूसरी लहर के दौरान रोड से 45 जिलों का दौरा किया:
कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान राज्य का दौरा किया था. इस दौरान बहुत सी कमियां देखी जिन पर ध्यान देने की सबसे ज्यादा जरूरत थी. मैंने जमीनी हकीकत जानना चाहता था. मैंने हेलीकॉप्टर 6 हजार किलोमीटर से ज्यादा यात्रा की थी और रोड के रास्ते से 45 जिलों का दौरा किया था. इनमें वो जिले भी शामिल थे जो कोरोना से बुरी तरह प्रभावित थे. मैंने स्थिति की समीक्षा करने और कर्मचारियों को निर्देश देने के लिए नागरिकों, कोविड -19 रोगियों, डॉक्टरों और प्रशासकों से बात की. एक टीम लीडर होने के नाते, मुझे लगता है कि मेरा ऑन-ग्राउंड (On Ground) होना दूसरों को प्रेरित करता है.

डब्ल्यूएचओ ने Tripple T के यूपी मॉडल की सराहना की:
चुनाव समय पर होना चाहिए, हालांकि यह चुनाव आयोग को तय करना है. हम मतदान के लिए तैयार हैं. दूसरी लहर को एक महीने में काबू कर लिया गया है और हम तीसरी लहर के लिए बेहतर तरीके से तैयार हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के लगभग 2,000 प्रतिनिधियों ने राज्य का दौरा किया. WHO ने ट्रिपल टी के UP मॉडल - टेस्ट, ट्रेस और ट्रीट (Model - Test, Trace and Treat) की भी सराहना की है. 

क्या लोगों को डेटा पर भरोसा करना चाहिए या उन लोगों पर जो इस बात को लेकर मन में गलत धाराणा बनाएं हुए हैं कि यूपी ने दूसरी लहर को कुशलता से हरा दिया.

 

और पढ़ें