बन्युवांगी 53 सदस्यों के जिंदा बचे होने की उम्मीद खत्म, इंडोनेशियाई नौसेना ने की अपनी पनडुब्बी के डूबने की घोषणा

53 सदस्यों के जिंदा बचे होने की उम्मीद खत्म, इंडोनेशियाई नौसेना ने की अपनी पनडुब्बी के डूबने की घोषणा

53 सदस्यों के जिंदा बचे होने की उम्मीद खत्म, इंडोनेशियाई नौसेना ने की अपनी पनडुब्बी के डूबने की घोषणा

बन्युवांगी (इंडोनेशिया): इंडोनेशिया की नौसेना ने अपनी लापता पनडुब्बी के डूबने की घोषणा की है जिससे उसमें सवार चालक दल के 53 सदस्यों में से किसी के जिंदा बचे होने की उम्मीद खत्म हो गई है. सेना प्रमुख हादी जाहजंतो ने बताया कि बाली द्वीप के जिस तट पर बुधवार को आखिरी बार पनडुब्बी देखी गई थी, उस स्थान के समीप तेल के साथ-साथ मलबा मिलना इस बात का स्पष्ट सबूत है कि केआरआई नंग्गाला 402 डूब गई.

अगर यह विस्फोट होता तो उसके टुकड़े पाए जाते:

इंडोनेशियाई अधिकारियों ने पहले पनडुब्बी के लापता होने की सूचना दी थी. नौसेना के चीफ ऑफ स्टाफ एडमिरल युदो मारगोनो ने बाली में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अगर यह विस्फोट होता तो उसके टुकड़े पाए जाते. अगर विस्फोट होता तो सोनार में इसकी आवाज सुनी जाती.

पनडुब्बी 600-700 मीटर की गहराई तक डूब गई:

नौसेना ने पहले कहा था कि उसे लगता है कि पनडुब्बी 600-700 मीटर की गहराई तक डूब गई. मारगोनो ने कहा कि प्रमाणिक सबूत मिलने से अब हमें लगता है कि पनडुब्बी डूब गई. उन्होंने बताया कि अब तक कोई शव नहीं मिला है.(भाषा)

और पढ़ें