इंटर ग्लोबल एविएशन के शेयर में गिरावट

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/05/05 10:23

नई दिल्ली। इंटर ग्लोबल एविएशन यानी इंडिगो एयरलाइंस का मालिकाना अधिकार रखने वाली कंपनी के लिए के गुरुवार का दिन आर्थिक दृष्टिकोण से कुछ हद तक निराशाजनक रहा। कंपनी के शेयर 18% टूटे साल 2015 में कंपनी शेयर बाजार में लिस्टेड हुई थी जिसके बाद 1 दिन में आइए दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है मार्च क्वार्टर में कंपनी के मुनाफे और डिविडेंड में कमी दर्ज की गई थी जिसके बाद निवेशकों में शेयर को बेचकर बाहर निकलने की होड़ मच गई है। 

बता दें कि भारत में सबसे बड़े एयरलाइंस के तौर पर जाने जाने वाली इंडिगो एयरलाइंस का मुनाफा मार्च तिमाही में 65 से 70% के बीच गिरावट के साथ दर्ज किया गया है, साथ ही कंपनी में डिविडेंड की राशि भी घटा दी है। भारत में कंपनी के प्रदर्शन से शेयरधारक  निराश नजर आए। कंपनी मामलों की जानकारी रखने वालों के मुताबिक कहीं ना कहीं कंपनी के प्रेसिडेंट आदित्य घोष के इस्तीफे के ऐलान का मामला भी हो सकता है, जिसको लेकर जांच शुरू कर दी गई है।

गौरतलब है कि आदित्य घोष पिछले तकरीबन 10 सालों से Indigo में काम कर रहे थे, हालांकि आपको यह भी बताना जरूरी है कि पिछले कुछ दिनों में एविएशन सेक्टर में सबसे मजबूती Indigo के शेयरों में ही दर्ज की गई थी और कुछ दिनों पहले तक इसके शेयर 25 से 28 परसेंट तक बढ़े थे। यानी कुल मिलाकर एविएशन सेक्टर में बड़ा रसूख रखने वाले Indigo के सामने अन्य चुनौतियों के साथ साथ एक और चुनौती खड़ी हो गई गयी है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ का मथुरा दौरा, योगी ने किए बांके बिहारी जी के दर्शन

वीआरएस से पहले टिकट गारंटी ढूंढ़ रहे हैं ब्यूरोक्रेट
दिल्ली में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक
कांग्रेस कल जारी करेगी घोषणा पत्र, आज दिल्ली में अहम बैठक
11 बजे की सुपर फ़ास्ट खबरें | INDIA 360
जैश के 3 आतंकी पकड़े, आतंकियों के पास से हथियार बरामद
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर रोडवेज बस में लगी आग, 4 यात्रियों की मौत
क्या बदल गया है अमेठी का मूड ? राहुल गांधी के दो सीटों से लड़ने की वजह क्या