नई दिल्ली कैलिफोर्निया में महात्मा गांधी की प्रतिमा क्षतिग्रस्त, भारत ने की घटना की निंदा, बताया घृणित कृत्य

कैलिफोर्निया में महात्मा गांधी की प्रतिमा क्षतिग्रस्त, भारत ने की घटना की निंदा, बताया घृणित कृत्य

कैलिफोर्निया में महात्मा गांधी की प्रतिमा क्षतिग्रस्त, भारत ने की घटना की निंदा, बताया घृणित कृत्य

नई दिल्ली: भारत ने अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य स्थित डेविस शहर में स्थापित महात्मा गांधी की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने की घटना की शनिवार को कड़ी निंदा की. भारत ने इस मुद्दे को अमेरिकी सरकार के समक्ष उठाया है और यह ‘घृणित कृत्य’ करने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है.

भारत ने उपहार में दी थी महात्मा गांधी की प्रतिमाः
उल्लेखनीय है कि भारत द्वारा उपहार में दी गई इस प्रतिमा को शहर के सेंट्रल पार्क में स्थापित किया गया था और 28 जनवरी को इसे क्षतिग्रस्त करने की घटना सामने आई थी.

भारत सरकार ने बताया दुर्भावनापूर्ण एवं घृणित कृत्यः
विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत सरकार वैश्विक स्तर पर शांति एवं न्याय के प्रतीक के रूप सम्मानित हस्ती के प्रति दुर्भावनापूर्ण एवं घृणित कृत्य की कड़ी निंदा करती है. मंत्रालय ने बताया कि वाशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास ने इस मामले को अमेरिकी विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाया है और मामले की गंभीरता से जांच कर घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है.

मामले की जांच शुरूः 
विदेश मंत्रालय ने बताया कि अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने की घटना अस्वीकार्य है और उम्मीद जताई है कि दोषियों को यथाशीघ्र न्याय के कठघरे में लाया जाएगा. बयान के मुताबिक सैन फ्रांसिस्को स्थित भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने अलग से इस मामले को डेविस शहर और स्थानीय कानून प्रवर्तन अधिकारियों के समक्ष उठाया है, जिन्होंने मामले में जांच शुरू कर दी है.

स्थानीय भारतीयों ने भी की घटना की निंदाः
विदेश मंत्रालय ने बताया कि डेविस शहर के महापौर ने घटना पर गहरा अफसोस जताया है और सूचित किया कि उन्होंने जांच शुरू कर दी है. मंत्रालय ने कहा कि स्थानीय भारतीय समुदय के संगठनों ने भी तोड़फोड़ की इस घटना की निंदा की है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें