दुबई Indian Football Team के कोच इगोर स्टिमक बोले, एक-दो गलतियों पर किसी भी खिलाड़ी को टीम से निकाला नहीं जाएगा

Indian Football Team के कोच इगोर स्टिमक बोले, एक-दो गलतियों पर किसी भी खिलाड़ी को टीम से निकाला नहीं जाएगा

Indian Football Team के कोच इगोर स्टिमक बोले, एक-दो गलतियों पर किसी भी खिलाड़ी को टीम से निकाला नहीं जाएगा

दुबईः भारतीय फुटबॉल टीम के कोच इगोर स्टिमक ने कहा है कि राष्ट्रीय स्तर पर युवा खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खुद को साबित करने के लिए पर्याप्त मौके दिए जाएंगे क्योंकि वह भविष्य के लिए एक टीम का निर्माण करने के लिए तैयार हैं. भारतीय टीम यहां ओमान और यूएई के खिलाफ फीफा मैत्री मैचों की तैयारी कर रही है. इस दौरे पर आयी टीम की औसत आयु 24 साल से कुछ ज्यादा है, जिसमें 12 खिलाड़ी 25 साल से कम है जबकि दो खिलाड़ी 19 वर्ष के है. 

फीफा अंडर -17 विश्व कप से मिली प्रतिभाओं को विकसित कर रहे हैं

स्टिमक ने तैयारी शिविर के इतर कहा है कि राष्ट्रीय टीम में 19, 20, 21, 23 साल के खिलाड़ियों को टीम में देखना शानदार है. हम फीफा अंडर -17 विश्व कप से मिली प्रतिभाओं को विकसित कर रहे हैं. उन्होंने कहा है कि हम यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि ये खिलाड़ी अगले चार वर्षों में वे सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ खेलने के लिए तैयार रहे और ऐसी टीमों के खिलाफ जीत हासिल करें. यह फुटबॉल में एक लंबी प्रक्रिया है, और इसमें समय लगता है. 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साबित करना होगा

भारतीय टीम 25 मार्च को ओमान और 29 मार्च को यूएई के खिलाफ खेलेगी. उन्होंने कहा है कि इन युवा खिलाड़ियों ने इंडियन सुपर लीग के इस सत्र में शानदार खेल दिखाया है. उन्हें अब खुद को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साबित करना होगा. मैं ऐसा करने के लिए उन्हें मौके दूंगा. उन्होंने कहा है कि हम उन्हें दवाब मुक्त रखने की कोशिश कर रहे है और उन्हें बता रहे है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डरने की कोई जरूरत नहीं है.

उम्र कोई पैमाना नहीं

किसी भी खिलाड़ी को एक या दो गलती के लिए टीम से बाहर नहीं किया जाएगा. स्टिमक ने हालांकि कहा है कि टीम में जगह बनाने के लिए आपको अच्छा करना होगा. इसमें उम्र कोई पैमाना नहीं है. अगर आप अच्छा करते है तो आप कभी उम्रदराज नहीं माने जाएंगे. 

और पढ़ें