Live News »

कश्मीर मुद्दे पर भारत को मिला फ्रांस का साथ, मैक्रों ने कहा- तीसरा देश ना करें हस्तक्षेप
कश्मीर मुद्दे पर भारत को मिला फ्रांस का साथ, मैक्रों ने कहा- तीसरा देश ना करें हस्तक्षेप

चैन्टिली (फ्रांस): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के बीच गुरुवार को द्विपक्षीय वार्ता हुई. इस दौरान दोनो के बीच आतंकवाद और कश्मीर मुद्दे पर बातचीत हुई. इस पर फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों ने कहा कि भारत और पाकिस्तान को द्विपक्षीय ढंग से कश्मीर मुद्दे का समाधान निकालना चाहिए और इस मामले में किसी तीसरे पक्ष को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि ये भारत और पाकिस्तान का मसला है. मैक्रों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ आमने-सामने की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की.

भारत और फ्रांस के बीच दोस्ती किसी स्वार्थ पर नहीं टिकी:  
साथ ही इस दौरान मैक्रों ने इस मुद्दें पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से बात कर द्विपक्षीय वार्ता करने की भी बात कही. मैक्रों के बयान के बाद पीएम मोदी ने कहा कि भारत और फ्रांस के बीच दोस्ती किसी स्वार्थ पर नहीं टिकी है, बल्कि यह ‘स्वतंत्रता, समानता और भाइचारे के ठोस सिद्धांतों पर आधारित है. मोदी ने कहा, ''दोनों देश लगातार आतंकवाद का सामना कर रहे हैं. हमारा इरादा आतंकवाद के खिलाफ सहयोग को व्यापक बनाना है. फ्रांस और भारत जलवायु परिवर्तन, पर्यावरण और प्रौद्योगिकी समावेशी विकास की चुनौतियों का सामना करने के लिए एक साथ खड़े हैं. हम सब मिलकर एक सुरक्षित और समृद्ध दुनिया का मार्ग प्रशस्त कर सकते हैं.''

कई अन्य मुद्दों पर भी हुई बात: 
इमैनुएल मैक्रों बोले कि अभी हमने प्रधानमंत्री मोदी के साथ अन्य मुद्दों पर भी बात की. इसमें डिजिटल तकनीक और साइबर सिक्योरिटी भी शामिल है. हमने देखा है कि काफी मुद्दों पर तो हम बहुत आगे बढ़ चुके हैं. हम जानते हैं कि भारत अपना चंद्रयान भेज चुका है. पुलवामा में जो हमला हुआ था उसके लिए हमने अपनी सहानुभूति जताई है. हम आतंकवाद पर भी एक दूसरे के साथ मिलकर काम करते रहेंगे.

भारत और फ्रांस के बेहद दोस्ताना संबंध: 
इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी का हवाईअड्डे पहुंचने पर यूरोप और विदेश मामलों के मंत्री जीन येव्स ले ड्रायन ने स्वागत किया. मोदी ने ट्वीट किया, '' भारत और फ्रांस के बेहद दोस्ताना संबंध हैं और वर्षों से द्विपक्षीय और बहु पक्षीय रूप से एक साथ काम कर रहे हैं.''

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in