पाकिस्तानी चाल पर खूफिया एजेंसी ने सभी विभागों को किया अलर्ट, पाक एजेंटो से सावधान रहें सरकारी विभाग

पाकिस्तानी चाल पर खूफिया एजेंसी ने सभी विभागों को किया अलर्ट, पाक एजेंटो से सावधान रहें सरकारी विभाग

जैसलमेर: पाकिस्तान की चाल को लेकर प्रदेश चौकन्ना हो गया है. पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी के लोगों की ओर से फोन व मेल के माध्यम से देश की सुरक्षा से संबंधित जानकारी एकत्र करने के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश में एडवायजरी जारी की गई है. सभी सरकारी अधिकारियों, सुरक्षा से जुड़े लोगों व बड़े प्रतिष्ठानों के लिए जारी की गई एडवायजरी में सेना व सुरक्षा संबंधी किसी भी तरह की जानकारी फोन पर नहीं देने के निर्देश दिए गए हैं. इस तरह का कोई भी प्रयास सामने आने पर स्थानीय पुलिस थाने के साथ इंटेलिजेंस को भी सूचना देनी होगी. इंटेलिजेंस तकनीकी आधार पर मामले की जांच करेगी.

खूंखार वन्यजीवों ने सीखा लॉकउाउन में संयम का पाठ..! झालाना में पानी के घाट पर साकार हुआ कलयुग में 'राम राज' 

पाकिस्तान की तरफ से आने वाले फोन का नंबर भारतीय दिखता है: 
पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की इस तरह की करतूत के प्रदेश में हर वर्ष औसतन चार मामले सामने आ रहे हैं. इंटेलिजेंस की ओर से जारी एडवायजरी में कहा गया है कि पाकिस्तानी खुफिया कार्मिकों की ओर से स्वयं को भारतीय रक्षा, खुफिया व केन्द्रीय सशस्त्र बल का अधिकारी बताकर फर्जी नंबरों का उपयोग करते हुए संवेदनशील एवं सामरिक महत्व की सूचना को एकत्र करने के लिए विभिन्न रक्षा व केन्द्रीय सशस्त्र बलों व संवेदनशील संगठनों को कॉल किए जा रहे हैं. जानकारी प्राप्त करने के लिए दोस्ताना व्यवहार किया जाता है. खास बात यह है कि कॉल के दौरान पाकिस्तान की तरफ से आने वाले फोन का नंबर भारतीय दिखता है. सभी सरकारी कार्यालयों, रेलवे स्टेशन, डाकघर, राजस्व विभाग, पुलिस थानों के साथ स्थानीय स्तर के कार्मिक तहसीलदार, नायब तहसीलदार, पटवारी, ग्राम सेवक सहित संवेदनशील कर्तव्य से जुड़े सभी सरकारी कार्मिकों को सतर्क रहने को कहा गया है. इसके अलावा क्षेत्र के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, तेल व गैस आदि प्रतिष्ठानों के प्रबंधकों से सम्पर्क करने को कहा गया है, जिससे वे अपने कार्मिकों को भी सतर्क कर सके. 

देश की पहली कोरोना वैक्सीन 15 अगस्त को हो सकती है लॉन्च  

सूचनाएं बगैर पुष्टि किए नहीं मुहैया करवाने की सलाह: 
राजस्थान के अतिरिक्त महानिदेशक इंटेलीजेंस ने राज्य के सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षक एवं जिला पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखकर पाकिस्तान की तरफ से सीमा पार से आने वाले कॉल के संबंध में एहतियात बरतने एवं किसी प्रकार की सूचनाएं बगैर पुष्टि किए नहीं मुहैया करवाने की सलाह दी है. सूत्रों के अनुसान वर्तमान परिस्थितियों में देश की सीमाओं पर चल रहे हालातों के मुद्वेनजर पाकिस्तानी खुफिया ऐजेन्सी आई.एस.आई खासकर राजस्थान के सीमावर्ती ईलाकों में देश की सामरिक एवं गोपनीय सूचनाएं जुटाने के लिए लगातार जोरदार प्रयास किए जा रहा है. इसके तहतं सीमा पार से आई.एस.आई द्वारा किए जा रहे फोन कॉल, सोशल मीडिया, हनी ट्रैप एवं अन्य तरीकों के जरिए सूचनाएं जुटाने को अत्यंत गंभीर मानते हुए पत्र लिखने के दिशानिर्देश दिए, ताकि सीमा पार से आने वाले कॉल के संबंध में कोई सामरिक सूचनाएं सीमा पार न जा सके. वर्तमान में सीमाओं पर तना-तनी का माहौल हैं ऐसे में सीमा पार पाकिस्तान आई.एस.आई द्वारा सीमा पार से फेक नाम से फोन कॉल कर देश की गोपनीय सामरिक सूचनाएं जुटाने की भरसक कोशिश की जा रही है. 
 

और पढ़ें