नई दिल्ली Ukraine-Russia War: यूक्रेन में ‘तेजी से बदलती’ स्थिति पर करीबी नजर रख रहा भारत, भारतीयों की मदद के रास्तों पर ध्यान केंद्रित

Ukraine-Russia War: यूक्रेन में ‘तेजी से बदलती’ स्थिति पर करीबी नजर रख रहा भारत, भारतीयों की मदद के रास्तों पर ध्यान केंद्रित

Ukraine-Russia War: यूक्रेन में ‘तेजी से बदलती’ स्थिति पर करीबी नजर रख रहा भारत, भारतीयों की मदद के रास्तों पर ध्यान केंद्रित

नई दिल्ली: रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन के खिलाफ सैन्य अभियान शुरू करने के कारण बड़े संघर्ष के खतरे की आशंका के बीच भारत इस पूर्वी यूरोप के देश से अपने नागरिकों खासकर छात्रों की सहायता के उपायों पर ध्यान केंद्रित किये हुए है.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारत, यूक्रेन में ‘तेजी से बदलती’ स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए हैं और इस बात पर ध्यान केंद्रित किये हुए है कि किस प्रकार से भारतीयों की मदद की जा सकती है.

उन्होंने कहा कि हम तेजी से बदल रहे हालात पर करीब से नजर रख रहे हैं. हमारा पूरा ध्यान भारतीय नागरिकों, खासतौर पर छात्रों की रक्षा और सुरक्षा पर केन्द्रित है. सूत्रों ने बताया कि कुछ दिन पहले विदेश मंत्रालय द्वारा स्थापित नियंत्रण कक्ष का विस्तार किया जा रहा है और इसे 24 घंटे काम करने के आधार पर परिचालित किया जा रहा है.

भारतीयों को वापस लाने के लिये विशेष विमान भेजने की संभावना नहीं: 
भारतीय दूतावास के कर्मचारियों सहित भारतीयों को वापस लाने के लिये विशेष विमान भेजने की संभावना नहीं है क्योंकि यूक्रेन का वायु क्षेत्र बंद कर दिया गया है. सूत्रों ने बताया कि सरकार वहां भारतीयों की मदद के रास्तों पर ध्यान केंद्रित किये हुए है. इस विषय पर कई स्तर पर बैठकें हो रही हैं. अनुमान के मुताबिक, यूक्रेन में अभी 15 हजार भारतीय हैं.

दोनों देशों के बीच पूर्ण सैन्य संघर्ष की संभावना को लेकर चिंताएं उत्पन्न हो गई:
यूक्रेन में स्थिति उस समय काफी खराब हो गई जब रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ सैन्य अभियान की घोषणा कर दी. इसके कारण दोनों देशों के बीच पूर्ण सैन्य संघर्ष की संभावना को लेकर चिंताएं उत्पन्न हो गई हैं. वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति ब्लोदीमिर जेलेनस्की ने कहा कि इस हमले से यूरोप में बड़ा युद्ध शुरू हो सकता है. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें