जयपुर राजस्थान का मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम! कपिल सिब्बल का दिलचस्प ट्वीट, तो ओम माथुर ने री-ट्वीट कर कसा तंज

राजस्थान का मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम! कपिल सिब्बल का दिलचस्प ट्वीट, तो ओम माथुर ने री-ट्वीट कर कसा तंज

जयपुर: राजस्थान में विधायकों के खरीद फरोख्त प्रकरण तूल पकडता जा रहा है. वहीं राजस्थान के मौजूदा राजनीति घटनाक्रम पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल का दिलचस्प ट्वीट सामने आया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि हमारी पार्टी के लिए चिंताजनक है. क्या घोड़ों के अस्तबल से उछलने के बाद ही हम जागेंगे ? और कुछ देर बाद ही सिब्बल के ट्वीट पर बीजेपी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर ने प्रतिक्रिया दी. उन्होंने री-ट्वीट करते हुए तंज कसा है. उन्होंने कहा कि जहां हरियाली होगी,वहीं कुलांचे भरने का मज़ा है,सूखे में खुर टूट जाते है. 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: मुख्यमंत्री आवास पर बढ़ी हलचल, करीब 20 मंत्री-विधायक पहुंचे सीएम आवास

अंतर्कलह पहले दिन से ही हो गई थी शुरू:
बीजेपी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर ने कहा कि सरकार बनने के साथ ही सत्ताधारी पार्टी में  कलह शुरू हो गई थी. कांग्रेस को बीजेपी पर आरोप मढ़ने से पहले अपने घर में झांकना चाहिए. जिसने पांच साल मेहनत की उसे मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया. जो दिल्ली में थे उन्हें सीएम बना दिया गया. उसी दिन से साफ हो गया कि मेहनत किसी और ने की और फल कोई और खा रहा है. इनकी अंतर्कलह पहले दिन से ही शुरू हो गई थी. अभी के सियासी हालात के लिए कांग्रेस को बीजेपी को दोष नहीं देना चाहिए. 

करीब 20 मंत्री-विधायक पहुंचे मुख्यमंत्री आवास:
मुख्यमंत्री आवास पर विधायकों के पहुंचने का सिलसिला जारी है. सीएम गहलोत से मिलने करीब 20 विधायक पहुंचे. इससे पहले शनिवार को सीएम गहलोत जब कैबिनेट मीटिंग कर रहे थे तो, डिप्टी सीएम सचिन पायलट इस बैठक में शामिल नहीं हुए. इस वक्त वो दिल्ली में थे.आपको बता दें कि करीब 20 मंत्री-विधायक मुख्यमंत्री आवास पहुंचे. जिनमें शांति धारीवाल, गोविंद डोटासरा, महेश जोशी, सालेह मोहम्मद, टीकाराम जूली, भंवर सिंह भाटी, भजन लाल जाटव, प्रमोद जैन भया,हरीश चौधरी, महेंद्र चौधरी,बाबूलाल नागर, रामलाल जाट, जोगिंदर अवाना,राजेंद्र गुढ़ा संदीप यादव, लखन मीणा, रफीक खान, जोहरी लाल मीणा, रघुवीर मीना,शकुंतला रावत, मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे.इससे पहले इंटेलिजेंस के अफसर मुख्यमंत्री अवासर पर पहुंचे. मुख्यमंत्री गहलोत को प्रदेश की कानून व्यवस्था की रिपोर्ट देंगे. 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: सचिन पायलट को मिल चुका SOG का नोटिस, तब से ही खफा हैं पायलट !

और पढ़ें