मनरेगा में बढ़ी मजदूरी, मजदूरी दर बढ़ाकर 220 रूपये प्रतिदिन की गई- सचिन पायलट

मनरेगा में बढ़ी मजदूरी, मजदूरी दर बढ़ाकर 220 रूपये प्रतिदिन की गई- सचिन पायलट

मनरेगा में बढ़ी मजदूरी, मजदूरी दर बढ़ाकर 220 रूपये प्रतिदिन की गई- सचिन पायलट

जयपुर: बेहद मांग पर सचिन पायलट ने आज मनरेगा मजदूरी दर और उनके कार्यो के समय में परिवर्तन कर दिया. उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत मजदूरी दर 199 रूपये प्रतिदिन से बढ़ाकर 220 रूपये प्रतिदिन की गई है , मेट और कारीगर के लिए भी मजदूरी दर को 213 रूपये से बढ़ाकर 235 रूपये प्रतिदिन किया जा रहा है.

प्रदेश में जल्द शुरू होगा सड़क निर्माण का कार्य, श्रमिक प्रधान कार्यों को देंगे प्राथमिकता- सचिन पायलट 

ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को आर्थिक सम्बल मिलेगा: 
उन्होंने बताया कि इस मजदूरी दर की बढ़ोतरी से कोरोना लॉकडाउन के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को आर्थिक सम्बल मिलेगा. साथ ही योजना के तहत अधिक से अधिक व्यक्तिगत लाभ के कार्यों करवाने के लिए निर्देश दिए जिससे ज्यादा से ज्यादा व्यक्तिगत लाभ की परिसम्पत्तियों का सृजन होगा और सोशल डिस्टेंसिंग स्वतः ही हो सकेगी. 

VIDEO: बगैर चिकित्सक पर्ची के नहीं मिलेगी खांसी-बुखार की दवा!  

सुबह 6 बजे से दोपहर 1 बजे तक होगा कार्य:
पायलट ने बताया कि कोरोना संक्रमण से उत्पन्न विशेष परिस्थितियों एवं गर्मी के मौसम को देखते हुए महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत कार्यसमय को परिवर्तित किया गया है. परिवर्तित समय सुबह 6 बजे से दोपहर 1 बजे तक निर्धारित किया गया है. इससे सोशल डिस्टेसिंग की पालना करने में भी मदद मिलेगी. उन्होंने नरेगा कार्यस्थल पर मेट और श्रमिकों सहित सभी को मास्क पहनकर आने, श्रमिकों के दिन में चार बार साबुन से हाथ धुलवाने के निर्देश दिये. साथ ही कार्य और भोजन अवकाश के दौरान सोशल डिस्टेसिंग की पालना सुनिश्चित करवाने के भी निर्देश दिये.

और पढ़ें