Live News »

'दिल के दर्द' पर राजधानी में होगा महामंथन !
'दिल के दर्द' पर राजधानी में होगा महामंथन !

जयपुर। राजधानी जयपुर में अगले तीन दिन देश-विदेश के कॉर्डियोलॉजिस्ट "दिल के दर्द" को कम करने पर मंथन करेंगे। मौका होगा इंटरनेशनल सोसायटी फोर हार्ट रिसर्च (आईएसएचआर) की भारतीय शाखा व आरयूएचएस के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित की जा रही इंटरनेशनल कांफ्रेंस का, जिसकी शुरूआत कल से एक निजी होटल में होगी। कांफ्रेंस का विधिवत उद्घाटन 16 फरवरी को चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा करेंगे। 

कांफ्रेंस के आयोजक एसएमएस मेडिकल कॉलेज के एडिशनल प्रिंसीपल व सीनियर कार्डियक प्रोफेसर डॉ.एस.एम. शर्मा ने बताया कि कांफ्रेंस में 500 से ज्यादा देश-विदेश के प्रतिनिधि शामिल होंगे। कांफ्रेंस में लाइफ स्टाइल, बीपी, सुगर से होने वाली हार्ट डिजीज के साथ साथ हार्ट की विभिन्न जटिलताओं व उनके नवीनतम उपचार पर चर्चा होगी। आयोजन सचिव डॉ. सुनील कुमार जैन ने बताया कि कांफ्रेंस में ह्रदय रोगों से संबंधित नए शोधों पर पत्रवाचन, स्ट्रक्लचरल हार्ट डिजीज, डायबिटीज से हार्ट डिजीज रिस्क, हार्ट फैलियर, कोलेस्ट्रोल रिस्क, रूमेटिक हार्ट डिजीज, रेडिएशन से नुकसान, सीएडी, आरएचडी, अरद्मिया आदि पर व्याख्यान दिए जाएंगे। 

नए हार्ट स्टेंट, हार्ट डिजीज में आई नई डिवाइस आदि की भी जानकारी दी जाएगी। वैज्ञानिक सत्र के डायरेक्टर डॉ. रविन्द्र सिंह राव ने बताया कि, कांफ्रेंस का फोकस बिना ओपन सर्जरी के कैथ लेब में ही जटिल ह्रदय रोगों के इलाज की नई तकनीकों पर होगा। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in