अहमदाबाद भारत ने वनडे में किया वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ, श्रृंखला 3-0 से जीती

भारत ने वनडे में किया वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ, श्रृंखला 3-0 से जीती

भारत ने वनडे में किया वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ, श्रृंखला 3-0 से जीती

अहमदाबाद: श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत के बीच शतकीय साझेदारी और गेंदबाजों के एक और उत्कृष्ट प्रदर्शन से भारत ने शुक्रवार को यहां वेस्टइंडीज को तीसरे और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 96 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 3-0 से क्लीन स्वीप किया.पहले बल्लेबाजी के लिये उतरी भारतीय टीम का शीर्ष क्रम लड़खड़ा गया लेकिन कोविड से उबरने के बाद पहला मैच खेल रहे अय्यर (111 गेंदों पर 80 रन, नौ चौके) और पंत (54 गेंदों पर 56 रन, छह चौके, एक छक्का) ने यहीं से चौथे विकेट के लिये 110 रन जोड़कर भारतीय पारी संभाली. दीपक चाहर (38 गेंदों पर 38 रन, चार चौके, दो छक्के) और वाशिंगटन सुंदर (34 गेंदों पर 33 रन, दो चौके, एक छक्का) ने सातवें विकेट के लिये 53 रन जोड़े जिससे भारत ने निर्धारित 50 ओवर में सभी विकेट खोकर 265 रन बनाये.

पिच में सीम मूवमेंट और उछाल थी तथा भारतीय गेंदबाजों ने भी इसका फायदा उठाकर वेस्टइंडीज को 37.1 ओवर में 169 रन पर ढेर कर दिया. यह पहला अवसर है जबकि भारत ने वेस्टइंडीज का वनडे श्रृंखला में सूपड़ा साफ किया.भारत ने इसी स्थल पर खेले गये पहले मैच में छह विकेट से और दूसरे मैच में 44 रन से जीत दर्ज की थी. अब इन दोनों टीम के बीच 16 फरवरी से कोलकाता में तीन मैचों की टी20 श्रृंखला खेली जाएगी.भारतीय गेंदबाजों में प्रसिद्ध कृष्णा (27 रन देकर तीन), मोहम्मद सिराज (29 रन देकर तीन), दीपक चाहर (41 रन देकर दो) और कुलदीप यादव (51 रन देकर दो) ने विकेट लिये.

वेस्टइंडीज के सात विकेट 82 रन पर निकल गये थे लेकिन निचले क्रम के तीन बल्लेबाजों ओडियन स्मिथ (18 गेंदों पर 36 रन, तीन चौके, तीन छक्के), अल्जारी जोसफ (56 गेंदों पर 29 रन) और हेडन वाल्श (38 गेंदों पर 13 रन) ने न सिर्फ भारत का इंतजार बढ़ाया बल्कि हार का अंतर भी कम किया. वेस्टइंडीज के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के पास हालांकि भारत के तेज और स्पिन मिश्रित आक्रमण का कोई जवाब नहीं था. सिराज और चाहर ने पहले पांच ओवर में शाई होप (पांच), ब्रेंडन किंग (14) और शामराह ब्रुक्स (शून्य) को आउट करके कैरेबियाई टीम की चूलें हिला दी थी.

डेरेन ब्रावो (19) और कप्तान निकोलस पूरण (34) ने आठ ओवर तक विकेट नहीं गिरने दिया. कृष्णा ने ब्रावो और जेसन होल्डर (छह) को जबकि स्पिनर कुलदीप ने पूरण और फैबियन एलन (शून्य) को आउट करके भारत की बड़ी जीत सुनिश्चित की.इससे पहले भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. कप्तान रोहित शर्मा (13) और पूर्व कप्तान विराट कोहली (शून्य) के चौथे ओवर में तीन गेंद के अंदर पवेलियन लौटने और शिखर धवन (10) के जल्दी आउट हो जाने से स्कोर तीन विकेट पर 42 रन हो गया था.जोसफ (54 रन देकर दो विकेट) ने भारतीय शीर्ष क्रम थर्राया जबकि लेग स्पिनर वाल्श (59 रन देकर दो) ने अय्यर और पंत को आउट किया. आलराउंडर होल्डर (34 रन देकर चार) ने निचले क्रम को समेटने में अहम भूमिका निभायी.

वनडे के धुरंधर रोहित और कोहली को जोसफ ने आउट करके भारतीय खेमे में खलबली मचा दी थी. रोहित ने अपने फुटवर्क का इस्तेमाल किये बिना शॉट खेलकर गेंद अपने विकेटों पर मारी तो कोहली ने लेग साइड की गेंद को फ्लिक करने के प्रयास में विकेटकीपर शाई होप को कैच दिया. स्कोर हो गया दो विकेट पर 16 रन.इस श्रृंखला में पहली बार खेल रहे धवन ने 15वीं गेंद का सामना करते हुए केमार रोच पर छक्का जड़कर खाता खोला लेकिन ओडियन स्मिथ की ऑफ स्टंप से बाहर जा रही शार्ट पिच गेंद पर उन्होंने स्लिप में कैच थमा दिया.

भारत इस मैच में चार बदलाव के साथ उतरा था तथा तीन विकेट जल्दी निकलने के बाद अय्यर को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये भेजा गया, क्योंकि केएल राहुल चोट के कारण नहीं खेल पा रहे थे. पंत पांचवें नंबर पर उतरे और इन दोनों ने बीच के ओवरों में रणनीतिक बल्लेबाजी की.अय्यर और पंत दोनों ने स्पिनरों को भी सहजता से खेला. पंत ने तो फैबियन एलन पर छक्का भी जमाया. अय्यर ने इस बीच अपना नौवां जबकि पंत ने पांचवां वनडे अर्धशतक पूरा किया.

इन दोनों को वाल्श ने अपनी लेग स्पिन के जाल में फंसाया. पंत ने ऑफ स्टंप के करीब से लेट कट खेलने के प्रयास में विकेटकीपर को कैच दिया जबकि अय्यर ने एक्स्ट्रा कवर पर लंबा शॉट खेलने के प्रयास में लांग ऑफ पर कैच थमाया. इस बीच एलन ने सूर्यकुमार यादव (छह) को पवेलियन भेजा. चाहर ने पिछले कुछ समय में अपनी बल्लेबाजी से जलवा दिखाया है और फिर से उन्होंने महत्वपूर्ण योगदान दिया. चाहर ने होल्डर का पहला शिकार बनने से पहले एलन और वाल्श पर छक्के लगाये. वाल्श पर तो उन्होंने लगातार दो चौके और छक्का जड़ा. सुंदर ने भी आखिरी ओवर में होल्डर की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में कैच थमाने से पहले जोसफ पर छक्का लगाया.(भाषा) 

और पढ़ें