कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन को-वैक्सीन का ट्रायल, जयपुर में आज से शुरू हुआ थर्ड फेज का ट्रायल

कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन को-वैक्सीन का ट्रायल, जयपुर में आज से शुरू हुआ थर्ड फेज का ट्रायल

जयपुर : राजधानी जयपुर में कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन को-वैक्सीन का ट्रायल आज शुरु हो गया हैं. भारत बायोटेक की की ओर से बनाई इस वैक्सीन का ट्रायल जयपुर में विद्याधर नगर स्थित महाराज अग्रसेन हॉस्पीटल में किया गया. आज जयपुर में 77 वॉलंटियर्स को वैक्सीन की डोज दी गई.

कुल 1 हजार लोगों वॉलंटियर्स को लगाई जाएगी ये स्वदेशी वैक्सीन:
हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक ने नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के साथ मिलकर को-वैक्सीन तैयार की. इस वैक्सीन के दो फेज के ट्रायल हो चुके हैं. इसमें पहले फेज के परिणाम ICMR ने कुछ दिन पहले जारी किए है, जो काफी सकारात्मक रहे हैं.क्लीनिकल ट्रायल के प्रिंसीपल इंवेस्टीगेटर (PI) डॉ. मनीष जैन ने बताया कि कंपनी ने 1000 लोगों पर ये ट्रायल करने के लिए कहा हैं. ट्रायल को लेकर लोगों में भय कम हो गया हैं. क्योंकि जिस तरह फेज फस्ट और फेज सैकेण्ड के ट्रायल हो गए और उसके बाद जो नतीजे आए हैं, वह संतोषजनक हैं. 

टीके वाली जगह दर्द की थोड़ी शिकायत:
क्लीनिकल ट्रायल के प्रिंसीपल इंवेस्टीगेटर (PI) डॉ. मनीष जैन के मुताबिक किसी भी वैक्सीन का जब पहले फेज का ट्रायल होता है, तब वॉलंटियर्स को कन्वेंस करने में काफी वक्त लगता हैं. लेकिन फेज सैकेण्ड और थर्ड के ट्रायल के लिए इतना कन्वेंस नहीं करना पड़ता. डॉ. जैन ने बताया कि जिन वॉलंटियर्स को डोज दी जा रही हैं, उन पर लगातार टेलीफोन पर मॉनिटरिंग की जाएगी. हालांकि वॉलंटियर्स को पहले बता दिया है कि हल्का बुखार आना या टीके वाली जगह दर्द की थोड़ी शिकायत रह सकती हैं. लेकिन फिर भी कोई दिक्कत होगी, तो उसके लिए हमारी टीम तैयार हैं.

जल्द ही राजस्थान में होगी वैक्सीन उपलब्ध:
इससे पहले जयपुर में एक अन्य कंपनी की बनाई वैक्‍सीन का ट्रायल हुआ था. कंपनी का ये ट्रायल दूसरे फेज का था, जिसके परिणाम अभी आने हैं. कंपनियों के इस तरह के ट्रायल से ऐसे में उम्मीद यही है कि कोरोना पर ब्रेक लगाने के लिए जल्द ही राजस्थान में वैक्सीन उपलब्ध होगी.

और पढ़ें