जैसलमेर में BJP-कांग्रेस को पीछे छोड़ निर्दलीय प्रत्याशी ने रचा इतिहास, हरिवल्लभ कल्ला बने नए सभापति

जैसलमेर में BJP-कांग्रेस को पीछे छोड़ निर्दलीय प्रत्याशी ने रचा इतिहास, हरिवल्लभ कल्ला बने नए सभापति

जैसलमेर में BJP-कांग्रेस को पीछे छोड़ निर्दलीय प्रत्याशी ने रचा इतिहास, हरिवल्लभ कल्ला बने नए सभापति

जैसलमेर: राजस्थान के 46 निकायों में आज अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है. वहीं निंबाहेड़ा, मकराना और रूपवास में कांग्रेस के 3 दिन पहले ही निर्विरोध अध्यक्ष बन चुके हैं, इसलिए वोटिंग 49 में से शेष 46 निकायों के अध्यक्षों के लिए ही रही है. इसी बीच जैसलमेर निकाय चुनाव में बड़ा इतिहास रचा गया है. जहां निर्दलीय प्रत्याशी ने बाजी मारी है. यहां निर्दलीय प्रत्याशी हरिवल्लभ कल्ला नए सभापति बन गए है. निर्दलीय कल्ला को 19 वोट मिले है जबकि भाजपा को 13, कांग्रेस को 12 और एक वोट खारिज किया गया है. 

कांग्रेस ने 30, भाजपा ने 13 निकायों में बोर्ड बनाने का किया दावा: 
ऐसे में अब 46 निकायों में से कांग्रेस ने 30, जबकि भाजपा ने 13 निकायों में बोर्ड बनाने का दावा किया है. पार्षदों के चुनाव में कांग्रेस को 20, भाजपा को 6 निकायों में स्पष्ट बहुमत मिला है. इनके अलावा कुछ में भाजपा व कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत तो नहीं मिला, लेकिन सदस्य सबसे ज्यादा चुने गए. ऐसे में इनमें कांग्रेस-भाजपा ने निर्दलीय पार्षदों को साथ लेकर अपनी स्थिति को मजबूत कर लिया है. 49 निकायों के 2105 वार्डों में से कांग्रेस ने 965 और भाजपा ने 736 वार्डों में जीत दर्ज की है. 

49 निकायों में 16 नवंबर को चुनाव हुआ था: 
गौरतलब है कि राजस्थान के 49 निकायों में 16 नवंबर को चुनाव हुआ था. जिसके बाद 19 नवंबर को परिणाम घोषित कर दिए गए थे. अगले दिन ही 20 नवंबर को अध्यक्ष के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई थी. नामांकन वापसी के अंतिम दिन 23 को 3 निकायों में एक-एक उम्मीदवा ही चुनाव मैदान में रहने पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है. ये तीनों ही अध्यक्ष कांग्रेस पार्टी के बने हैं. 

और पढ़ें