देश की पहली कोरोना वैक्सीन 15 अगस्त को हो सकती है लॉन्च

देश की पहली कोरोना वैक्सीन 15 अगस्त को हो सकती है लॉन्च

देश की पहली कोरोना वैक्सीन 15 अगस्त को हो सकती है लॉन्च

नई दिल्ली: भारत में तैयार कोरोनावायरस की वैक्सीन को 15 अगस्त पर लॉन्च हो सकती है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की 15 अगस्त तक कोरोना की वैक्सीन लाने की योजना है. इसके लिए वैक्सीन बना रही कंपनी बायोटेक covaxin को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है. इसके लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं. क्लीनिकल ट्रायल में भी तेजी लाई जा रही है. ICMR ने समय पर सभी कार्यवाही पूरा करने को कहा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लेह पहुंचे, नीमू पोस्ट पर अधिकारियों से की बात

7 जुलाई से इस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू होगा: 
बता दें कि हाल ही में कंपनी को अपने वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल करने की अनुमति मिली थी.  ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने विभागीय चिट्ठी में कहा है कि 7 जुलाई से इस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू होगा जिसमें देरी नहीं होनी चाहिए, जिससे कि 15 अगस्त को इस वैक्सीन को पब्लिक के लिए लांच किया जा सके. इस वैक्सीन को तैयार करने में भारत बायोटेक और ICMR साझेदार हैं. एम्स समेत देश के 13 अस्पतालों को क्लीनिकल ट्रायल (Clinical Trials) में तेजी लाने को कहा गया है. ताकि तय दिन इस टीके को लॉन्च किया जा सके.

क्लीनिकल ट्रायल के लिए 12 संस्थानों का चयन:
वहीं, आईसीएमआर ने देश के पहले स्वदेशी कोविड-19 टीके के क्लीनिकल ट्रायल के लिए 12 संस्थानों का चयन किया है. आईसीएमआर का कहना है कि सरकार की योजना इसे 15 अगस्त तक लॉन्च करने की है. भारत सरकार ने इस पहले स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन का अभी 30 जून को ही ह्यूमन ट्रायल करने की अनुमति दी थी. 

Corona Update: देश में एक दिन में पहली बार 21 हजार के करीब नए केस, 379 लोगों की मौत 

प्री-क्लीनिकल स्टेज में बेहतर परिणाम सामने आया: 
प्री-क्लीनिकल स्टेज में इस दवा का काफी बेहतर परिणाम सामने आया है. इस आधार पर ही कंपनी को कोवाक्सिन का मानव परीक्षण करने की अनुमति दी गई है. ऐसे में अगर इस वैक्सीन का मानव परीक्षण के दौरान ट्रायल सफल रहता है, तो कोरोना के बड़े खतरे को आसानी से निपटा जा सकेगा. 

और पढ़ें