Test Championship Final के लिए भारतीय Cricket Team आज भरेगी जीत के लिए उड़ान, महिला Brigade भी जाएगी साथ 

Test Championship Final के लिए भारतीय Cricket Team आज भरेगी जीत के लिए उड़ान, महिला Brigade भी जाएगी साथ 

Test Championship Final के लिए भारतीय Cricket Team आज भरेगी जीत के लिए उड़ान, महिला Brigade भी जाएगी साथ 

मुंबई: इंग्लैंड में 18 जून को होने वाले टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (Test Championship Final ) खेलने के लिए भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) आज रवाना होगी. UK द्वारा हाल ही में दी गई राहत जिसमें खिलाड़ियों के साथ उनके फैमिली पर्सन भी आ सकते है के बाद भारतीय महिला क्रिकेट ब्रिगेड भी साथ जाएगी. विराट कोहली की टीम इंडिया आज शाम इंग्लैंड (England) दौरे के लिए मुंबई से रवाना होगी. 24 सदस्यीय टीम कल लंदन पहुंचेगी. वहां उन्हें 18 जून से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और 4 अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज (Test Series) खेलनी है. भारतीय महिला क्रिकेट टीम भी मेन्स टीम के साथ ही रवाना होगी.

दोनों टीमों के लिए चार्टर्ड फ्लाइट की व्यवस्था:
महिला टीम को इंग्लैंड के खिलाफ 16 जून से एकमात्र टेस्ट और 3-3 मैचों की वनडे और टी-20 सीरीज खेलनी है. BCCI ने इन दोनों टीमों के लिए चार्टर्ड फ्लाइट (Chartered Flight) की व्यवस्था की है. इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार वालों को भी लाने की इजाजत दे दी है.

महिला और पुरुष क्रिकेट टीम अलग-अलग स्थानों पर रुकेंगी:
दोनों टीमें 19 मई से मुंबई के एक होटल (Hotel) में सख्त क्वारैंटाइन (Quarantine) के नियमों का पालन कर रही थीं, जो कि मंगलवार को खत्म हो गया. गुरुवार को दोनों टीमें लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर उतरेंगी. इसके बाद विराट की टीम साउथैंप्टन और मिताली की टीम ब्रिस्टल (Team Bristol) के लिए रवाना हो जाएगी.

विराट टीम की 3 बार कोरोना जांच होगी:
मेन्स टीम लंदन से साउथैंप्टन (Southampton) बस से 3 घंटे के सफर के बाद पहुंचेगी. वहां टीम अगले 10 दिन तक क्वारैंटाइन रहेगी. ICC के मुताबिक, पहले 3 दिन यानी 5 जून तक खिलाड़ियों की 3 बार कोरोना जांच भी की जाएगी. हर निगेटिव रिपोर्ट (Negative Report) के बाद उन्हें आइसोलेशन में ही एक्सरसाइज करने की इजाजत होगी.

6 जून से छोटे-छोटे ग्रुप में खिलाड़ियों को ट्रेनिंग की इजाजत:
पहले 3 दिन तक किसी भी खिलाड़ी को उनके होटल रूम से नहीं निकलने दिया जाएगा. 6 जून से टीम के खिलाड़ी छोटे-छोटे ग्रुप में मैदान में ट्रेनिंग कर सकेंगे. हालांकि, उन्हें सिर्फ होटल से मैदान और मैदान से होटल जाने की ही इजाजत होगी. होटल में भी वे कमरे से सिर्फ वर्क आउट के लिए निकल सकेंगे. 10 दिन का क्वारैंटाइन 12 जून को समाप्त हो जाएगा. इसके बाद विराट की टीम फुल ट्रेनिंग कर सकती है. हालांकि, इसके लिए टीम को फाइनल (Finale Match) से पहले सिर्फ 5 दिन ही मिलेंगे.

