श्रीनगर भारतीय सरकार मुझे प्रताड़ित करने और सजा देने के लिए बेतुके तरीके अपना रही: महबूबा 

भारतीय सरकार मुझे प्रताड़ित करने और सजा देने के लिए बेतुके तरीके अपना रही: महबूबा 

भारतीय सरकार मुझे प्रताड़ित करने और सजा देने के लिए बेतुके तरीके अपना रही: महबूबा 

श्रीनगर: PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर उन्हे प्रताड़ित करने और सजा देने के लिए बेतुके तरीके अपनाने के आरोप लगाए है. मुफ्ती ने अपना और अपनी मां गुलशन नजीर का हाईकोर्ट द्वारा पासपोर्ट की अपील को खारीज करने पर एक ट्वीट किया है.

महबूबा की मां की पासपोर्ट अपील भी खारिज:
पुलिस की कथित नकारात्मक रिपोर्ट के आधार पर जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की मां गुलशन नजीर का पासपोर्ट आवेदन भी अस्वीकार कर दिया गया है. नजीर पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री मंत्री और दो बार जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री रहे दिवंगत मुफ्ती मोहम्मद सईद की पत्नी हैं.

भारत सरकार मुझे कर रही है प्रताड़ित:
महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर जानकारी दी कि पासपोर्ट कार्यालय ने उनकी मां का पासपोर्ट आवेदन अस्वीकार कर दिया है. उन्होंने लिखा कि CID  (अपराध अन्वेषण विभाग) ने दावा किया है कि मेरी मां जो अपने जीवन के सातवें दशक में हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हैं. और इसलिए पासपोर्ट की अर्हता नहीं रखती हैं. भारत सरकार मुझे प्रताड़ित करने और उनकी बात नहीं मानने पर सजा देने के लिए बेतुके तरीके अपना रही है.


पासपोर्ट कार्यालय ने नजीर को बताया खारीज होने का कारण:
नजीर को लिखे पत्र में क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय ने सूचित किया है कि जम्मू-कश्मीर पुलिस की CID ने उनके पासपोर्ट आवेदन को पासपोर्ट अधिनियम की धारा-6 (2)(सी) के तहत अनुमति नहीं दी है. इस धारा के तहत प्राधिकारी अगर मानते हैं कि आवेदक देश के बाहर भारत की संप्रभुता एवं अखंडता के प्रतिकूल गतिविधियों में शामिल हो सकता है या आवेदक के विदेश जाने से देश की सुरक्षा को खतरा उत्पन्न हो सकता है तो वे पासपोर्ट खारिज कर सकते हैं.

पासपोर्ट या यात्रा दस्तावेज जारी करना लोकहित में नहीं: केंद्र सरकार
इस धारा के तहत आवेदक के देश से बाहर रहने या भारत के किसी मित्र देश के प्रतिकूल होने पर भी आवेदन को अस्वीकार किया जा सकता है. साथ ही केंद्र सरकार द्वारा यह राय व्यक्त करने पर कि पासपोर्ट या यात्रा दस्तावेज जारी करना लोकहित में नहीं है तो भी पासपोर्ट का आवेदन अस्वीकार किया जा सकता है.

खुद महबूबा की पासपोर्ट अपील को भी किया गया था अस्वीकार:
पासपोर्ट कार्यालय ने नजीर को जारी पत्र में कहा कि पासपोर्ट जारी करने का आपका आवेदन अस्वीकार किया जाता है. उल्लेखनीय है कि महबूबा का पासपोर्ट आवेदन 26 मार्च को इसी धारा के तहत अस्वीकार किया गया था और जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय ने भी इसके खिलाफ दायर उनकी याचिका खारिज कर दी थी. 

और पढ़ें