न्यूजीलैंड की टीम 17 मई को ही इंग्लैंड पहुंच चुकी:
वहीं, दूसरी तरफ न्यूजीलैंड (New Zealand) की टीम 17 मई को ही साउथैंप्टन पहुंच चुकी है. 3 दिन के सख्त क्वारैंटाइन के बाद टीम पिछले 13 दिन से प्रैक्टिस कर रही है. बुधवार से उसे इंग्लैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की सीरीज खेलनी है. यह भारत के खिलाफ फाइनल में कीवी टीम (Kiwi Team) को फायदा पहुंचा सकता है.

ICC ने WTC फाइनल के लिए 23 जून को रिजर्व डे रखा:
न्यूजीलैंड और टीम इंडिया के लिए साउथैंप्टन में एक ही होटल में रुकने की व्यवस्था की गई है. 18 से 22 जून के बीच फाइनल मैच होगा. वहीं, बारिश से किसी परेशानी की वजह से 5 दिन का खेल बाधित होने पर 23 जून को रिजर्व (Reserve) के तौर पर रखा गया है. ICC चाहता है कि मैच पूरे 5 दिन का हो.

मैच ड्रॉ या टाई रहने पर दोनों टीमें संयुक्त विजेता मानी जाएंगी:
ICC का कहना है कि मैच ड्रॉ या टाई (Draw or Tie) रहने पर इसका फैसला अलग से नहीं किया जाएगा, बल्कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता माना जाएगा. रिजर्व डे का इस्तेमाल किसी कारणवश 5 रेगलुर दिन में समय खराब होने पर ही किया जाएगा. अगर 5 रेगुलर डे में ही हार, जीत, ड्रॉ या टाई का फैसला निकलता है, तो मैच रिजर्व डे में नहीं जाएगा.

रेफरी 5वें दिन करेंगे रिजर्व डे को लेकर फैसला:
ICC ने बताया कि रिजर्व डे को लेकर रेफरी (Referee) फैसला लेंगे. वे समय को लेकर किसी भी तरह की दिक्कत होने पर दोनों टीम और मीडिया को इसके बारे में जानकारी देंगे और बताएंगे कि रिजर्व डे को किस प्रकार इस्तेमाल किया जा सकता है. रिजर्व डे होगा या नहीं और कितनी देर का होगा, इसके बारे में रेफरी रेगुलर डे (Regular Day) के 5वें दिन मैच खत्म होने से एक घंटे पहले बताएंगे.

ग्रेड-1 ड्यूक बॉल से खेला जाएगा टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल:
WTC फाइनल ग्रेड-1 ड्यूक बॉल (Duke Ball) से खेला जाएगा. इंग्लैंड और वेस्टइंडीज में इसी बॉल से मैच खेला जाता है. जबकि भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका जैसे देशों में SG बॉल का इस्तेमाल होता है. ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में मैच के लिए कूकाबूरा बॉल (Kookaburra Ball) का उपयोग किया जाता है.

WTC फाइनल के बाद टीम इंडिया को 42 दिन का ब्रेक:
वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इंग्लैंड (England) के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बीच टीम इंडिया को 42 दिन का ब्रेक मिलेगा. टीम इंग्लैंड में ही रहेगी. हालांकि, इस दौरान उन्हें किसी भी प्रकार के बायो-बबल में रहने की जरूरत नहीं होगी. वे इंग्लैंड में कहीं भी ट्रैवल (Travel) कर सकेंगे.

4 अगस्त से टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट खेलेगी:
इंग्लैंड और भारत के बीच UK के नॉटिंघम में 4 अगस्त से 5 टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होगी. दूसरा टेस्ट 12 अगस्त को लॉर्ड्स में और तीसरा टेस्ट मैच 25 अगस्त को लीड्स में होगा. दूसरे और तीसरे टेस्ट के बीच 9 दिन का गैप है.

चौथा टेस्ट लंदन के ओवल मैदान पर 2 सितंबर से और 5वां और आखिरी टेस्ट मैनचेस्टर (Manchester) में 10 सितंबर से 14 सितंबर तक खेला जाएगा. इसके बाद टीम के खिलाड़ी UAE पहुंचेंगे. वहां, 18-19 सितंबर से IPL के बाकी बचे 31 मैच खेले जाने हैं.

और पढ़ें